1. home Home
  2. national
  3. himachal pradesh weather forecast news updates five died and 5 to 6 people missing after rain land slide in kangra rescue operation going on smb

हिमालच प्रदेश के कांगड़ा में बारिश से भारी तबाही, 4 और शव बरामद, मृतकों के परिजनों का मिलेगा 4 लाख मुआवजा

Himachal Pradesh News In Hindi हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में बारिश से भारी तबाही हुई है. कांगड़ा में भारी बारिश के कारण गांव और घरों को क्षति पहुंची है. वहीं, बुधवार को 4 और शव बरामद हुए. इन सबके बीच, बचाव अभियान जारी है. न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, गांव के पांच से सात घर पूरी तरह से बर्बाद हो गए हैं. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि हाउसिंग स्कीम के अंतर्गत पीड़ितों को घर दिए जाएंगे. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा मृतकों के परिजनों को चार लाख रुपये मुआवजा दिया जाएगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर
हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर
एएनआई

Himachal Pradesh News In Hindi हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में बारिश से भारी तबाही हुई है. कांगड़ा में भारी बारिश के कारण गांव और घरों को क्षति पहुंची है. वहीं, बुधवार को 4 और शव बरामद हुए. इन सबके बीच, बचाव अभियान जारी है. न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, गांव के पांच से सात घर पूरी तरह से बर्बाद हो गए हैं. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि हाउसिंग स्कीम के अंतर्गत पीड़ितों को घर दिए जाएंगे. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा मृतकों के परिजनों को चार लाख रुपये मुआवजा दिया जाएगा.

कांगड़ा के जिला आयुक्त निपुण जिंदल ने जानकारी देते हुए बताया कि बोह घाटी से कल रात तक 4 शव बरामद किए गए है. उन्होंने बताया कि अब तक कुल 5 शव बरामद किए जा चुके हैं. जबकि, 5-6 लोगों के अभी भी लापता होने की सूचना है. निपुण जिंदल ने बताया कि बचाव अभियान आज सुबह फिर शुरू किया गया है. बता दें कि हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में एक सुदूरवर्ती गांव में अचानक आई बाढ़ के कारण हुए भीषण भूस्खलन से कई घर और दुकानें क्षतिग्रस्त हो गईं. राहत-बचाव करने वाली एजेंसियों को शंका है कि लापता लोग बड़े इलाके में फैले कीचड़ के ढेर में फंसे हो सकते हैं या फिर वह बाढ़ के पानी में बह गए होंगे.

इन सबके बीच, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कांगड़ा जिले की बोह घाटी में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया और बाद में प्रभावित परिवारों से मुलाकात की. उन्होंने जिला प्रशासन को प्रभावित क्षेत्रों में राहत एवं पुनर्वास कार्य युद्ध स्तर पर शुरू करने के निर्देश दिए. बता दें कि प्रदेश भर में बुधवार और वीरवार को भारी बारिश का येलो अलर्ट है. वहीं, 17 जुलाई को शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और चंबा में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट है. पूरे प्रदेश में 19 जुलाई तक मौसम खराब बना रहने का पूर्वानुमान है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें