1. home Hindi News
  2. election
  3. bjp forming govt in manipur getting 33 34 seats in exit polls mtj

Manipur Exit Poll: मणिपुर में भाजपा सरकार की वापसी, मिलेंगी 33-43 सीटें, 8 सीट पर सिमट जायेगी कांग्रेस

भारतीय जनता पार्टी को अगर 33 सीटें भी मिलती हैं, तो यह बहुमत के आंकड़े से ज्यादा है. कांग्रेस पार्टी को सिर्फ 4 से 8 सीटें मिलती दिख रही है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Manipur Exit Poll: 8 सीटों पर सिमट जायेगी कांग्रेस
Manipur Exit Poll: 8 सीटों पर सिमट जायेगी कांग्रेस
Prabhat Khabar Graphics

Manipur Exit Poll: एग्जिट पोल के नतीजे आ गये हैं. इसमें कहा गया है कि मणिपुर (Manipur) में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार की वापसी हो रही है. यहां भाजपा को न सिर्फ 41 फीसदी वोट हासिल हो रहे हैं, बल्कि 33 से 43सीटें उसे मिलती दिख रही है. वोट प्रतिशत के मामले में भी कांग्रेस और भाजपा के बीच बड़ा अंतर दिख रहा है. कांग्रेस को सिर्फ 18 फीसदी वोट मिलता दिख रहा है.

भाजपा की बनेगी बहुमत की सरकार

एनपीपी को इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया (India Today-Axis My India) के एग्जिट पोल में 8 फीसदी और एनपीएफ को 16 फीसदी वोट मिलता दिख रहा है. मणिपुर में अन्य दलों को 17 फीसदी वोट मिलने का अनुमान जताया गया है. भारतीय जनता पार्टी को अगर 33 सीटें भी मिलती हैं, तो यह बहुमत के आंकड़े से ज्यादा है. कांग्रेस पार्टी को सिर्फ 4 से 8 सीटें मिलती दिख रही है.

एनपीएफ और एनपीपी को 8 सीटें मिलने का अनुमान

कांग्रेस की ही तरह एनपीएफ को भी 4 से 8 सीटें मिलने का अनुमान जताया जा रहा है. एनपीपी को भी 4 से 8 सीटें ही मिलने का अनुमान EXIT POLL में जताया गया है. अन्य दलों को 2 से 7 सीटें मिलने का अनुमान है. अगर एग्जिट पोल के अनुमान नतीजों में बदल जाते हैं, तो मणिपुर में आसानी से लगातार दूसरी बार भाजपा की सरकार बन जायेगी.

अकेले सरकार बना लेगी भाजपा

ज्ञात हो कि वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में मणिपुर भाजपा ने 21 सीटें जीतीं थीं. बीजेपी ने तब नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी), नागा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) और लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के समर्थन से सरकार बनायी थी. अबकी बार अगर पार्टी को 33 से 43 सीटें मिल जाती हैं, तो उसे किसी के समर्थन की जरूरत नहीं पड़ेगी.

2017 में ऐसे थे नतीजे

वर्ष 2017 में भाजपा ने 21, कांग्रेस ने 28, एनपीएफ ने 4, लोजपा ने 1, एनपीईपी ने 4, तृणमूल कांग्रेस ने 1 और 1 निर्दलीय उम्मीदवार को जीत मिली थी. सबसे ज्यादा सीटें जीतने के बावजूद कांग्रेस सरकार नहीं बना पायी थी. भाजपा ने कम सीटें जीतने के बावजूद समय रहते क्षेत्रीय दलों को अपने पाले में कर लिया और सरकार बना ली.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें