1. home Hindi News
  2. national
  3. extended helping hand in these countries including britain towards india facing corona crisis oxygen concentration will come from abroad aml

कोरोना संकट से जूझते भारत की ओर ब्रिटेन सहित इन देशों में बढ़ाया मदद का हाथ, विदेशों से आयेगा ऑक्सीजन कंसंट्रेशन

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मदद के रूप में ब्रिटेन से भारत भेजे जा रहे मेडिकल उपकरण.
मदद के रूप में ब्रिटेन से भारत भेजे जा रहे मेडिकल उपकरण.
ANI

नयी दिल्ली : कोरोनावायरस संक्रमण (Corona Crisis) से बुरी तरह प्रभावित भारत की ओर अब ब्रिटेन (UK), अमेरिका (America) सहित कई देशों ने मदद का हाथ बढ़ाया है. सिंगापुर जहां पिछले कई दिनों से भारत को मदद पहुंचा रहा है, वहीं ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) और अमेरिका ने भी मदद का भरोसा दिया है. यूरोपीयन यूनियन की ओर से भी मदद की पेशकश हुई है. ब्रिटेन ने कहा कि भारत की मदद के लिए 600 से अधिक चिकित्सा उपकरणों के साथ-साथ ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और वेंटिलेटर दिल्ली भेजे जा रहे हैं. यह मंगलवार तक भारत पहुंच जायेगा.

ब्रिटेन इसी सप्ताह इन उपकरणों की दूसरी खेप भी भारत भेजेगा. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई के इस कठिन समय में हम मित्र एवं साझेदार की तरह भारत के साथ खड़े हैं. हम भारत सरकार से लगातार संपर्क में हैं. यूरोपीय कमिशन की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयन ने भी कहा है कि भारत के साथ लगातार संपर्क में है.

अमेरिका भी भारत की मदद को है तैयार

कोविड-19 महामारी को लेकर बाइडन प्रशासन के शीर्ष स्वास्थ्य सलाहकार ने कहा कि अमेरिका सक्रियता के साथ भारत को मदद देने के रास्ते तलाश रहा है, जहां कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में भारी वृद्धि देखी जा रही है. डॉ एंथनी फाउची ने कहा कि कई कदमों पर विचार किया जा रहा है, जिनमें ऑक्सीजन भेजना, कोविड-19 जांच में सहयोग देना और दवाएं तथा व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण भेजना शामिल है.

अगले दो दिन में अमेरिका से 600 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर लायेगी एअर इंडिया

एअर इंडिया आगामी दो दिन में अमेरिका और भारत के बीच अपनी दो उड़ानों से करीब 600 ऑक्सीजन संकेंद्रक लेकर आयेगी. विमानन उद्योग से जुड़े सूत्रों ने रविवार को बताया कि इन ऑक्सीजन कंसंट्रेटर का ऑर्डर निजी प्रतिष्ठानों ने दिया है. सूत्रों ने पीटीआई भाषा ने बताया कि एअर इंडिया की आगामी सप्ताह में निजी प्रतिष्ठानों के लिए करीब 10,000 ऑक्सीजन संकेंद्रक लाने की योजना है.

सऊदी अरब से भारत लाई जा रही 80 मीट्रिक टन ऑक्सीजन

भारत में हो रही ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए सऊदी अरब से 80 मीट्रिक टन जीवन रक्षक गैस लायी जा रही है. ऑक्सीजन को भेजने का काम अडानी समूह और लिंडे कंपनी के सहयोग से हो रहा है. रियाद स्थित भारतीय मिशन ने ट्वीट किया कि भारतीय दूतावास को अति आवश्यक 80 मीट्रिक टन तरल ऑक्सीजन भेजने के मामले में अडानी समूह और एम/एस लिंडे के साथ साझेदारी करने पर गर्व है. हम हृदय से सऊदी अरब के स्वास्थ्य मंत्रालय को सभी तरह की मदद, समर्थन और सहयोग के लिए धन्यवाद देते हैं.

अडानी समूह के अध्यक्ष गौतम अडानी ने ट्वीट किया कि धन्यवाद भारतीय दूतावास, शब्दों से अधिक काम बोलता है. हम दुनिया भर से ऑक्सीजन लाने के आपात मिशन पर हैं. यह जहाज से भेजी जा रही पहली खेप है जिसमें चार आईएसओ क्रायोजेनिक टैंक में 80 टन तरल ऑक्सीजन दम्मान से मुंद्रा (गुजरात) के रास्ते में है.

Posted by: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें