1. home Hindi News
  2. national
  3. bjp target congress jp nadda says upa govt diverted pmnrf funds to rajiv gandhi foundation sonia gandhi

UPA कार्यकाल में पीएम राहत कोष का पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन को दिया गया, भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने लगाया आरोप

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

BJP target congress, Rajiv Gandhi Foundation: भाजपा-कांग्रेस में चीन विवाद को लेकर शुरू हुई बहस अब वंशवाद और भ्रष्टाचार के आरोपों तक पहुंच गई है. कुछ दिनों पहले तक कांग्रेस, भाजपा पर हमलावर नजर आ रही थी. हालांकि, अब भाजपा ने कांग्रेस पर जमकर हमला करना शुरू कर दिया है. भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने लगातार दूसरे दिन गांधी परिवार पर निशाना साधा है. उन्होंने शुक्रवार को कहा कि यूपीए कार्यकाल में प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) का पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन (आरजीएफ) को दिया गया था.

तब सोनिया गांधी एमएनआरएफ के बोर्ड में भी थीं और आरजीएफ की अध्यक्ष भी थीं. नड्डा ने कहा कि भारत के लोगों ने अपने खून-पसीने की कमाई पीएम राहत कोष में दान की. कांग्रेस ने दान की गई धनराशि को एक परिवार के फाउंडेशन में डाइवर्ट कर देती थी और लोगों के साथ धोखा करती थी. भाजपाध्‍यक्ष ने आगे लिखा, 'संकट में लोगों की मदद करने के लिए बना पीएमएनआरएफ, यूपीए सरकार के वर्षों में राजीव गांधी फाउंडेशन को पैसे दान कर रहा था.

उन्होंने सवाल पूछते हुए कहा कि पीएमएनआरएफ बोर्ड में कौन बैठा? सोनिया गांधी. राजीव गांधी फाउंडेशन की अध्यक्षता कौन करता है? सोनिया गांधी. यह पूरी तरह से गलत है. यह पूरी तरह से निंदनीय, और नैतिकता की अवहेलना है. पारदर्शिता के बारे में कुछ नहीं सोचा गया.बीजेपी अध्यक्ष यही नहीं रूके.

उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट किए. लिखा कि धन के लिए एक परिवार की भूख ने देश को बहुत नुकसान पहुंचाया है. इसके लिए कांग्रेस पार्टी को माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि सार्वजनिक धन को एक परिवार की तरफ से चलाए जा रहे फाउंडेशन में डालना एक गंभीर धोखेबाजी है.

राजीव गांधी फाउंडेशन को चीन से भी मिला दान

इससे पहले गुरुवार को भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दावा किया था कि 2005-06 में राजीव गांधी फाउंडेशन को चीन के दूतावास से 3 लाख डॉलर (तब 90 लाख रुपए) मिले थे. इसके बदले फाउंडेशन ने चीन के साथ फ्री ट्रेड को बढ़ावा देने वाली स्टडी करवाईं. उस फाउंडेशन की अध्यक्ष सोनिया गांधी हैं. जबकि, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के अलावा राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और पी. चिदंबरम ट्रस्टी हैं. उन्होंने कांग्रेस से पूछा कि बताइए, चीन के साथ आपका गुपचुप रिश्ता क्या है. नड्डा ने एमपी में वर्चुअल रैली को संबोधित करने के दौरान कांग्रेस पर जोरदार हमला किया था. इस पर कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि सरकार 2005 में रहना छोड़े और 2020 के सवालों का जवाब दे.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें