1. home Hindi News
  2. national
  3. corona vaccine impact and side effects in india latest news on coronavirus here are all the answers regarding the vaccine covid 19 vaccine update news in hindi today pkj

Corona vaccine impact and side effects : यहां है वैक्सीन को लेकर सारे जवाब, कितना है खतरनाक, क्या आयेगी नपुंसकता ?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Corona vaccine impact and side effects
Corona vaccine impact and side effects
FILE

कोरोना वैक्सीन को लेकर राजनीति तौर पर अलग- अलग बयान आ रहे हैं. कई विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने इस पर सवाल खड़ा किया है. वैक्सीन को लेकर कोई गलत प्रचार ना हो इसका भी ध्यान रखा जा रहा है. इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) के पूर्व अध्यक्ष डॉ केके अग्रवाल कोरोना वैक्सीन को लेकर जागरूकता फैला रहे हैं. डॉ अग्रवाल लंबे समय से वैक्सीन को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठनों के साथ काम कर रहे हैं. वैक्सीन को लेकर कई तरह के सवाल हैं.

कैसे लड़ता है वायरस समझें

आजतक से बातचीत में उन्होंने वैक्सीन को लेकर कई सवालों का जवाब दिया. हमारे शरीर में वैक्सीन जाने से पहले एंटीबॉडीज बनती है. इसे ऐसे समझ सकते हैं कि पहले वारयस को मार दिया जाता है, मरे हुए वायरस को काटा जाता और इसके बाद शरीर में इंजेक्ट कर दिया जाता है इसे कोवैक्सीन कहते हैं. इसी तरह अगर वायरस का आधा हिस्सा काट कर इंजेक्ट किया तो इसे कोविशील्ड कहते हैं.

ऑफर मिले तो तुरंत लगवा लूं वैक्सीन- डॉ अग्रवाल

डॉ अग्रवाल ने यह भी कहा कि अगर मुझे वैक्सीन लेने का ऑफर मिले तो मैं तुरंत लगवा लूंगा. वैक्सीन को लेकर कई प्रकार के भ्रम फैलाये जा रहे हैं. कई लोगों को भ्रम है कि कोरोना वैक्सीन से ही कोरोना हो सकता है. चिकित्सा क्षेत्र के लोग इसे वैक्सीन को सकारात्मक तौर पर ले रहे हैं. यह कैसे हो सकता है कि वैक्सीन से कोरोना हो जाये, मरे हुए वायरस से कोरोना कैसे हो सकता है. मरा हुआ वायरस ज्यादा एंटीबॉडी बनाता है. इस तरह का भ्रम बिल्कुल नहीं रखना चाहिए .

क्या वैक्सीन से नपुंसकता आती है

कुछ लोग कहते हैं कि वैक्सीन से नपुंसकता आती है. यह तो हास्यास्पद है, आजतक किस वैक्सीन से नपुंसकता आयी है. वैक्सीन को बनाने में इस बात का पूरा ध्यान रखा गया है कि इससे किसी औऱ तरह की बीमारी ना हो. यह पूरी तरह टेस्टेड है, सुरक्षित है.

बदल जाता है डीएनए

वैक्सीन को लेकर यह भी भ्रम फैलाया जा रहा है कि इससे डीएनए ( DNA ) बदल जाता है, ऐसा संभव ही नहीं है. न्यूक्लियस में वायरस नहीं जा सकता ना ही वैक्सीन इस स्तर पर जा सकती है. यह पूरी तरह अवैज्ञानिक है इसका कोई आधार ही नहीं है.

दूर हो जायेगा वैक्सीन को लेकर भ्रम

मेदांता अस्पताल के चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर डॉक्टर नरेश त्रेहन ने आजतक से कहा कि समय के साथ ही वैक्सीन को लेकर लोगों की सारी चिंताएं दूर हो जाएंगी. फ्रंटलाइन वर्कर्स, डॉक्टर्स, नर्स सभी लोग पिछले 10 महीनों से लगातार काम कर रहे हैं. इसलिए वैक्सीन के आने के बाद उन्हें बड़ी राहत मिलने वाली है.

वैक्सीन को लेकर लोगों का भ्रम और दूर हो जायेगा जब पहली प्राथकिता वाले लोगों को वैक्सीन पूरी तरह लग जायेगी इसमें फ्रंटलाइन वर्कर्स, डॉक्टर्स, नर्स शामिल हैं. अगर वैक्सीन में कोई समस्या होगी तो यह वैक्सीन क्यों लगवायेंगे. यह सभी लोग लगातार कोरोना वायरस से लड़ रहे हैं इस वैक्सीन के बाद इन्हें काम करने में आसानी होगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें