26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Health Tips : गर्मियों के मौसम में खांसी और सर्दी से निपटने के लिए आजमाएं ये घरेलू उपाय

चिलचिलाती गर्मी के चलते कई तरह के फ्लू हो रहे हैं. इससे अधिकतर लोगों को गले में खराश और सर्दी-जुकाम हो रहा है.

Health Tips : वैसे तो ठंडी के मौसम में खांसी और सर्दी की परेशानी सामान्य बात है, लेकिन अप्रैल माह में मौसम ने काफी तेजी से करवट लिया है. वातावरण में फेरबदल के साथ गर्मियों के मौसम में भी खांसी और सर्दी की समस्या लोगों को घेरने लगी है. इसकी मुख्य वजह एलर्जी और इंफेक्शन को माना जा रहा है. विशेषज्ञों की मानें, तो चिलचिलाती गर्मी के चलते कई तरह के फ्लू हो रहे हैं. इससे अधिकतर लोगों को गले में खराश और सर्दी-जुकाम हो रहा है. हालांकि, इन समस्याओं से निजात पाने के लिए कई प्रभाशाली मेडिसिन उपलब्ध है, मगर कई घरेलू उपचार भी मौजूद हैं, जो सर्दी-खांसी के लक्षणों को कम कर सकते हैं. साथ ही आपको इस परेशानी राहत दिला सकते हैं. यहां बताये गये पांच घरेलू और प्राकृतिक उपायों के माध्यम से खांसी और सर्दी से निजात पा सकते हैं.

नमक-पानी से गरारा करें

गले की खराश को ठीक करने और खांसी-सर्दी को कम करने का एक सरल और शक्तिशाली उपाय नमक के पानी से गरारे करना है. यह काफी लाभकारी होता है. इसके लिए एक गिलास गर्म पानी में लगभग आधा चम्मच नमक मिलाएं और इसे मुंह में लेकर इस मिश्रण से 15-30 सेकंड तक गरारे करें. इससे गले की सूजन को कम करने और बलगम की वजह से हुई जकड़न को ठीक करने में मदद मिलेगी. इस प्रक्रिया को दिन में कई बार दोहराएं या फिर आप इसे दिन में दो बार भी कर सकते हैं.

Also Read :Health Tips: गर्मियों में बच्चे इन पांच संक्रमण के होते हैं अधिक शिकार, अभिभावक हो जाएं सतर्क

शहद, तुलसी और लंबी काली मिर्च का पेस्ट

शहद अपने औषधीय गुणों के लिए काफी प्रसिद्ध है, जबकि तुलसी (पवित्र तुलसी) और पिप्पली (पिप्पली) का उपयोग पारंपरिक चिकित्सा में उनके सूजन-रोधी और जीवाणुरोधी गुणों के लिए किया जाता है. शहद, कुचली हुई तुलसी की पत्तियां और पिप्पली पाउडर को बराबर मात्रा में मिलाकर पेस्ट बना लें. खांसी से राहत पाने और अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए दिन में दो से तीन बार इस पेस्ट का एक चम्मच सेवन करें. इससे घर बैठे बिना किसी दवा के खांसी और सर्दी से निजात पा सकते हैं.

अदरक, दालचीनी और हल्दी पेय

अदरक, दालचीनी और हल्दी जैसे घरेलू मसालों में सूजन-रोधी और इम्यून सिस्टम को मजबूत करने वाले गुण मौजूद होते हैं. अदरक के टुकड़ों को चुटकी भर दालचीनी और हल्दी के साथ पानी में उबालकर एक आरामदायक पेय तैयार करें. मिश्रण को छान लें, अगर चाहें, तो मिठास के लिए इसमें एक चम्मच शहद मिलाएं और कंजेशन से राहत पाने और खांसी और सर्दी को ठीक करने के लिए पूरे दिन इस गर्म पेय का सेवन करें.

चिकन सूप

चिकन सूप सिर्फ दादी-नानी का नुस्खा भर नहीं है, बल्कि खांसी और सर्दी को ठीक के लिए चिकन सूप काफी प्रभावशाली उपाय भी है. इसका तत्काल रिजल्ट भी दिखता है.पोषक तत्वों और हाइड्रेशन से भरपूर, एक कटोरा गर्म चिकन सूप गले की खराश को ठीक करने और नाक जाम की समस्याओं को दूर करने में काफी मददगार साबित हो सकता है. यह बीमारी के दौरान आराम प्रदान करने में मदद कर सकता है. अधिक से अधिक पोषण और स्वाद के लिए आप चाहें, तो चिकन सूप में अपनी मनपंसद सब्जियों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

एसेंशियल ऑयल

यूकेलिप्टस और पेपरमिंट जैसे कुछ एसेंशियल ऑयल में डिकॉन्गेस्टेंट और एंटीमाइक्रोबियल जैसे गुण होते हैं, जो खांसी और सर्दी के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं. इसके लिए एक कटोरी गर्म पानी में अपने पसंदीदा एसेंशियल ऑयल की कुछ बूंदें डालें और अपने सिर को तौलिये से ढककर भाप लें. इसके अलावा आप चाहें, तो तेल को किसी वाहक तेल (जैसे बादाम का तेल या अरंडी का तेल) के साथ पतला कर सकते हैं और राहत के लिए इसे अपनी छाती और गले पर मालिश कर सकते हैं.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें