1. home Hindi News
  2. health
  3. how to increase good hdl cholesterol and decrease bad ldl cholesterol diet meal food plan eat per day side effects symptoms heart diseases stroke statins medicine uses latest health news in hindi today smt

Health News : Bad Cholesterol को कम करेंगे ये फूड्स और दवाईयां, जानें क्यों सेहत के लिए जरूरी है Good Cholesterol

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Health News, Good cholesterol, Bad cholesterol, Diet, foods, Medicine
Health News, Good cholesterol, Bad cholesterol, Diet, foods, Medicine
Prabhat Khabar Graphics

Health News, Good cholesterol, Bad cholesterol, Diet, foods, Medicine : कई बार आपका पारिवारिक इतिहास भी आपके बढ़े कोलेस्ट्रॉल का कारण हो सकता है. हालांकि, आप अपना इतिहास तो नहीं बदल सकते. लेकिन, शारीरिक गतिविधि को बढ़ा कर अपना वजन जरूर कम कर सकते हैं. जो आपके एलडीएल कोलेस्ट्रॉल (ldl cholesterol) को कम करने और एचडीएल (hdl cholesterol) को बढ़ाने में मददगार है. और इससे भी जरूरी है अपने खाने का तौर-तरीके में सही बदलाव की..

क्या है एलडीएल (LDL) और एचडीएल (HDL)

आसान भाषा में समझे तो एलडीएल (Low-density lipoprotein) शरीर में मौजूद बैड कलेस्ट्रॉल को कहते हैं. ये धमनियों में ब्लॉकेज का कारण बन सकती है और इससे हार्ट अटैक का भी खतरा संभव है. वहीं, एचडीएल (High-density lipoprotein) को गुड कलेस्ट्रॉल भी कहा जाता है. एचडीएल हृदय बीमारियों से बचाने के लिए जरूरी है.

कोलेस्ट्रॉल को घटाने के लिए क्या छोड़े और क्या अपनाएं

- इसके लिए आपको संतृप्त वसा अर्थात पशु उत्पादों में पाये जाने वाले कोलेस्ट्रॉल को त्यागना होगा. ये वसा हानिकारक एलडीएल स्तर शरीर में बढ़ाते हैं. जिसे बैड कोलेस्ट्रॉल भी कहा जाता है.

- इसके बजाय, अपने आहार में कुछ असंतृप्त वसा को शामिल करें. जैसे- मछली, नट्स और वनस्पति तेल, जैसे जैतून का तेल, कैनोला तेल, कुसुम तेल आदि को भोजन में शामिल करें.

- इसके अलावा साबुत अनाज चुनें. दरअसल, साबुत अनाज रक्त शर्करा को कंट्रोल में रखता है.

- यही नहीं कुछ खाद्य पदार्थ जिनमें फाइबर की मात्रा पायी जाती है. उसे भी अपने डायट में शामिल कर सकते हैं. इनमें एलडीएल के स्तर को कम करने की क्षमता होती है.

- साथ ही साथ फल और हरी साग-सब्जियां को खाएं. इससे भी शरीर के बैड कोलेस्ट्रॉल को कम किया जा सकता है.

- यदि आप आलू के चिप्स जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन कर रहे हैं तो फौरन छोड़ दें.

- यही नहीं कई डेयरी प्रोडक्ट भी इस मामले में हानिकारक है. ऐसे में वसा रहित दूध, चीनी, सादा दही को अपने भोजन में शामिल करें.

कोलेस्ट्रॉल को कम करनी वाली दवाएं

हेल्थ हार्वर्ड में छपी रिपोर्ट के मुताबिक आप कोलेस्ट्रॉल कम करने वाली दवाएं भी ले सकते हैं. इनमें स्टैटिन दवाएं काफी प्रसिद्ध है. पहली बार यह 1980 के दशक में उपलब्ध हुईं थी. अन्य दवाओं की तुलना में यह एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में बेहतर साबित हुईं है.

आपको बता दें कि ये दवाएं एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को शरीर में उत्पादन नहीं होने देती है. बल्कि, मौजूदा एलडीएल को पुन: अवशोषित करने में मदद मिलती हैं. कुछ अध्ययनों से पता चला कि स्टैटिन लेने से हृदय रोग होने की संभावना भी बहुत कम हो जाती है. एक रिपोर्ट के मुताबिक इसके कुछ संभावित कारण है कि स्टैटिन सूजन को कम करती हैं और धमनी पट्टिकाओं को टूटने और दिल का दौरा पड़ने से रोकने में मदद करती हैं.

कैसे व्यक्ति लें स्टैटिन दवा

अगर आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल ज्यादा है लेकिन सामान्य है. अर्थात आपको हृदय रोग का जोखिम या दिल का दौरा पड़ने का खतरा कम है तो स्टेटिन लेने की जरूरत नहीं है. इसे आप अपने डायट से सुधारने की कोशिश कर सकते हैं. लेकिन, जिन्हें खतरा ज्यादा है वे इसे जरूर लें.

इसके अलावा कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए PCSK9 इनहिबिटर भी ले सकते हैं. इस वर्ग की दो औषधियां हैं एलिरोक्यूमाब (प्रैलेंट) और इवोलोकुमब (रेपाथा) मार्केट में उपलब्ध हैं. लेकिन, इन दवाओं को उपयोग में लाने से पहले आप डॉक्टर से परामर्श लेना न भूलें.

Note : उपरोक्त जानकारियां अंग्रेजी वेबसाइट हेल्थ हार्वर्ड में छपी रिपोर्ट के आधार पर है. इसे छोड़ने या अपनाने से पहले इस मामले के जानकार डॉक्टर या डाइटीशियन से जरूर सलाह ले लें.

Posted By : Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें