16.4 C
Ranchi
Monday, February 26, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

HomeऑटोChinese Apps Fraud : चीनी ऐप्स से हो रही ठगी, अब चिह्नित कर प्रतिबंधित करने की कवायद

Chinese Apps Fraud : चीनी ऐप्स से हो रही ठगी, अब चिह्नित कर प्रतिबंधित करने की कवायद

चीनी ऐप के जरिये लोन और अन्य चीजों के बहाने लोगों से बड़े पैमाने पर ठगी की जा रही है. देश के स्तर पर ठगी के शिकार करीब 10 लोग आत्महत्या भी कर चुके हैं.

Chinese Apps Fraud : चाइनीज ऐप के माध्यम से हो रही ठगी की घटनाओं को रोकने के लिए झारखंड में सीआईडी डीजी अनुराग गुप्ता ने टास्क फोर्स बनाया है. इसमें 12 पुलिस अफसर और कर्मी शामिल किये गये हैं. उन्हें जिम्मेवारी दी गई है कि वह ठगी के लिए इस्तेमाल किये जा रहे चाइनीज ऐप को चिह्नित करेंगे. इसके साथ ही इन ऐप को प्रतिबंधित करने की दिशा में कार्रवाई करेंगे. इससे आम लोग इसके प्रयोग से बच सकेंगे. इसके लिए टास्क फोर्स में शामिल पुलिस अफसरों को सीआइडी डीजी ने विशेष ट्रेनिंग भी दिलायी है.

आइफोरसी के साथ हुई थी बैठक

मिली जानकारी के अनुसार सीआइडी डीजी ने कुछ दिन पूर्व भारत सरकार गृह मंत्रालय के अधीन काम करने वाली इंडियन साइबर क्राइम को-ऑर्डिनेशन सेंटर (आइफोरसी) के अधिकारियों के साथ ऑनलाइन वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक की थी. इस मौके पर यह मुद्दा सामने आया था कि चीनी ऐप के जरिये लोन और अन्य चीजों के बहाने लोगों से बड़े पैमाने पर ठगी की जा रही है. देश के स्तर पर ठगी के शिकार करीब 10 लोग आत्महत्या भी कर चुके हैं. इसके बाद सीआइडी एडीजी ने यह निर्णय लिया कि झारखंड में लोगों को इस ठगी का शिकार होने से बचाया जाये. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि क्योंकि राज्य में रांची सहित कुछ इलाकों में चीनी ऐप के जरिये पूर्व में लोन दिलाने के नाम पर ठगी के मामले सामने आ चुके हैं.

Also Read: SMS पर शॉर्ट URL के जरिये हो रही धोखाधड़ी, सरकार ने जारी की चेतावनी

व्हाट्सऐप, टेलीग्राम के जरिये क्रिप्टोकरेंसी फ्रॉड

सीआइडी ने हाल ही में साइबर अपराधियों द्वारा क्रिप्टोकरेंसी से संबंधित फ्रॉड को लेकर भी सावधान किया है. विभाग का कहना है कि इन दिनों साइबर अपराधियों द्वारा क्रिप्टोकरेंसी से संबंधित फ्रॉड करने की सूचना मिल रही है. इस अपराध को करने के लिए साइबर अपराधी आम लोगों से व्हाट्सऐप और टेलीग्राम के माध्यम से संपर्क करते हैं. लोगों को दोस्ती और शादी का झांसा देकर अपनी बातों में फंसाते हैं.

अधिक मुनाफा देने का झांसा देकर करते हैं ठगी

साइबर फ्रॉड इसके बाद क्रिप्टोकरेंसी में निवेश के नाम पर अधिक मुनाफा देने का झांसा देकर ठगी करते हैं. इससे संबंधित मामले समय-समय पर सामने आ रहे हैं. ठगी का पैसा विदेश में सक्रिय गलत एजेंसियों के पास जा रहा है. इसलिए मामले में सीबीआइ से लेकर एनआइए और आयकर विभाग विभाग भी इसके बारे में जानकारी एकत्र करने का प्रयास कर रही है. इसलिए आम लोगों को निवेश से पहले सावधान रहने की आवश्यकता है.

Also Read: Google Chrome यूजर्स के लिए सरकार ने जारी की हाई रिस्क वॉर्निंग, तुरंत अपडेट कर लें ब्राउजर

चीनी ऐप्स के जरिये हो रही ठगी, सावधानी जरूरी

हाल के वर्षों में, कई चीनी ऐप्स के माध्यम से भारत में लोगों को ठगा जा रहा है. इन ऐप्स का इस्तेमाल लोगों के व्यक्तिगत जानकारी, जैसे कि बैंक खाता विवरण, पासवर्ड और क्रेडिट कार्ड नंबर हासिल करने के लिए किया जाता है. एक बार जब यह जानकारी हासिल हो जाती है, तो इसका इस्तेमाल लोगों के खातों से पैसे निकालने के लिए किया जाता है.

चीनी ऐप्स से ठगी से बचने के लिए कुछ उपाय हैं –

केवल विश्वसनीय ऐप्स डाउनलोड करें

ऐप्स को डाउनलोड करने से पहले उनकी समीक्षाएं पढ़ें

ऐप्स को डाउनलोड करने से पहले अपने फोन के सुरक्षा सेटिंग्स को जांचें

ऐप्स को इस्तेमाल करते समय अपने व्यक्तिगत जानकारी को साझा न करें

यदि आपके साथ कोई ठगी होती है, तो तुरंत अपने बैंक को सूचित करें.

यदि आप किसी चीनी ऐप से ठगी का शिकार हो गए हैं, तो आप निम्नलिखित कदम उठा सकते हैं –

तुरंत अपने बैंक को सूचित करें

पुलिस में शिकायत दर्ज करें

राष्ट्रीय साइबर अपराध रिपोर्टिंग पोर्टल पर शिकायत दर्ज करें

अपने फोन को फैक्टरी रीसेट मोड पर रीसेट करें

अपने सभी खातों का पासवर्ड बदलें.

चीनी ऐप्स से ठगी से बचने के लिए सावधानी बरतें और अपनी व्यक्तिगत जानकारी को सुरक्षित रखें.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें