30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

40 डिग्री टेंपरेचर में भी कार बनी रहेगी कश्मीर, अपनाने होंगे ये 5 तरीके

Car Tips: गर्मी के दिनों में कार को जल्द ही कूल करने के लिए एयर कंडीशनर को नियमित तौर पर सर्विसिंग कराते रहना बेहद जरूरी है. समय-समय पर इसकी सर्विसिंग कराते रहने के कई फायदे होते हैं.

Car Tips: भारत में गर्मी प्रचंड रूप धारण करती जा रही है. घर में रहने और घर से निकलने में भी दिक्कत महसूस हो रही है. ऐसी स्थिति में अगर आप कार से सफर करते हैं, तो भीषण गर्मी में कार का एसी (एयर कंडीशनर) भी काम करना बंद कर देता है. फिर आपको चिपचिपाते पसीने में सफर करना पड़ता है या फिर कार के केबिन को ठंडा होने का इंतजार करना पड़ता है. कार के केबिन को गर्म होने और भीषण गर्मी में एसी का सही तरीके से काम नहीं करने के पीछे कई कारण हो सकते हैं. ऐसा होना भी संभव है कि जाने-अनजाने में आप गलतियों पर गलतियां करते जा रहे हों, जिसकी वजह से गर्मी में परेशानी झेलनी पड़ती है. अगर आप कुछ जरूरी आदतों को अपना लेंगे, तो आपकी कार का केबिन 40 डिग्री टेंपरेचर में भी कश्मीर जैसी ठंडक का एहसास दिलाएगा. आइए, इस टिप्स को 5 अहम बिंदुओं में समझने की कोशिश करते हैं.

कार को धूप में पार्क करने से बचें

कार के केबिन को गर्म होने और एसी को सही तरीके से काम करने के लिए आपको इस बात पर गौर करना होगा कि आप अपनी गाड़ी को धूप में पार्क न करें. हो सके, तो छांव वाली जगह पर पार्क करने की कोशिश करें. धूप में कार पार्क करने से उसका केबिन काफी गरम हो जाता है और फिर जब आप काम खत्म करने के बाद उसमें बैठते हैं, तो एसी सही तरीके से काम नहीं करता है. कार में बैठने के काफी देर बाद आपका केबिन ठंडा होता है. लेकिन, जब आप अपनी गाड़ी को धूप में पार्क नहीं करेंगे, तब आपको ऐसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा.

सन शेड का करें इस्तेमाल

कई बार आदमी को कार पार्क करने के लिए छाया वाली जगह नहीं मिल पाती है. मजबूरन उसे चिलचिलाती धूप में कार पार्क करना पड़ता है. जब आपके सामने इस प्रकार की मजबूरी आ जाए, तो आप सन शेड का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसे आप ऑन लाइन या बाजार से खरीद सकते हैं. बाजार में यह 250 से 1000 रुपये तक की कीमत में आ जाता है. इसमें यह आपको फ्रंट रोलर, मैग्नेटिक, मैग्नेटिक जिपर और नॉन मैग्नेटिक टाइप में मिल जाएगा. कड़ी धूप में कार पार्क करने के बाद सन शेड के इस्तेमाल से केबिन भाप का चैंबर बनने से रोका जा सकता है. इसके बाद जब आप कार में बैठेंगे, तो आपका एसी सिस्टम कम समय में ही केबिन को ठंडा कर देगा.

केबिन को कुछ खुला रखें

भीषण गर्मी में कार के अंदर के टेंपरेचर को कम करने का सबसे सस्ता उपाय कार के दरवाजों को खोलकर कुछ देर तक केबिन में हवा जाने देना चाहिए. दरवाजों को खोलकर छोड़ देने के बाद वेंटिलेशन सिस्टम से केबिन की गर्मी बाहर निकल जाएगी और जब आप कार में बैठकर एसी सिस्टम को ऑन करेंगे, तब आपकी गाड़ी जल्द ठंडी हो जाएगी.

एसी फिल्टर को हमेशा करते रहें क्लीन

गौर करने वाली बात यह भी है कि गर्मी का मौसम हो या फिर जाड़ा. दोनों ही मौसम में आदमी कार की एसी का इस्तेमाल करता है. गर्मी के मौसम में कार के एसी सिस्टम को सही तरीके से काम करने देने के लिए यह जरूरी है कि उसके फिल्टर को हमेशा क्लीन करते रहें. आम तौर पर प्रत्येक कारों में एसी का फिल्टर डैशबोर्ड के नीचे दिया जाता है, जहां से ठंडी हवा केबिन में आती है. गंदगी के चलते एसी का फिल्टर चौक हो जाता है और फिर वह ठंडी हवा नहीं दे पाता है. अगर आप फिल्टर की सफाई कर देंगे, तो गर्मी में आपका एसी सिस्टम कम समय में कार को कूल कर देगा.

कार की एसी को नियमित तौर पर कराएं सर्विसिंग

गर्मी के दिनों में कार को जल्द ही कूल करने के लिए एयर कंडीशनर को नियमित तौर पर सर्विसिंग कराते रहना बेहद जरूरी है. समय-समय पर इसकी सर्विसिंग कराते रहने का फायदा यह होता है कि यदि आपको कभी भी लंबी दूरी का सफर तय करना है या गर्मी के मौसम में कार के केबिन को तुरंत कूल करना है, तो आप यह काम आसानी से कर सकते हैं. सर्विस कराने से एक तो एसी में गैस रीफिल हो जाती है. दूसरा, अगर उसमें किसी प्रकार की कोई खराबी होगी, तो उसकी भी मरम्मत हो जाएगी और गर्मी में कश्मीर का एहसास होगा, सो अलग से.

जो बिका, वो सिकंदर : एथर रिज्टा और ओला एस1 प्रो कौन बेहतर?

कार जैसी स्मार्ट चाबी…यामाहा जैसा ब्रांड, बाजार में लॉन्च हुआ धांसू स्कूटर

AC Helmet: गर्मी में ट्रैफिक पुलिस का माथा रहेगा ठंडा, आईआईएम के छात्रों ने किया कमाल

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें