1. home Hindi News
  2. national
  3. e commerce company amazon apologise and admits some drivers have to pee in bottles us lawmakers mark pocan rkt

Amazon ने अब माना उसके कर्मचारियों को बोतल में करना पड़ता था पेशाब, मांगी माफी, सोशल मीडिया पर खूब हुई थी ट्रोलिंग

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Amazon ने मांगी माफी
Amazon ने मांगी माफी
amazon

दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन (Amazon) एक बार फिर विवादों में फंस गई है. अपने उपर लगे कर्मचारियों का शोषण के आरोपों पर ई-कॉमर्स कंपनी ने माफी मांगी है. बता दें कि कुछ दिनों पर अमेजन पर आरोप लगे थें कि कर्मचारियों पर काम का इतना बोझ है कि उनके पास टॉयलेट जाने का भी समय नहीं है और वो पेशाब करने के लिए प्लास्टिक के बोतल का इस्तेमाल कर रहे हैं. इसके बाद से ही सोशल मीडिया पर कंपनी को ट्रोल किया गया था वहीं आज उसने माफी मांगी है.

अमेरिकी सांसद ने लगाए थें आरोप 

बता दें कि कुछ दिनों पहले अमेरिकी सांसद मार्क पोकन (Mark Pocan) ने ट्वीट कर दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी सपर बड़े आरोप लगाये थें. उहोंने अपने ट्वीट में लिखा था कि अपने कर्मचारियों को 15 डॉलर प्रति घंटे देने से आप प्रोग्रेसिव वर्क प्लेस नहीं बन जाते हैं. खासतौर पर तब जब आपके कर्मचारियों को काम के बोझ के चलते बोतलो में पेशाब करना पड़ता है.' अमेरिकी सांसद द्वारा लगाये गये इन आरोपों का अमेजन ने तुरंत जवाब भी दिया था.

Amazon ने अब मांगी माफी 

अमेज़ॅन ने अपने अधिकारिक अकांउट से ट्वीट करते हुए लिखा था 'आप 'बोतलों में पेशाब वाली बात' में विश्वास नहीं करते हैं, है ना? यदि यह सच होता तो आज कोई भी हमारे लिए काम नहीं करता. लेकिन कई समाचार चैनलों ने कई अमेज़ॅन कर्मचारियों का हवाला देते हुए कहा था कि उनके पास वास्तव में, प्लास्टिक की बोतलों का उपयोग करने के अलावा कोई रास्ता नहीं था. वहीं अमेज़न ने शुक्रवार देर रात एक बयान में कहा, "हम सांसद मार्क पोकन से माफी मांगते हैं.

अमेजन ने अपने बयान में कहा कि हम जानते हैं कि ट्रैफ़िक या कभी-कभी ग्रामीण मार्गों के कारण टॉयलेट ढूंढने में ड्राइवरों को परेशानी हो सकती है और ऐसा हो सकता है, और यह विशेष रूप से कोरोना काल के दौरान हुआ है जब कई सार्वजनिक टॉयलेट बंद हो गए हैं. वहीं अमेजन के जवाब पर सांसद मार्क पोकन ने लिखा कि यह मेरे बारे में नहीं है, यह आपके कर्मचारियों के बारें में है. जिनके साथ आप पर्याप्त सम्मान के साथ व्यवहार नहीं करते हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें