भारत की सबसे लंबी विद्युतीकृत रेल सुरंग का उपराष्ट्रपति ने किया उद्घाटन

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

गुडुरु (आंध्र प्रदेश) : उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने रविवार को चेरलोपल्ली और रापुरु के बीच देश की सबसे लंबी विद्युतीकृत रेल सुरंग और वेंकटचलम और ओबुलवारीपल्ली के बीच विद्युतीकृत रेल लाइन का उद्घाटन किया.

गुडुरु रेलवे स्टेशन पर पुनर्निर्मित यार्ड का उद्घाटन करने के अलावा, उपराष्ट्रपति ने गुडुरु और विजयवाड़ा के बीच एक नयी इंटर-सिटी सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन को भी हरी झंडी दिखायी. नायडू ने 6.7 किलोमीटर लंबी सुरंग को इंजीनियरिंग का चमत्कार करार दिया और कहा कि यह माल ढुलाई के निर्बाध आवागमन के लिए कृष्णापट्टनम बंदरगाह और तटीय क्षेत्र के बीच रेल संपर्क प्रदान करेगा. 437 करोड़ रुपये की लागत से बने इस सुरंग में 44 ट्रॉली रिफ्यूज और 14 पारगमन बनाये गये हैं.

उपराष्ट्रपति ने शनिवार शाम को नवनिर्मित ओबुलवारीपल्ली-कृष्णापट्टनम लाइन को लेकर कहा, मैं इसको लेकर अभिभूत व भावुक हूं कि मेरे बचपन का सपना अब सच हो गया है. उन्होंने कहा, मैं भावुक हूं क्योंकि रेलवे लाइन मेरे पैतृक गांवों से गुजरती है जहां मैंने अपना बचपन बिताया. उस समय किसी ने भी नहीं सोचा था कि एक दिन कोई ट्रेन इन पहाड़ियों से होकर गुजरेगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें