आखिर सातवें दिन गिरा बाजार, सेंसेक्‍स 106 अंक टूटा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

मुंबई: बाजार में पिछले छह करोबारी सत्रों से जारी तेजी पर आज विराम लग गया और बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 106.38 अंक की गिरावट के साथ 26,314.29 अंक पर बंद हुआ. नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 22.20 अंक कमजोर होकर 7,875.30 अंक पर बंद हुआ. तेल एवं गैस, रोजमर्रा के उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों तथा पूंजीगत सामान कंपनियों के शेयरों में मुनाफावसूली से बाजार में गिरावट आयी. वहीं दूसरी तरफ चुनिंदा औषधि, बिजली, रीयल्टी तथा आईटी शेयर मांग में रहे.

मजबूती के साथ खुला सेंसेक्‍स और निफ्टी

तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स मजबूती के साथ खुला और वॉल स्टरीट में कल की तेजी के बाद एशियाई बाजारों में मजबूती के दम पर तुरंत 26,504.52 तक पहुंच गया. हालांकि अंत में यह 106.38 अंक या 0.40 प्रतिशत की गिरावट के साथ 26,314.29 अंक पर बंद हुआ.

सेंसेक्स कल अब तक के रिकार्ड स्तर 26,420.67 अंक पर बंद हुआ था और कारोबार के दौरान 26,530.67 अंक तक चला गया था. पिछले छह करोबारी सत्रों में इसमें 1,091.53 अंक या 4.31 प्रतिशत की मजबूती आयी थी. नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी मजबूती के साथ खुला और एक समय रिकार्ड 7,915.80 अंक तक चला गया लेकिन बाद में 22.20 अंक या 0.28 प्रतिशत की गिरावट के साथ 7,875.30 अंक पर बंद हुआ.

वैश्विक स्‍तर पर कमजोर रुख से गिरा बाजार

रेलिगेयर सिक्योरिटीज के अध्यक्ष (खुदरा वितरण) जयंत मांगलिक ने कहा, ''शेयर बाजारों में गिरावट दर्ज की गयी. इसका कारण वैश्विक स्तर से कोई मजबूत रुख नहीं मिलना रहा. इसको देखते हुए निवेशकों ने शेयर विशेष पर ध्यान देने का रुख अपनाया और मुख्य रुप से औषधि कंपनियों को तवज्जो दी. छह दिन की तेजी के बाद मुनाफावसूली सामान्य बात है.''

कंपनी के शेयरों की स्थिति

डा. रेड्डीज लैब, रैनबैक्सी, सिप्ला तथा सन फार्मा जैसी औषधि कंपनियों के शेयरों में तेजी रही और सेंसेक्स और निफ्टी के शेयरों में ये सबसे लाभ में रहे. वाल स्टरीट में कल की तेजी के बाद एशियाई बाजारों में तेजी का रख रहा. चीन को छोडकर हांगकांग, जापान, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया तथा ताइवान के बाजारों में तेजी रही. हालांकि यूरोप के मुख्य बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट देखी गयी.

घरेलू शेयर बाजारों में सेंसेक्स के 30 शेयरों में 19 नुकसान में तथा 11 लाभ में रहे. नुकसान में रहने वाले शेयरों में ओएनजीसी (2.62 प्रतिशत), टाटा मोटर्स (1.37 प्रतिशत), महिंद्रा एंड महिंद्रा (1.21 प्रतिशत), एचडीएफसी (1.19 प्रतिशत), आईटीसी (1.12 प्रतिशत), भारतीय स्टेट बैंक (1.10 प्रतिशत), रिलायंस इंडस्टरीज (1.04 प्रतिशत) तथा एचयूएल (1.00 प्रतिशत) शामिल हैं. इसके अलावा एक्सिस बैंक तथा भारती एयरेटल में भी गिरावट दर्ज की गयी.

वहीं लाभ में रहने वाले शेयरों में औषधि शेयरों के अलावा टाटा पावर (1.73 प्रतिशत), भेल (1.47 प्रतिशत) तथा एनटीपीसी (1.08 प्रतिशत) शामिल हैं. बीएसई के खंडवार सूचकांकों में सर्वाधिक नुकसान में तेल एवं गैस, एफएमसीजी, वाहन तथा पूंजीगत वस्तु रहे, वहीं स्वास्थ्य क्षेत्र, बिजली तथा रीयल्टी सूचकांकों में तेजी रही.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें