1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus delta plus variant latest news updates aiims delhi department of biochemistry associate professor dr subhradip karmakar says every variant comes with a different kind of clinical response smb

नया डेल्टा वेरिएंट बेहद संक्रामक, कोविड वैक्सीन को लेकर एम्स के डॉक्टर ने कही ये बात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
AIIMS Delhi Department Of Biochemistry Associate Professor Dr Subhradip Karmakar
AIIMS Delhi Department Of Biochemistry Associate Professor Dr Subhradip Karmakar
ANI

Delta Plus Variant कोरोना की दूसरी लहर के कहर बरपाने के बाद देश के कई इलाकों में कोविड के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस ने दस्तक दी है. कोरोना का नया डेल्टा प्लस वेरिएंट भारत में बड़ी तेजी के साथ फैल रहा है और कई राज्यों में डेल्टा प्लस के मरीज मिले हैं. इन सबके बीच एम्स दिल्ली में बायोकेमेस्ट्री विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. शुभ्रदीप कर्माकर ने कहा है कि नया डेल्टा वेरिएंट (News Delta Variant) काफी संक्रामक है और ये बीमारी दोबारा अक्सर नए वेरिएंट के साथ आती है, जो और भी खतरनाक हो सकता है. न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, डॉ शुभ्रदीप कर्माकर ने कहा कि इस वायरस की प्रकृति म्यूटेट करने की है.

वैक्सीन से मिलेगी सुरक्षा, जरूर लगवाएं : डॉ. शुभ्रदीप कर्माकर

दिल्ली एम्स में (AIIMS, Delhi) में बायोकेमेस्ट्री विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. शुभ्रदीप कर्माकर ने साथ ही कहा कि भारत सरकार जो वैक्सीन इस्तेमाल कर रही है, वह बेहद प्रभावी है. इससे बहुत सुरक्षा मिलती है. उन्होंने कहा कि जो लोग भी पात्र हैं वे जरूर वैक्सीन लगवाएं. डॉ. शुभ्रदीप कर्माकर ने कहा कि वैक्सीन की डोज लगवाने से बीमारी की तीव्रता, अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु की संभावना बहुत कम हो जाती है. ऐसा स्टडी में पाया गया है.

डेल्टा वैरिएंट अब डेल्टा प्लस में तब्दील हुआ!

गौर हो कि देश में कोरोना वायरस की खतरनाक दूसरी लहर डेल्टा वेरिएंट के चलते आई थी. वैज्ञानिकों का कहना है कि इसका एक और खतरनाक म्यूटेशन हुआ है, जो वैक्सीन से मिलने वाली इम्युनिटी को चकमा दे सकती है. हालांकि, यह जरूरी नहीं है कि हर डरावना म्यूटेशन एक खतरनाक वायरस का रूप ले. बताया जा रहा है कि तेजी से फैलने वाला डेल्टा वैरिएंट अब डेल्टा प्लस में तब्दील हो गया है. इसमें 15 से 20 मामले तमिलनाडु, महाराष्ट्र, पंजाब और मध्य प्रदेश से मिले हैं. इसके तेजी से फैलने की क्षमता को लेकर जांच जारी है.

इन राज्यों में मिले मामले

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मध्य प्रदेश के शिवपुरी में डेल्टा प्लस से संक्रमित 4 लोगों की मौत हो गई है. वहीं, महाराष्ट्र में 7500 लोगों की जांच में 21 मामले इस नए वैरिएंट के मिले हैं. जिसमें मुंबई के दो लोग शामिल हैं. इन 21 मामलों में सबसे अधिक 9 मामले डेल्टा प्लस वैरिएंट के रत्नागिरी में मिले हैं. जबकि, जलगांव में 7, मुंबई में 2, पालघर में एक, ठाणे में एक और सिंधुदुर्ग जिले में डेल्टा प्लस वैरिएंट के एक मामले मिले हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें