16.1 C
Ranchi
Friday, February 23, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeबड़ी खबरताइवान के राष्ट्रपति ने चीन को दी चेतावनी, कहा - युद्ध के लिए समुद्रपारीय संबंधों का न ले सहारा

ताइवान के राष्ट्रपति ने चीन को दी चेतावनी, कहा – युद्ध के लिए समुद्रपारीय संबंधों का न ले सहारा

ताइवान की राष्ट्रपति ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय बहुत स्पष्ट है कि ताइवान की सुरक्षा की रक्षा करना क्षेत्रीय स्थिरता और लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के बराबर है। यदि ताइवान की लोकतांत्रिक स्वतंत्रता नष्ट हो जाती है, तो यह दुनिया भर के लोकतंत्रों के लिए एक बड़ा झटका होगा.

ताइपेई : ताइवान के नेशनल डेर पर राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने सोमवार को चीन को चेतावनी देते हुए कहा कि युद्ध के लिए समुद्रपारीय संबंधों का सहारा लेना कोई विकल्प नहीं होना चाहिए. इसके साथ ही, उन्होंने यह भी कहा कि ताइवान की संप्रभुता पर समझौता की कोई जगह नहीं है. बता दें कि ताइवान के नेशनल डे को डबल टेन डे भी कहा जाता है. डबल टेन डे के मौके पर राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने अपने भाषण के दौरान कहा कि ताइवान के लोगों की सहमति के साथ हमारी संप्रभुता और हमारे स्वतंत्र तथा लोकतांत्रिक जीवन शैली की रक्षा करना है. इस पर समझौता करने की कोई गुंजाइश नहीं है.

ताइवानियों के आग्रह का सम्मान के बाद ही होगी बातचीत

डबल टेन डे पर ताइवावन की राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने कहा कि मैं बीजिंग के अधिकारियों से कहती हूं कि युद्ध के लिए समुद्रपारीय संबंधों सहारा लेने का विकल्प नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा कि केवल संप्रभुता, स्वतंत्रता और लोकतंत्र पर ताइवान के लोगों के आग्रह का सम्मान करके ही हम ताइवान जलडमरूमध्य में सकारात्मक बातचीत फिर से शुरू कर सकते हैं. अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी की यात्रा के बाद बढ़े तनाव के बीच ताइवान की राष्ट्रपति ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय बहुत स्पष्ट है कि ताइवान की सुरक्षा की रक्षा करना क्षेत्रीय स्थिरता और लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के बराबर है। यदि ताइवान की लोकतांत्रिक स्वतंत्रता नष्ट हो जाती है, तो यह दुनिया भर के लोकतंत्रों के लिए एक बड़ा झटका होगा.

चीन सागर में चीनी सैनिकों की गतिविधियां चिंताजनक

बता दें कि ताइवान के नेशनल डे के अवसर पर आयोजित समारोह में पलाऊ के राष्ट्रपति सहित कई अंतरराष्ट्रीय मेहमानों ने भाग लिया. ताइवान पूर्ण राजनयिक संबंध रखने वाले 14 देशों में से एक है. मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, इस समारोह में अमेरिकी कांग्रेस के सदस्य एडी बर्निस जॉनसन, टेक्सास के एक डेमोक्रेट भी उपस्थित थे. समारोह में अंतरराष्ट्रीय मेहमानों के सामने ताइवान के राष्ट्रपति ने रूस-यूक्रेन संघर्ष पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि रूस यूक्रेन के खिलाफ अपना युद्ध जारी रखे हुए है. वहीं, दक्षिण चीन सागर और पूर्वी चीन सागर में चीन की सैन्य गतिविधि और भारत-प्रशांत क्षेत्र में शांति और स्थिरता को कमजोर कर रहा है. हम उस चुनौती को बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं कर सकते, जो इन सैन्य विस्तारों ने स्वतंत्र और लोकतांत्रिक विश्व व्यवस्था के लिए खड़ी की है. ये घटनाक्रम ताइवान के साथ अटूट रूप से जुड़े हुए हैं.

चीन की दादागिरी के खिलाफ संकल्प दोहराया

इससे पहले, ताइवान के राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने बीजिंग की धमकियों के बावजूद उसकी ‘दादागिरी’ का मुकाबला करने के लिए दुनिया के साथ जुड़ने के लिए ताइवान के संकल्प का दोहराया था. खासकर, अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी की यात्रा के बाद ताइवान को चीन की सेना की ओर से बार-बार घुसपैठ का सामना करना पड़ रहा है. पेलोसी की यात्रा के बाद से लाइव-फायर मिसाइल परीक्षण, चीन के तट पर बड़े पैमाने पर सैन्य युद्धाभ्यास, ताइवान जलडमरूमध्य की मध्य रेखा को पार करने वाले युद्धक विमान और ताइवान के कब्जे वाले द्वीपों पर उड़ान भरने वाले नागरिक ड्रोन सभी अधिक सामान्य हो गए हैं.

Also Read: Taiwan: ‘चीनी आक्रमण की स्थिति में अमेरिकी सेना ताइवान की रक्षा करेगी’, राष्ट्रपति जो बाइडेन का बयान
नैन्सी पेलोसी की यात्रा के बाद बढ़ा तनाव

अमेरिकी सांसदों के स्वशासित द्वीप के दौरे के बाद चीन और ताइवान के बीच तनाव बढ़ गया. पेलोसी की यात्रा 25 वर्षों में द्वीप पर छूने के लिए सर्वोच्च रैंकिंग अमेरिकी अधिकारी बन गईं. बीजिंग द्वारा बड़े पैमाने पर सैन्य अभ्यास के कई दिनों के लिए ट्रिगर के रूप में उद्धृत किया गया, जिसमें चीन ने ताइवान वायु रक्षा पहचान क्षेत्र पर मिसाइलें दागीं और कई चीनी युद्धक विमानों ने ताइवान का उल्लंघन किया.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें