Corona Virus से प्रभावित चीन काम करने के लिए संघर्ष कर रही हैं विदेशी कंपनियां

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बीजिंग : यूरोपीय संघ के एक व्यापारिक संगठन ने मंगलवार को कहा कि विदेशी कंपनियां वायरस प्रभावित चीन में काम फिर से शुरू करने के लिए कड़ा संघर्ष कर रही हैं. उन्हें आपूर्ति शृंखला में बाधा, बढ़ता हुआ माल भंडार और बीमारी को रोकने के लिए बनाये गये नियमों का सामना करना पड़ रहा है. चीन में यूरोपीय यूनियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष जॉर्ज वुटके ने कहा कि दुनिया भर में कई दवा कंपनियां चीन से माल मंगाती हैं. ऐसे में, यदि महामारी का जल्द समाधान नहीं हुआ, तो एंटीबॉयोटिक्स और अन्य दवाओं की कमी हो सकती है.

चीन में जनवरी के अंत में त्योहारी मौसम के बाद बेहद धीमी रफ्तार से काम शुरू हुआ है, क्योंकि वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए लोगों को घर में ही रहने के लिए कहा गया है. वुटके ने कहा कि पूरी प्रक्रिया को दोबारा पटरी पर लाना कठिन साबित हो रहा है और यह कब तक चलने वाला है, इसका कोई अंदाज नहीं है.

चीन का वुहान प्रांत अमेरिका, यूरोप और जापानी कार निर्माताओं और इलेक्ट्रॉनिक्स आपूर्तिकर्ताओं का बड़ा केंद्र है और इसी प्रांत में इस महामारी का सबसे अधिक प्रकोप है. ऐसे में, कारोबार बुरी तरह प्रभावित हो रहा है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें