1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. bollywood
  4. sonu nigam reaction on hindi language row sparke by ajay devgn kichcha sudeep singer says this dvy

Ajay Devgn-Kichcha Sudeep के भाषा विवाद पर आया सोनू निगम का रिएक्शन, जानें सिगर ने क्या कहा

हिंदी भाषा पर चल रही बहस को लेकर सोनू निगम ने एक इंटरव्यू में कहा कि, संविधान में कहीं भी यह नहीं लिखा है कि हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Sonu nigam
Sonu nigam
instagram

साउथ एक्टर किच्चा सुदीप (Kiccha Sudeepa) और अजय देवगन के बीच हाल ही में कोल्ड वॉर देखने को मिला. किच्चा ने अपने एक बयान में कहा था कि हिंदी अब राष्ट्रीय भाषा नहीं रह गई. जिसके बाद अजय देवगन (Ajay Devgn) ने इसके जवाब में कहा था कि हिंदी हमारी मातृभाषा और राष्ट्रीय भाषा थी, है और हमेशा रहेगी. अब इसपर सिंगर सोनू निगम ने अपनी राय रखी है.

सोनू निगम ने कही ये बात

हिंदी भाषा पर चल रही बहस को लेकर सोनू निगम ने एक इंटरव्यू में कहा कि, 'संविधान में कहीं भी यह नहीं लिखा है कि हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है. यह सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा हो सकती है, लेकिन राष्ट्रभाषा नहीं. तमिल सबसे प्राचीन भाषा है. संस्कृत और तमिल के बीच एक बहस है. लेकिन लोग कहते है कि तमिल पूरी दुनिया की सबसे पुरानी भाषा है.'

पंजाबी पंजाबी में बोल सकते है...

सोनू निगम ने कहा कि किसी को यह नहीं बताया जाना चाहिए कि किस भाषा में बोलना है. सोनू ने कहा, 'पंजाबी पंजाबी में बोल सकते है, तमिल तमिल में बात कर सकते है और यदि वो सहज है तो वे अंग्रेजी में बात कर सकते है. हमारे कोर्ट के सारे फैसले अंग्रेजी में दिए जाते है, ये क्या है हमें हिंदी बोलना चाहिए.'

'किच्चा सुदीप ने क्या कहा था?'

गौरतलब है कि किच्चा सुदीप ने एक इंटरव्यू में कहा था, हिंदी अब राष्ट्रभाषा नहीं रही. वे (बॉलीवुड) आज पैन-इंडियन फिल्में कर रहे हैं. वे तेलुगु और तमिल में डबिंग करके (सफलता पाने के लिए) संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है. आज हम ऐसी फिल्में बना रहे हैं जो हर जगह जा रही हैं."

'हिंदी हमारी मातृभाषा और...'

इसके जवाब में अजय देवगन ने हिन्दी में ट्वीट कर लिखा था, मेरे भाई, आपके अनुसार अगर हिंदी हमारी राष्ट्रीय भाषा नहीं है तो आप अपनी मातृभाषा की फ़िल्मों को हिंदी में डब करके क्यूँ रिलीज़ करते हैं? हिंदी हमारी मातृभाषा और राष्ट्रीय भाषा थी, है और हमेशा रहेगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें