1. home Hindi News
  2. national
  3. balakot airstrike 2nd anniversary india avenged pulwama attack destroying terrorist camp in pakistan abhinandan varthaman indian air force rkt

Balakot Air Strike: दो साल पहले जब रातों-रात भारत ने लिया था पुलवामा का बदला, पाक में घुस कर तबाह किए थे आतंकी कैंप

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Balakot Air Strike
Balakot Air Strike
Twitter (File Pic)

कदम कदम बढ़ाये जा, खुशी के गीत गाये जा ये जिन्दगी है क़ौम की, तू क़ौम पे लुटाये जा, तू शेर-ए-हिन्द आगे बढ़, मरने से फिर कभी ना डर उड़ाके दुश्मनों का सर जोशे-वतन बढ़ाये जा - परेड में इस गीत के साथ कदम ताल करने वाले भारत के वीर जवानों ने आज से दो साल पहले पाकिस्तान के घर में घुस कर अपने साथियों की मौत का बदला लिया था. पुलवामा (Pulwama Attack) में हुए आतंकी हमले के बाद भारत के जाबाजों ने पाकिस्तान के बालाकोट एयर स्ट्राइक (Balakot Airstrike) कर अपने साथियों के मौत का बदला लिया था. आज इस शौर्य गाथा को दो साल हो गये हैं.

आज यानी 26 फरवरी को उस बालाकोट एयर स्ट्राइक के दो साल पूरे हो गए, जब भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुस कर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर बमबारी कर उसे तबाह कर दिया था. 14 फरवरी को हुए जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने 26 फरवरी की देर रात इसका बदला लिया था और पाकिस्तान के बालाकोट में स्थित जैश के आतंकी कैंप को पूरी तरह से तबाह कर दिया था. इस एयर स्ट्राइक में 250 से ज्यादा आंतकी मारे गये थे.

बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद अभिनंदन वर्धमान पूरे देश के सुपरहीरो बन कर उभरे थें. उन्होंने अपने मिग 21 विमान से न सिर्फ पाकिस्तान को अमेरिका से मिले अत्याधुनिक एफ 16 को मार गिराया था. बता दें कि 26 फरवरी को बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद अगले दिन पाकिस्तान ने गीदड़ भभकी देने की कोशिश की पर विंग कमांडर अभिनंदन अपने मिग 21 विमान से दुशमन के अत्याधुनिक एफ 16 को मार गिराया और तीन दिन तक दुश्मन की हिरासत में रहने के बाद पूरे सम्मान के साथ वापस लौट आए. भारत सरकार ने देश का तीसरा सबसे बड़ा सैन्य सम्मान ‘वीर चक्र' देकर उनकाअभिनंदन किया.

बता दें कि 26 फरवरी में 2019 में वायुसेना ने आतंकी कैंप पर एयर स्ट्राइक की थी. 14 फरवरी को पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर हमला किया था. इसका बदला लेते हुए वायुसेना ने बालाकोट में आतंकी कैंप को तबाह कर दिया था. पाकिस्तान इस बास से हमेशा इंकार करता रहा कि उसका कोई नुकसान नहीं हुआ. पाकिस्तान ने इसी के साथ ही बालाकोट में अंतरराष्ट्रीय मीडिया के आने पर रोक भी लगा दी गई थी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें