26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Women’s Day Special: आधी आबादी की पहुंच में आया इंटरनेट, लेकिन ट्रोलिंग का सता रहा डर

सर्वे प्लैटफॉर्म लोकल सर्कल्स की एक रिपोर्ट कहती है कि भारत में 10 में 8 शहरी महिलाएं इंटरनेट का इस्तेमाल कर रही हैं. लेकिन दूसरी तरफ कई महिलाएं ऑनलाइन शोषण, दुर्व्यवहार, ट्रोलिंग से परेशान हैं और इसके खिलाफ कार्रवाई चाहती हैं.

Women’s Day Special Report: भारत में सामाजिक, आर्थिक और अन्य क्षेत्रों में महिलाओं की स्थिति बहुत अच्छी नहीं मानी जाती है, लेकिन एक हालिया सर्वे में इस बारे में कुछ अच्छे संकेत देखने काे मिल रहे हैं. सर्वे प्लैटफॉर्म लोकल सर्कल्स की एक रिपोर्ट कहती है कि भारत में 10 में 8 शहरी महिलाएं इंटरनेट का इस्तेमाल कर रही हैं. लेकिन दूसरी तरफ कई महिलाएं ऑनलाइन शोषण, दुर्व्यवहार, ट्रोलिंग से परेशान हैं और इसके खिलाफ कार्रवाई चाहती हैं. लोकल सर्कल्स द्वारा कराये गए एक अध्ययन में यह दावा किया गया है. अध्ययन में कहा गया है कि शहरों की 76 प्रतिशत महिलाएं परिवारों और दोस्तों के संपर्क में रहने के लिए इंटरनेट का उपयोग कर रही हैं. वहीं, 57 प्रतिशत महिलाएं सूचनाएं पाने और मनोरंजन के लिए इंटरनेट का उपयोग कर रही हैं.

…ताकि महिला इंटरनेट यूजर्स सुरक्षित महसूस करें

लोकलसर्कल्स ने अध्ययन की रिपोर्ट में कहा कि लगभग 83 प्रतिशत महिलाओं का मानना है कि उनके खिलाफ ट्रोलिंग, शोषण, दुर्व्यवहार, अवैध वसूली और धोखाधड़ी पर रोक लगाने के लिए और ज्यादा कार्रवाई किये जाने की जरूरत है, जिससे महिलाएं इंटरनेट का उपयोग करते हुए ज्यादा सुरक्षित महसूस कर सकें. सर्वेक्षण के अनुसार, इंटरनेट का उपयोग करते समय शहरी महिलाओं की सबसे बड़ी चिंता ऑनलाइन यौन शोषण, ट्रोलिंग, दुर्व्यवहार, अवैध वसूली और धोखाधड़ी हैं.

Also Read: Wonder Woman: मिलिए देश की पहली महिला ट्रक मेकैनिक से, मिनटों में ठीक कर देती हैं भारी भरकम टायर

सर्वे में कौन-कौन शामिल थे?

अध्ययन में देश के 301 शहरी जिलों के लगभग 23,000 प्रतिभागियों की प्रतिक्रियाएं मिलीं, जिनमें 61 प्रतिशत पुरुष जबकि 39 प्रतिशत महिलाएं थीं. रिपोर्ट के अनुसार, इनमें 48 प्रतिशत पहली श्रेणी के, 35 प्रतिशत दूसरी श्रेणी के और 17 प्रतिशत तीसरी और चौथी श्रेणी के शहरों से थे. लोकल सर्कल्स का कहना है कि वह इस सर्वे में सामने आये नतीजों को केंद्रीय मंत्रालयों के साथ भी साझा करेगा जिसमें गृह मंत्रालय, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मिनिस्ट्री आदि शामिल हैं. (भाषा इनपुट के साथ)

Also Read: eBaby: ऑनलाइन स्‍पर्म मंगाकर प्रेग्‍नेंट हुई महिला, जानें कैसे हुआ यह कमाल?

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें