24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Delhi Water Crisis: हिमाचल ने दिल्ली को पानी देने से किया इनकार, कोर्ट ने कहा- यमुना जल बंटवारे का मुद्दा जटिल

Delhi Water Crisis: भीषण गर्मी के बीच दिल्ली में पानी को लेकर हाहाकार की स्थिति बरकरार है. हरियाणा के साथ जल विवाद के बाद दिल्ली को हिमाचल से भी झटका लगा है.

Delhi Water Crisis: हिमाचल प्रदेश ने दिल्ली को पानी देने से इनकार कर दिया है. हिमाचल ने सुप्रीम कोर्ट में साफ कह दिया कि उसके पास अतिरिक्त पानी नहीं है. जितना था, वह दिल्ली को दे चुका है. हिमाचल के बयान के बाद कोर्ट ने दिल्ली सरकार को जल आपूर्ति के लिए ‘अपर यमुना रिवर बोर्ड’ (यूवाईआरबी) का दरवाजा खटखटाने का निर्देश दिया. जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा और जस्टिस प्रसन्ना बी वराले की अवकाशकालीन पीठ ने दिल्ली सरकार को शाम पांच बजे तक ‘अपर यमुना रिवर बोर्ड’ को मानवीय आधार पर पानी की आपूर्ति के लिए आवेदन प्रस्तुत करने का निर्देश दिया.

हिमाचल ने कोर्ट से कहा, उसके पास केवल 136 क्यूसेक अतिरिक्त पानी

हिमाचल प्रदेश सरकार ने पिछला बयान वापस लेते हुए उच्चतम न्यायालय से कहा कि उसके पास 136 क्यूसेक अतिरिक्त पानी नहीं है.

कोर्ट ने कहा, यमुना जल बंटवारे का मुद्दा जटिल

कोर्ट ने कहा कि राज्यों के बीच यमुना जल बंटवारे का मुद्दा जटिल है और अदालत के पास अंतरिम आधार पर इसका फैसला करने की तकनीकी विशेषज्ञता नहीं है. पीठ ने कहा, इस मुद्दे को 1994 के समझौता ज्ञापन में पक्षों की सहमति से गठित निकाय के विचारार्थ छोड़ दिया जाना चाहिए. पीठ ने कहा, चूंकि यूवाईआरबी पहले ही दिल्ली को मानवीय आधार पर पानी की आपूर्ति के लिए आवेदन दाखिल करने का निर्देश दे चुकी है इसलिए अगर आवेदन तैयार नहीं किया गया है तो आज शाम पांच बजे तक तैयार कर लें और बोर्ड शुक्रवार को बैठक बुलाए और दिल्ली सरकार के जलापूर्ति आवेदन पर जल्द से जल्द निर्णय ले. सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार द्वारा दाखिल एक याचिका पर सुनवाई कर रही थी. याचिका में हिमाचल प्रदेश द्वारा उपलब्ध कराए गए अतिरिक्त पानी को छोड़ने के लिए हरियाणा को निर्देश देने का अनुरोध किया गया था ताकि राष्ट्रीय राजधानी में जल संकट कम हो सके.

मुख्यमंत्री केजरीवाल से मिलीं आतिशी

दिल्ली की जल मंत्री अतिशी ने कहा, आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मिलने आई थी, उन्होंने सबसे पहले बिजली और पानी के बारे में पूछा. उन्होंने कहा है कि जो भी कदम उठाने की ज़रूरत है, वह उठाए जाएं. विधायकों को अपने इलाकों में जाकर समस्या का समाधान करने की हिदायत दी है.

टैंकर माफिया पर कार्रवाई का आदेश

दिल्ली में जल संकट के बीच टैंकर माफिया का आतंक भी बढ़ गया है. हालांकि टैंकर माफिया की खबर मिलने के बाद दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्शेना ने एक्शन लेते हुए कार्रवाई का निर्देश दे दिया है. टैंकर माफिया के मुद्दे पर दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने दिल्ली पुलिस आयुक्त को निर्देश दिया कि मुनक नहर पर कड़ी निगरानी रखी जाए ताकि टैंकर माफिया द्वारा पानी की चोरी को रोका जा सके. उन्होंने कहा, ऐसे लोगों को पकड़ा जाए जो अतीत में ऐसी अवैध गतिविधियों में शामिल रहे हैं और ऐसे माफिया तत्वों के खिलाफ आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जाए.

Also Read: NEET 2024 : एनटीए ने रद्द किया 1563 बच्चों का स्कोरकार्ड, दोबारा ली जाएगी परीक्षा, लेकिन काउंसलिंग पर रोक नहीं

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें