1. home Hindi News
  2. national
  3. corona second wave in india news updates international media reports on india covid crisis pm modi rkt

Corona Second Wave: पाकिस्तान से लेकर ब्रिटिश अखबारों तक, विदेशी मीडिया में छाये ‘भारत, ऑक्सीजन और बेड’

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
विदेशी मीडिया में छाये ‘भारत, ऑक्सीजन और बेड’
विदेशी मीडिया में छाये ‘भारत, ऑक्सीजन और बेड’
Twitter

Corona Second Wave: भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर अमेरिका से ज्यादा मारक साबित हो रही है. दुनियाभर में अबतक के सारे रिकॉर्ड तोड़ते हुए बुधवार को भारत में पहली बार एक दिन में तीन लाख से ज्यादा कोरोना के केस आये. इससे पहले मंगलवार को देश में 2,95,041 नये केस आये थे. चौंकाने वाली बात यह है कि अमेरिका में प्रतिदिन दो लाख नये केस से तीन लाख तक पहुंचने में जहां 38 दिन लगे थे वहीं भारत में प्रतिदिन नये मरीजों का आंकड़ा महज एक सप्ताह में दो लाख से बढ़कर तीन लाख के नजदीक पहुंच गया.

विदेशी मीडिया में छाये ‘भारत, ऑक्सीजन और बेड’

द गार्डियन : वायरस हो गया है गायब समझ कर जल्दी दे दी गयी ढील

ब्रिटिश अखबार ‘द गार्डियन’ ने लिखा है कि भारत में अस्पताल में व्यवस्था चरमराने की कगार पर हैं. सोशल मीडिया पर मदद मांग रहे लोगों की बाढ़ आयी हुई है, कोई अपने प्रियजनों के लिए ऑक्सीजन सिलिंडर ढूंढ रहा है, तो कोई अस्पताल के बेड का बंदोबस्त कर रहा है. गार्डियन ने विशेषज्ञों के हवाले से लिखा, वायरस गायब हो गया है. यह गलत तरीके से समझते हुए सुरक्षा उपायों में बहुत जल्दी ढील दे दी गयी. शादियों और बड़े त्योहारों को आयोजित करने की अनुमति थी और नेता स्थानीय चुनावों में भीड़ भरी चुनावी रैलियां कर रहे थे.

अल जजीरा : ‘सुपर-स्प्रेडर’ भीड़ बनी जिम्मेदार, त्योहारों ने बढ़ाया संक्रमण

मीडिया संस्थान ‘अल जजीरा’ ने वेबसाइट पर खबर प्रकाशित की है, जिसमें संक्रमण के बढ़ते मामलों के लिए ‘डबल म्यूटेंट’ और ‘सुपर-स्प्रेडर’ भीड़ को जिम्मेदार बताया है. अल जजीरा ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों के हवाले से लिखा है कि सर्दियों के दौरान जब वायरस नियंत्रित दिख रहा था, तब भारत निश्चिंत हो गया था और शादियों और त्योहारों जैसे बड़े कार्यक्रमों की अनुमति दे दी गयी थी. स्थानीय चुनावों में भीड़ भरी रैलियों को संबोधित करने और त्योहार, जिसमें लाखों लोग इकट्ठा होते हैं, की अनुमति दे दी गयी.

एसोसिएटेड प्रेस : दी हेडिंग- 'रिकॉर्ड मामले, ऑक्सीजन और बेड'

समाचार एजेंसी एपी ने भी अपनी रिपोर्ट में रिकॉर्ड दैनिक मामलों, ऑक्सीजन और बेड, नासिक में 22 लोगों की मौत और दिल्ली हाइकोर्ट के निर्देशों को अपनी रिपोर्ट में जगह दी है. उसने शीर्षक लिखा है, बेड, ऑक्सीजन की कमी, भारत में 3.14 लाख वायरस के मामले. इस रिपोर्ट में आगे लिखा है कि लॉकडाउन, कड़े प्रतिबंधों के कारण दिल्ली और दूसरे शहरों में कई लोगों को डर, दुख और यातना का सामना करना पड़ रहा है.

डॉन : परिजनों को बचाने की जद्दोजहद

पाकिस्तानी अखबार डॉन ने भारत में रिकॉर्ड मामले मिलने को अपनी वेबसाइट पर जगह दी है. अखबार ने लिखा है, उत्तर प्रदेश को लेकर टीवी पर प्रसारित दृश्यों में दिख रहा है कि खाली सिलिंडरों को भरवाने के लिए भीड़ इकट्ठा है, वे अस्पतालों में किसी भी तरह अपने परिजनों को बचाना चाहते हैं. भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर अमेरिका से ज्यादा मारक साबित तथा Hindi News से अपडेट के लिए बने रहें।

Posted by : Rajat Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें