गोवा के मुख्यमंत्री ने संसद में नागरिकता विधेयक पारित होने को बताया देश की जीत

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पणजीः गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने नागरिकता (संशोधन) विधेयक के संसद में पारित होने का स्वागत करते हुए इसे देश के लिए जीत बताया. सावंत ने कहा कि यह पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से धार्मिक उत्पीड़न से भागकर आए शरणार्थियों के लिए जश्न मनाने का मौका है. नागरिकता संशोधन विधेयक के लोकसभा और राज्यसभा में पारित होने के बाद सावंत ने यह बयान दिया है.
इसमें अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान से धार्मिक प्रताड़ना के कारण 31 दिसंबर 2014 तक भारत आए गैर मुस्लिम शरणार्थियों - हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के लोगों को भारतीय नागरिकता देने का प्रावधान है. सावंत ने सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को विधेयक पारित होने के लिए बधाई दी.
उन्होंने ट्वीट कर लिखा, यह देश के लिए जीत है और पाकिस्तान, बांग्लादेश तथा अफगानिस्तान से आए उन शरणार्थियों के लिए जश्न मनाने का मौका है, जिन्हें धार्मिक रूप से प्रताड़ित किया गया. पीएम मोदी ने भी विधेयक पारित होने पर इसे भारत और उसकी करुणा तथा भाईचारे के मूल्यों के लिए ऐतिहासिक दिन करार दिया था.
उन्होंने ट्वीट किया कि विधेयक वर्षों तक पीड़ा झेलने वाले अनेक लोगों के कष्टों को दूर करेगा. वहीं विपक्ष ने इसका विरोध करते हुए इसे असंवैधानिक विभाजनकारी और राष्ट्र के लोकतांत्रिक और धर्मनिरपेक्ष ताने-बाने पर हमला बताया.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें