लोढ़ा समिति की सिफारिशों के बाद भी पूर्व दिग्गजों का वर्चस्व जारी, क्रिकेट संघ में अधिकतर पुरानों के सगे संबंधी ही

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्‍ली : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड में सुधार के लिए लोढ़ा कमिटी ने कुछ सिफारिशें की थीं. इन सिफारिशों को बोर्ड में लागू कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने अपनी निगरानी में प्रशासनिक समिति का गठन किया था. इस समिति की देखरेख में बीसीसीआइ में नया संविधान लागू हुआ और उसी के आधार पर बोर्ड के कामकाज का जिम्मा संभालने के लिए नए चेहरों को कमान संभालने का मौका दिया गया, लेकिन इस नए बदलाव के बावजूद बोर्ड के कामकाज में कुछ बदलता नहीं दिख रहा है. पूर्व अधिकारियों ने अपने रिश्तेदारों को बोर्ड में खड़ा कर दिया है. उनका वर्चस्व कम होता नहीं दिख रहा है.

तमिलनाडु क्रिकेट असोसिएशन
बीसीसीआइ और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन की बेटी रूपा गुरुनाथ नयी अध्यक्ष बनी हैं.
सौराष्ट्र किकेट एसोसिएशन
अध्यक्ष जयदेव शाह हैं, जो निरंजन शाह के बेटे हैं, जो 4 दशक से ज्यादा संघ सचिव थे.
हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन
बीसीसीआइ और एचपीसीए के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर के भाई अरुण ठाकुर के हाथ में नियंत्रण है.
गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन
देश के गृह मंत्री व गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह बीसीसीआइ में सचिव पदक के दावेदार हैं.
बंगाल क्रिकेट संघ
बीसीसीआइ और आइसीसी के पूर्व अध्यक्ष जगमोहन डालमिया के निधन के बाद उनके बेटे अभिषेक डालमिया 2015 में सचिव बने और फिर इस बार इस पद के लिए निर्वाचित हुए हैं.
बड़ौदा क्रिकेट संघ
आइपीएल के पूर्व चेयरमैन और बड़ौदा क्रिकेट संघ के पूर्व प्रशासक चिरायु अमीन के बेटे प्रणव अमीन अध्यक्ष बने हैं.
नागालैंड क्रिकेट संघ
केंचागुलि राज्य के मुख्यमंत्री निफियु रियो के बेटे हैं. उन्होंने अपने पिता की जगह क्रिकेट संस्था में जगह ली है.
ओड़िशा क्रिकेट संघ
ओड़िशा क्रिकेट संघ के पूर्व सचिव आशिर्बाद बेहरा के बेटे संजय बेहर सचिन चुने गये हैं.
गोवा क्रिकेट संघ
संघ के पूर्व सचिव विनोद फड़के के बेटे विपुल फड़के को सचिव बनाया गया है.
विदर्भ क्रिकेट संघ
आइसीसी के मौजूदा अध्यक्ष शशांक मनोहर के बेटे अद्वैत मनोहर उपाध्यक्ष बने हैं.
छत्तीसगढ़ क्रिकेट संघ
प्रभतेज सिंह भाटिया अध्यक्ष चुने गये हैं और अपने पिता बलदेव सिंह भाटिया उनसे पहले यूपी के अध्यक्ष थे.
उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ
यधुपति सिंघानिया उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ के अध्यक्ष बने हैं. पिता गौड़ हरि सिंधानिया करीब दो दशक तक संघ के अध्यक्ष थे.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें