1. home Hindi News
  2. national
  3. kisan andolan news today reliance said in a statement no contract forming rumors will also be responded to kisan andolan reliance pkj

Kisan Andolan : रिलायंस ने जारी किया बयान कहा, नहीं करेंगे कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग,अफवाहों को लेकर भी दिया जवाब

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मुकेश अंबानी
मुकेश अंबानी
फाइल फोटो

किसान आंदोलन में रिलायंस को लेकर भी खूब चर्चा रही. किसान आंदोलन में कई बार रिलायंस का नाम सुनने को मिला. विरोध प्रदर्शन नाम से होता हुआ रिलायंस के कई आउटलेट तक पहुंचा. विरोध प्रदर्शन के कारण कई जगहों पर रिलायंस को नुकसान हुआ, कई जगहों पर तोड़फोन की गयी.

कई मोबाइल टोवार तोड़े गये अब कंपनी ने एक बयान जारी कर उन सारे सवालों का जवाब देने की कोशिश की है जो किसानों के मन में उठ रहे हैं. कंपनी ने इसके अलावा एक याचिका दायर की है जिसमें पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में उपद्वरियों पर सरकार से हस्तक्षेप करने की मांग की है.

कंपनी ने कहा- किसान के हित के लिए काम करते हैं

पंजाब और हरियाणा में कम्युनिकेशन इन्फ्रास्ट्रक्चर, सेल्स और सर्विसेज आउटलेट्स में तोड़फोड़ की गयी थी. किसान आंदोलन में किसानों ने कई बार इसका जिक्र किया है कि नये कृषि बिल के माध्यम से सरकार रिलायंस और बड़ी कंपनियों का फायदा पहुंचाना चाहती है. कंपनी ने यह भी कहा कि हम किसानों की बेहतरी के लिए काम कर रहे हैं.

हम नहीं करेंगे कॉरपोरेट या कॉन्ट्रैक्ट फार्मिग, भविष्य में कोई योजना नहीं

रिलायंस ने कहा है कि हमारी किसी सहायक कंपनी ने पहले कोई भी कॉरपोरेट' या 'कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग' नहीं की है. हमारी भविष्य में भी ऐसी कोई योजना नहीं है. हमने कभी पंजाब- हरियाणा या देश में कहीं भी यह किया है. हमारी खुदरा बाजार की एक कंपनी है इसमें हमारे जितने भी उत्पाद आते हैं वह सभी सप्लायर्स औऱ मेन्युफैक्चर्स के जरिये आते हैं. कंपनी कभी भी सीधे किसानों से अनाज नहीं खरीदती है. कंपनी यह कभी नहीं चाहेगी कि किसानों से कम कीमत पर उनके सप्लायर्स सामान खरीदें .

यह किसानों का देश है

अपने बयान में कपनी ने किसानों का सम्मान किया है उनहोंने कहा, 'ये किसान देश के 1.3 अरब आबादी के 'अन्नदाता' हैं. रिलायंस और उसकी सहायक कंपनी किसानों के सशक्तीकरण के लिए प्र​तिबद्ध है. कंपनी भारतीय किसानों के साथ समृ​द्धि, समावेशी विकास और न्यू इंडिया के लिए मजबूत भागीदारी में विश्वास करती है.

कम कीमत पर किसानों से माल ना खरीदें

कंपनी ने भरोसा दिया है कि वह अपने सप्लायर्स से यह कहेगी वह एमसएसपी के नियमों का पालन करें और कम कीमत पर किसानों से माल ना खरीदें . कंपनी ने कहा आधुनिक तकीन और स्पलाई चेन को मजबूत करके ही कंपनी संगठित रिटेल व्यापार को खड़ा करने में सफल रही है. इसमें किसान और आम ग्राहक दोनों का फायदा है.

जियो लाइफलाइन की तरह काम करता है

जियो के संबंध में भी इसमें जिक्र करते हुए कंपनी ने कहा, आज 4 जी डाटा गांव - गांव तक पहुंचा है. दुनिया के मुकाबले भारत में इंटरनेट में कम खर्च होता है. जियो के 40 करोड़ ग्राहक 1.40 करोड़ सब्सक्राइबर्स पंजाब में और 94 लाख हरियाणा में हैं. दोनों राज्यों में कुल सब्सक्राबर्स में यह हिस्सेदारी क्रमश: 36 और 34 फीसदी है.जियो का नेटवर्क एक लाइफलाइन की तरह काम करता है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें