1. home Hindi News
  2. national
  3. delta plus variant high alert in kerala three villages report cases of covid 19 delta plus variant smb

केरल में बढ़ रहा डेल्टा प्लस वेरिएंट का खौफ, तीन गांवों में केस मिलने के बाद हाई अलर्ट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
केरल में डेल्टा प्लस वेरिएंट का खौफ
केरल में डेल्टा प्लस वेरिएंट का खौफ
Twitter

Delta Plus Variant Kerala On High Alert कोरोना वायरस के एक और खतरनाक वेरिएंट डेल्टा प्लस के मामले सामने आने के बाद अब केरल में हाई अलर्ट कर दिया गया है. केरल के तीन गांवों में डेल्टा प्लस वेरिएंट के संक्रमण के मामले सामने आए है. बता दें कि खतरनाक वेरिएंट डेल्टा प्लस से संक्रमित मरीज महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में भी पाए गए हैं. डेल्टा प्लस वेरिएंट दूसरी लहर के कोरोना वायरस से भी अधिक खतरनाक बताया जाता है.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, केरल में कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वेरिएंट के कम से कम तीन मामले प्रकाश में आए है. जानकारी के मुताबिक, राज्य के पलक्कड़ और पतनमतिट्टा जिले से जमा किए गए नमूनों में से कम से कम तीन नमूनों में डेल्टा प्लस वेरिएंट पाया गया है. पलक्कड़ में दो महिलाओं में नए वेरिएंट मिले है. दोनों महिलाओं की जांच रिपोर्ट बाद में निगेटिव पाए गए. पलक्कड़ डीएमओ केपी रीठा ने बताया कि इन मामलों के सामने आने के बाद पूरे इलाके में जांच अभियान गया.

वहीं, पतनमतिट्टा में चार साल के बच्चे में नया वेरिएंट पाया गया. हालांकि, अब उसकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी है. प्रशासन ने पूरे इलाके में आरटी-पीसीआर जांच (RT-PCR Tests) कराने का अभियान चलाया है. इन सबके बीच, नए वेरिएंट डेल्‍टा प्‍लस के बारे में टिप्‍पणी करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने डेल्टा के सभी वेरिएंट को चिंता का विषय हैं. मंत्रालय के अनुसार, डेल्‍टा प्‍लस वेरिएंट के दुनिया में 205 मामले हैं. इसमें आधे से ज्‍यादा मामले अमेरिका और ब्रिटेन में हैं.

मत्रालय के मुताबिक पहली बार इस वेरिएंट की जानकारी 11 जून को लगी थी, वो भी महाराष्ट्र के पुराने 5 अप्रैल के सैंपल के जरिए डेल्टा प्लस की बात सामने आई थी. देश में डेल्‍टा वेरिएंट के 40 के करीब मामले हैं, अब तक 45 हजार से ज्यादा जीनोम सीक्वेंसिंग हो चुकी है.

इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 15 जून को कहा था कि कोरोना वायरस का डेल्टा प्लस स्वरूप अभी तक चिंताजनक नहीं है और देश में इसकी मौजूदगी का पता लगाना होगा और उस पर नजर रखनी होगी. नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने इसे लेकर कहा था कि डेल्टा प्लस नामक वायरस का नया स्वरूप सामने आया है और यह यूरोप में मार्च महीने से है.

Upload By Samir

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें