1. home Hindi News
  2. national
  3. akshay kumar launched action game faug supporting pm modi atmanirbhar movement pubg rkt

Akshay Kumar FAU-G Game: PUBG को टक्‍कर देने आ रहा है भारत का FAU-G, अक्षय कुमार ला रहे एक्‍शन गेम

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
PUBG की टक्‍कर देने आ रहा है भारत का FAU-G
PUBG की टक्‍कर देने आ रहा है भारत का FAU-G
फोटो- ट्वीटर

Akshay Kumar FAU-G Game: पूर्वी लद्दाख सीमा पर चीन से जारी गतिरोध के बीच भारत सरकार ने लोकप्रिय गेमिंग एप PUBG सहित चीन की कंपनियों से जुड़े 118 अन्य मोबाइल एप पर बुधवार को प्रतिबंध लगा दिया. PUBG भारत में बहुत ही लोकप्रिय गेम था जिसके बैन होने से इसे खेलने वाले की सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियां भी आयी. पर अब PUBG बैन होने से निराश गेमर्स को बॉलीवुड ऐक्‍टर अक्षय कुमार (Akshay Kumar) ने एक खुशखबरी दी है. बॉलीवुड में खिलाड़ी कुमार के नाम से मशहूर अक्षय कुमार FAU-G नाम से एक गेम लेकर आ रहे हैं.

बॉलीवुड ऐक्‍टर अक्षय कुमार ने शुक्रवार को ऐलाना किया कि वह Fearless And United-Guards FAU-G नाम से एक ऐक्‍शन गेम लेकर आ रहे हैं.अक्षय कुमार ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्‍मनिर्भर भारत का समर्थन करते हुए, ऐक्शन गेम, Fearless And United-Guards FAU-G को पेश करने पर गर्व है. मनोरंजन के अलावा, खिलाड़ी हमारे सैनिकों के बलिदानों के बारे में भी जानेंगे. इसका 20 पर्सेंट नेट रेवेन्‍यू ‘भारत के वीर’ ट्रस्‍ट को डोनेट किया जाएगा. बता दें कि भारत के वीर ट्रस्ट को दि गृह मंत्रालय ने गठित किया है.

अक्षय कुमार ने अपने ट्वीच में FAU-G का पोस्टर भी शेयर किया. पोस्‍टर से ये कयास लगाया जा सकता है कि यह PUBG की टक्‍कर का ऐक्‍शन गेम हो सकता है. अक्षय कुमार यह गेम पीएम मोदी के आत्‍मनिर्भर भारत के तहत लेकर आए हैं. यह गेम (Fearless and United: Guards FAU-G) भारतीय सेना के जवानों पर आधारित होगा.

भारतपबजी सहित चीन की कंपनियों से जुड़े 118 अन्य मोबाइल एप पर प्रतिबंध लगा दिया है.एप पर बैन लगाते हुए भारत सरकार ने कहा कि ये एप से देश की संप्रभुता व अखंडता, रक्षा, सुरक्षा और शांति-व्यवस्था के लिए खतरा हैं. चीन के मोबाइल एपों पर भारत की यह तीसरी डिजिटल स्ट्राइक है. इससे पहले इससे पहले सरकार ने जून में चीन से जुड़े टिकटॉक और यूसी ब्राउजर सहित 59 एप को प्रतिबंधित कर दिया था. इसके बाद जुलाई में 47 अन्य एप को भी बैन कियाथा.

Posted by : Rajat Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें