27.1 C
Ranchi
HomeLife and StyleVastu Tips: जीवन में धन और सुख पाना चाहते हैं तो फॉलो...

Vastu Tips: जीवन में धन और सुख पाना चाहते हैं तो फॉलो करें 5 नियम, घर आएगी शांति

- Advertisment -

Vastu Tips: हर व्यक्ति चाहता है कि उसके घर में हमेशा सुख-समृद्धि बनी रहे और परिवार का हर सदस्य खुशहाल जीवन जिए. अगर आप भी अपने घर में खुशहाली चाहते हैं तो वास्तु में कुछ नियम बताए गए हैं, जिन्हें अपनाने से घर में खुशियां और सौभाग्य आता है. अपनी दिनचर्या और आदतों में छोटे-छोटे साधारण बदलाव आपको स्वस्थ और लंबी आयु प्रदान कर सकते हैं.

प्रतिदिन सूर्य को नमस्कार करें


पूर्व दिशा का स्वामी सूर्य है. सूर्य को धन, समृद्धि, स्वास्थ्य और यश प्रदान करने वाला ग्रह माना जाता है. सुबह के समय सूर्य से प्राप्त होने वाली किरणें अनंत गुणों वाली ऊर्जा से भरी होती हैं, इसीलिए वास्तु विज्ञान में पूर्व दिशा को सबसे अधिक महत्व दिया जाता है क्योंकि सूर्य से प्राप्त होने वाली सकारात्मक ऊर्जा का मुख्य द्वार पूर्व दिशा ही है. सूर्योपनिषद के अनुसार सूर्य की किरणों में सभी देवता, गंधर्व और ऋषि निवास करते हैं. सूर्य की पूजा के बिना किसी का कल्याण संभव नहीं है. चाहे वे अमरत्व प्राप्त करने वाले देवता ही क्यों न हों. प्रातःकाल सूर्य नारायण को अर्घ्य देने और उन्हें नमस्कार करने से दीर्घायु, आरोग्य, धन, उत्तम संतान, मित्र, तेज, कांति, विद्या, वैभव, सौभाग्य आदि की प्राप्ति होती है. घर के वास्तु दोष दूर होते हैं.

also read:Puri में भगवान जगन्ननाथ के दर्शन को आएं तो 60 किमी दूर इस झील में बोटिंग का भी मजा लें

नियमानुसार साफ-सफाई करें


कई बार घर की ठीक से सफाई न होने के कारण जगह-जगह धूल और मकड़ी के जाले जमा हो जाते हैं, जिससे हानिकारक कीटाणु पनपते हैं. दीवारों को समय-समय पर साफ करते रहना चाहिए, अन्यथा धूल से भरी गंदी दीवारें नकारात्मक ऊर्जा फैलाती हैं. ध्यान रखें कि कोनों में मकड़ी के जाले न हों, ये तनावपूर्ण और निराशाजनक माहौल को जन्म देते हैं। दीवारों पर थूकना या किसी भी तरह से दाग लगाना दरिद्रता का सूचक है, ऐसा बिल्कुल न करें.

स्वास्थ्य के लिए पेड़-पौधे


वास्तु के अनुसार घर में पौधे लगाने से न केवल घर के वास्तु दोष दूर होते हैं बल्कि ये पौधे हवा को शुद्ध करते हैं और ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ाते हैं, जिससे परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य बेहतर रहेगा. हरे-भरे पौधे देखने से मन को शांति मिलती है, तनाव दूर होता है और मन प्रसन्न रहता है, ध्यान रखें कि सूखे, कांटेदार और बोनसाई पौधे निराशा के सूचक होते हैं, इन्हें घर में न लगाएं.

also read: Mental Support Tips: नौकरी चले जानें से आपका पार्टनर है परेशान, तो ऐसे करें सपोर्ट, मिलेगा हिम्मत

भजन-कीर्तन शुभ है


घर में प्रतिदिन सुबह कुछ देर भजन-कीर्तन अवश्य करें या पूजा करते समय मधुर स्वर में भजन गाएं और घंटी आदि बजाएं. इससे घर से नकारात्मक ऊर्जा समाप्त होगी. घर में सुख-शांति का माहौल रहेगा. इस कार्य के लिए शंख की ध्वनि भी सर्वोत्तम मानी गई है. पूजा के बाद घर में शंख का जल छिड़कने से घर से वास्तु दोष दूर होते हैं और भगवान की कृपा बनी रहती है.

दीपक जलाएं


घर में प्रतिदिन गाय के घी का दीपक जलाने से भी घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है. घर या प्रतिष्ठान में वास्तु दोष और नकारात्मक ऊर्जा दूर करने के लिए कपूर की टिकिया रखें. ऐसा करने से वहां की नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी और आर्थिक लाभ भी बढ़ेगा.

Vastu Tips: हर व्यक्ति चाहता है कि उसके घर में हमेशा सुख-समृद्धि बनी रहे और परिवार का हर सदस्य खुशहाल जीवन जिए. अगर आप भी अपने घर में खुशहाली चाहते हैं तो वास्तु में कुछ नियम बताए गए हैं, जिन्हें अपनाने से घर में खुशियां और सौभाग्य आता है. अपनी दिनचर्या और आदतों में छोटे-छोटे साधारण बदलाव आपको स्वस्थ और लंबी आयु प्रदान कर सकते हैं.

प्रतिदिन सूर्य को नमस्कार करें


पूर्व दिशा का स्वामी सूर्य है. सूर्य को धन, समृद्धि, स्वास्थ्य और यश प्रदान करने वाला ग्रह माना जाता है. सुबह के समय सूर्य से प्राप्त होने वाली किरणें अनंत गुणों वाली ऊर्जा से भरी होती हैं, इसीलिए वास्तु विज्ञान में पूर्व दिशा को सबसे अधिक महत्व दिया जाता है क्योंकि सूर्य से प्राप्त होने वाली सकारात्मक ऊर्जा का मुख्य द्वार पूर्व दिशा ही है. सूर्योपनिषद के अनुसार सूर्य की किरणों में सभी देवता, गंधर्व और ऋषि निवास करते हैं. सूर्य की पूजा के बिना किसी का कल्याण संभव नहीं है. चाहे वे अमरत्व प्राप्त करने वाले देवता ही क्यों न हों. प्रातःकाल सूर्य नारायण को अर्घ्य देने और उन्हें नमस्कार करने से दीर्घायु, आरोग्य, धन, उत्तम संतान, मित्र, तेज, कांति, विद्या, वैभव, सौभाग्य आदि की प्राप्ति होती है. घर के वास्तु दोष दूर होते हैं.

also read:Puri में भगवान जगन्ननाथ के दर्शन को आएं तो 60 किमी दूर इस झील में बोटिंग का भी मजा लें

नियमानुसार साफ-सफाई करें


कई बार घर की ठीक से सफाई न होने के कारण जगह-जगह धूल और मकड़ी के जाले जमा हो जाते हैं, जिससे हानिकारक कीटाणु पनपते हैं. दीवारों को समय-समय पर साफ करते रहना चाहिए, अन्यथा धूल से भरी गंदी दीवारें नकारात्मक ऊर्जा फैलाती हैं. ध्यान रखें कि कोनों में मकड़ी के जाले न हों, ये तनावपूर्ण और निराशाजनक माहौल को जन्म देते हैं। दीवारों पर थूकना या किसी भी तरह से दाग लगाना दरिद्रता का सूचक है, ऐसा बिल्कुल न करें.

स्वास्थ्य के लिए पेड़-पौधे


वास्तु के अनुसार घर में पौधे लगाने से न केवल घर के वास्तु दोष दूर होते हैं बल्कि ये पौधे हवा को शुद्ध करते हैं और ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ाते हैं, जिससे परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य बेहतर रहेगा. हरे-भरे पौधे देखने से मन को शांति मिलती है, तनाव दूर होता है और मन प्रसन्न रहता है, ध्यान रखें कि सूखे, कांटेदार और बोनसाई पौधे निराशा के सूचक होते हैं, इन्हें घर में न लगाएं.

also read: Mental Support Tips: नौकरी चले जानें से आपका पार्टनर है परेशान, तो ऐसे करें सपोर्ट, मिलेगा हिम्मत

भजन-कीर्तन शुभ है


घर में प्रतिदिन सुबह कुछ देर भजन-कीर्तन अवश्य करें या पूजा करते समय मधुर स्वर में भजन गाएं और घंटी आदि बजाएं. इससे घर से नकारात्मक ऊर्जा समाप्त होगी. घर में सुख-शांति का माहौल रहेगा. इस कार्य के लिए शंख की ध्वनि भी सर्वोत्तम मानी गई है. पूजा के बाद घर में शंख का जल छिड़कने से घर से वास्तु दोष दूर होते हैं और भगवान की कृपा बनी रहती है.

दीपक जलाएं


घर में प्रतिदिन गाय के घी का दीपक जलाने से भी घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है. घर या प्रतिष्ठान में वास्तु दोष और नकारात्मक ऊर्जा दूर करने के लिए कपूर की टिकिया रखें. ऐसा करने से वहां की नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी और आर्थिक लाभ भी बढ़ेगा.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां.

- Advertisment -

अन्य खबरें

- Advertisment -
ऐप पर पढें