क्‍या विरोध करने पर ''सावधान इंडिया'' से निकाले गये सुशांत ? ''स्टार भारत'' ने बताई पूरी सच्चाई

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

मुंबई : सुशांत सिंह द्वारा ‘सावधान इंडिया' क्राइम शो से अप्रत्याशित रूप से अलग होने की घोषणा करने के एक दिन बाद चैनल ने बुधवार को कहा कि सुशांत की राजनीतिक संलिप्तता से उनके शो से अलग होने का कोई लेना देना नहीं है. सुशांत ने देर रात सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखकर कहा था कि सावधान इंडिया और उनका साथ खत्म हुआ.

उन्होंने संकेत दिया था कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) का विरोध करने के कारण उन्हें शो से अलग होना पड़ा. ट्विटर पर यह खबर साझा करते हुए उन्होंने संकेत दिया कि सीएए के विरोध में भाग लेने के कारण उन्हें कार्यक्रम छोड़ना पड़ा.

हालांकि सुशांत ने कहा था कि विरोध में बोलने के लिए यह छोटी सी कीमत चुकानी पड़ी. सुशांत ने लिखा, “और सावधान इंडिया के साथ मेरा साथ खत्म हुआ.” उनकी पोस्ट पर टिप्पणी करते हुए एक व्यक्ति ने पूछा कि क्या ‘सच बोलने के लिए' उन्हें यह ‘कीमत' चुकानी पड़ी. अभिनेता ने इसका जवाब देते हुए कहा, “एक बहुत छोटी कीमत मित्र। अन्यथा आप भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु से नजरें कैसे मिलाएंगे?”

बाद में एक साक्षात्कार में सुशांत ने कहा कि उन्हें वित्तीय संकट के बारे में बताया गया जिसके बारे में उन्हें पहले जानकारी नहीं थी. स्टार भारत के प्रवक्ता ने कहा कि किसी कलाकार की राजनीतिक विचारधारा से शो का कोई लेना देना नहीं है.

प्रवक्ता ने कहा, “सावधान इंडिया में हुए बदलाव पर आई कुछ प्रतिक्रियाओं से स्टार भारत निराश है. सावधान इंडिया ने अपनी सात साल की यात्रा में कार्यक्रम के प्रारूप के साथ बहुत सारे प्रयोग किए हैं और कई प्रस्तोताओं को रखा है. वर्तमान प्रस्तोता को अक्टूबर 2019 में वापस लाया गया था और उनका अनुबंध 15 जनवरी 2020 को समाप्त हो रहा है.'

उन्‍होंने आगे कहा,' सावधान इंडिया के अगले प्रारूप में प्रस्तोता की जरूरत नहीं है इसलिए किसी नए अनुबंध पर हस्ताक्षर नहीं किया गया. चैनल का कोई राजनीतिक मत नहीं है न ही वह अपने द्वारा अनुबंधित किसी कलाकार की राजनीतिक विचारधारा को प्रभावित करता है.” सुशांत सिंह सावधान इंडिया के प्रस्तोता के रूप में 2012 से काम कर रहे थे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें