सेंसेक्स 1422 अंक चढ़ा, निवेशकों को 5.33 लाख करोड़ रूपये का फायदा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मुंबई : एग्जिट पोल में नरेंद्र मोदी सरकार के फिर से सत्ता में आने के पूर्वानुमानों से उत्साहित निवेशकों ने सोमवार को शेयर बाजार में जमकर लिवाली की. इससे सेंसेक्स 1422 अंक उछलकर 39,352.67 अंक पर पहुंच गया. निफ्टी सूचकांक भी 421 अंक से अधिक चढ़ गया. यह निफ्टी की पिछले दस साल में एक दिन में आने वाली सबसे बड़ी वृद्धि है. सेंसेक्स में भी सोमवार को एक दिन की पिछले छह सालों की सबसे बड़ी बढ़त दर्ज की गयी.
सेंसेक्स में 1,422 अंक की वृद्धि के बाद बीएसइ में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 5,33,463.04 करोड़ रुपये बढ़ गया. सोमवार को कारोबार की समाप्ति पर बीएसइ में सूचीबद्ध कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण 1,51,86,312.05 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. सेंसेक्स में कारोबार की शुरुआत की बड़े अंतर के साथ हुई और कारोबार की समाप्ति पर यह 1422 अंक बढ़कर 39,352.67 अंक पर बंद हुआ. निफ्टी 421 अंक की तेजी के साथ 11,828.25 अंक पर बंद हुआ. यह इसका बंद होने के समय का अब तक का रिकाॅर्ड उच्च स्तर है.
ये शेयर रहे लाभ में
सेंसेक्स में बढ़त पाने वाले शेयरों में इंडसइंड बैंक, स्टेट बैंक, टाटा मोटर्स, यस बैंक, लार्सन एण्ड टुब्रो, एचडीएफसी, मारुति सुजूकी और ओएनजीसी के शेयरों में 8.64 प्रतिशत तक की वृद्धि दर्ज की गयी. बजाज आॅटो और इंफोसिस इन दो शेयरों को छोड़कर सेंसेक्स में शामिल सभी शेयर लाभ में रहे.
सेंसेक्स
39352.67
Ý 3.75%
िनफ्टी
11828.25
Ý 3.69%
Ý 3.69%
एनडीए सरकार से निवेशकों को ये हैं उम्मीदें
1. अधूरे काम को पूरा करेगी : एनडीए सरकार के सत्ता में बने रहने से आर्थिक सुधारों की गति बनी रहेगी. पहले कार्यकाल में जिन कार्यों को शुरू किया गया, उन्हें आगे बढ़ाया जायेगा.
2. रेपो रेट पर फैसला : एनडीए सरकार की वापसी से लोगों को उम्मीद है कि आरबीआइ रेपो रेट में कटौती करे. जून में आरबीआइ की बैठक होगी, जिसमें रेपो रेट कटौती की उम्मीद है.
3. जीएसटी स्लैब में बदलाव: निवेशकों को उम्मीद है कि एनडीए सरकार जीएसटी स्लैब को लेकर बदलाव कर सकती है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी स्लैब में बदलाव को लेकर संकेत दिये थे.
भारतीय शेयर बाजारों ने उम्मीद के अनुरूप ही एग्जिट पोल के परिणामों को सराहा है. इससे निफ्टी ने 25 जनवरी 2009 के बाद की सबसे बड़ी बढ़त दर्ज की है. -धीरज रेल्ली, प्रबंध निदेशक व सीइओ ,एचडीएफसी सिक्युरिटीज
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें