1. home Hindi News
  2. career
  3. cbse 12th exam update 2021 cbse 12th result formula will be sent to schools in two three days this option will be done if you are not satisfied with the result srn

सीबीएसइ स्कूलों को दो-तीन दिन में भेजा जायेगा 12वीं के रिजल्ट का फॉर्मूला, रिजल्ट से संतुष्टि न मिलने पर होगा ये विकल्प

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सीबीएसइ स्कूलों को दो-तीन दिन में भेजा जायेगा 12वीं के रिजल्ट का फॉर्मूला
सीबीएसइ स्कूलों को दो-तीन दिन में भेजा जायेगा 12वीं के रिजल्ट का फॉर्मूला
फाइल

CBSE 12th Exam Latest Update रांची : केंद्र सरकार और सीबीएसइ की बैठक के बाद मंगलवार को सीबीएसइ 12वीं बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी गयी. इसके साथ ही लंबे समय से 12वीं बोर्ड परीक्षा को लेकर असमंजस में चल रहे विद्यार्थियों की जिज्ञासा खत्म हो गयी है. कोरोना संक्रमण की मौजूदा स्थिति और भविष्य में तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए बोर्ड ने परीक्षा रद्द करने का निर्णय लिया है.

सीबीएसइ द्वारा जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि जो विद्यार्थी बोर्ड द्वारा जारी रिजल्ट से संतुष्ट नहीं होंगे, उन्हें बेहतर अंक हासिल करने के लिए परीक्षा में शामिल होने का मौका दिया जायेगा. वहीं, बोर्ड की ओर से दो-तीन दिन में 10वीं की तरह 12वीं का रिजल्ट तैयार करने का फॉर्मूला भेज दिया जायेगा.

झारखंड में शामिल 387 सीबीएसइ प्लस टू स्कूल से विद्यार्थी 12वीं बोर्ड परीक्षा में शामिल होनेवाले थे. इन स्कूलों में 12वीं के तीन संकाय साइंस, आर्ट्स और कॉमर्स को मिलाकर करीब 45200 विद्यार्थी थे. इनमें साइंस में करीब 30 हजार, कॉमर्स में 8700 और आर्ट्स में 6500 विद्यार्थी शामिल थे.

वहीं, रांची में शामिल 63 सीबीएसइ स्कूल में 10800 परीक्षा इस वर्ष 12वीं बोर्ड परीक्षा में शामिल हो रहे थे. इनमें साइंस के करीब 65 फीसदी विद्यार्थी थे, वहीं अन्य 35 फीसदी विद्यार्थी कॉमर्स और आर्ट्स में शामिल थे. राज्य में सीबीएसई स्कूलों के प्राचार्यों की मानें, तो परीक्षा का आयोजन न करने को लेकर विद्यार्थी और अभिभावक लगातार स्कूल से संपर्क कर रहे थे.

स्पेशल सत्र में विद्यार्थियों को मिलेगी छूट

सरकार ने छात्र और अभिभावक हित में निर्णय लिया है. कोरोना संक्रमण के कारण शैक्षणिक सत्र 2020-21 स्पेशल बन गया है. विद्यार्थी परीक्षा को लेकर तनाव में थे. 12वीं का रिजल्ट 10वीं की तरह ही स्पेशल मार्किंग फॉर्मूला के साथ तैयार किया जायेगा. इसका गाइडलाइन दो दिन के भीतर स्कूलों को मिल जायेगा. परीक्षा रद्द होने से विद्यार्थी परेशान न हो, इस वर्ष कॉलेज एडमिशन के क्राइटेरिया भी बदलेंगे. 70 फीसदी अंक के निश्चित क्राइटेरिया को एडमिशन के क्रम में कम करने पर भी निर्णय लिया जायेगा. विद्यार्थी को अच्छे नॉलेज के साथ अपने लक्ष्य की तैयारी में जुटे रहना होगा.

- डॉ मनोहर लाल, पूर्व क्षेत्रीय समन्वयक सीबीएसइ

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें