1. home Hindi News
  2. business
  3. railtel ipo opens today latest updates hindi news indian railways sale 27 percent share railtel ipo full details prt

Railtel IPO: निवेश के लिए खुला रेलटेल का आईपीओ, इनवेस्ट करने से पहले पढ़ लें ये खबर

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Railtel IPO, Hindi News: आज खुल रहा है रेल टेल आईपीओ
Railtel IPO, Hindi News: आज खुल रहा है रेल टेल आईपीओ
प्रतीकात्मक तस्वीर
  • निवेश के लिए खुला रेलटेल का आईपीओ

  • 27 फीसदी हिस्सेदारी बाजार में बिक रही है

  • प्राइस बैंड 93 रुपये से लेकर 94 रुपये प्रति शेयर है

Railtel IPO, Hindi News, Indian Railway: आईआरसीटीसी (IRCTC) और आईआरएफसी (IRFC) के बाद भारतीय रेलवे (Indian Railway) की एक और कंपनी रेलटेल (Railtel) का आईपीओ आज खुल रहा है. शेयर बाजार में निवेश करने वालों के लिए यह कमाई का एक और मौका के रुप में देखा जा रहा है. इस IPO में लोग आज यानी 16 फरवरी से 18 फरवरी तक बोली लगा सकते हैं. ऐसे में अगर आप भी इसमें निवेश की सोच रहे है तो पहले यहां जान लें सभी जरूर बात...

बता दें, रेलटेल का शेयर शेयर बाजार के बीएसई और एनएसई दोनों इंडेक्स पर इनलिस्ट होगा. सरकार अपनी 27 फीसदी हिस्सेदारी बाजार में बेच रही है. रुपये के हिसाब से देखें तो सरकार 8.7 करोड़ रुपये के शेयर बेच रही है. आज से लेकर 18 फरवरी तक इस कोई भी बोली लगाकर यहां से रेलटेल का शेयर खरीद सकता है. प्रत्येक शेयर की कीमत 93-94 रुपये तय की है.

बता दें कि, रेलटेल के आईपीओ का आकार 819 करोड़ रुपये का है. वहीं, इस आईपीओ में 8, करोड़ 71 लाख 53 हजार 3 सौ 69 इक्विटी शेयर रहेंगे. जबकि, इसमें से 5 लाख इक्विटी शेयर कंपनी ने कर्मचारियों के लिए रिजर्व कर रखा है. कुल मिलाकर कहे तो रेलटेल में सरकार अपनी 27 फीसद हिस्सेदारी घटा रही है.

रेलटेल आईपीओ की खास बातें

  • रेलटेल की स्थापना साल 2000 में हुई थी.

  • रेलटेल आईपीओ का प्राइस बैंड 93 रुपये से लेकर 94 रुपये प्रति शेयर है.

  • इस आईपीओ के तहत 8,71,53,369 शेयर ऑफर के जरिए बेचे जाएंगे.

  • अपनी 27 फीसदी हिस्सेदारी बेच रही है सरकार

  • निवेशक अधिक से अधिक 13 लॉट साइज के लिए बोली लगा सकते हैं.

कब हुई थी स्थापना: गौरतलब है कि रेलटेल कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (RailTel Corporation of India) भारतीय रेलवे (Indian Railway) का एक उपक्रम है. जिसकी स्थापना 26 सितंबर 2000 को हुई थी. इसका मुख्य काम इन्फॉर्मेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी इन्फ्रास्ट्रक्चर मुहैया कराना है. इसके अलावा यह भारत सरकार की सबसे बड़ी न्यूट्रल टेलीकॉम इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रदाता कंपनी भी है. जो रेलवे मंत्रालय के तहत काम करती है. यह ट्रेनों के नियंत्रण संचालन, सुरक्षा और देश भर में ब्रॉडबैंड और मल्टी मीडिया नेटवर्क सुविधाएं उपलब्ध कराती है. रेल टेल आईपीओ खोलने तथा News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें हमारे साथ.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें