1. home Hindi News
  2. world
  3. india pakistan tension pakistan is completely nervous on this statement of america know what joe biden administration said on jammu and kashmir aml

India Pakistan Tension: अमेरिका की इस बात पर लगी पाकिस्तान को मिर्ची, जानें कश्मीर पर बाइडन प्रशासन ने क्या कहा

By AmleshNandan Sinha
Updated Date
पाकिस्तानी पीएम इमरान खान
पाकिस्तानी पीएम इमरान खान
twitter
  • अमेरिका के जो बाइडन प्रशासन ने जम्मू-कश्मीर को बताया भारत का हिस्सा

  • अमेरिका के बयान पर पाकिस्तान की इमरान खान सरकार को लगी मिर्ची

  • अमेरिका ने कहा कि जम्मू-कश्मीर को लेकर वह अपने पुराने रुख पर कायम है

India Pakistan Tension नयी दिल्ली : अमेरिका के नये राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) प्रशासन के कश्मीर को लेकर रुख पर पाकिस्तान की इमरान सरकार (Imran Khan) को मिर्ची लगी है. दरअसल अमेरिका के विदेश मंत्रालय की ओर से जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) को भारत का हिस्सा बताये जाने पर पाकिस्तान (Pakistan) बौखला गया है. बाइडन प्रशासन की ओर से यह भी कहा गया है कि हम जम्मू कश्मीर को लेकर अपने पुराने रुख पर कायम हैं.

बुधवार को अमेरिकी विदेश मंत्रालय के दक्षिण एवं मध्य एशिया ब्यूरो ने ट्वीट किया था कि भारत के जम्मू-कश्मीर में 4जी इंटरनेट सुविधा बहाल होने का हम स्वागत करते हैं. यह स्थानीय निवासियों के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है और हम जम्मू-कश्मीर में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए राजनीतिक एवं आर्थिक प्रगति जारी रखने को लेकर आशावान हैं.

पाकिस्तान ने जताई है आपत्ति

इस्लामाबाद में पाकिस्तान के विदेश विभाग ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के दर्जे को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अनेक प्रस्तावों में तथा अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा विवादित माना गया है, ऐसे में यह जिक्र असंगत है. पाकिस्तान का कहना है कि अमेरिकी विदेश मंत्रालय की ओर से जम्मू-कश्मीर को भारत का हिस्सा बताया गया है जो स्वीकार्य नहीं है.

बता दें कि समूचे जम्मू-कश्मीर में पांच फरवरी को 4जी मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गयी है. ठीक डेढ़ साल पहले अगस्त 2019 में केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा हटाकर इसे केंद्र शासित प्रदेश बना दिया था, जिसके बाद 4जी इंटरनेट सेवा बंद कर दी गयी थी. इस बीच, अमेरिकी विदेश विभाग द्वारा जम्मू-कश्मीर में 4जी इंटरनेट सेवा बहाल होने का जिक्र अपने ट्वीट में करने पर पाकिस्तान ने निराशा जाहिर की.

मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने पत्रकारों से कहा, ‘मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि क्षेत्र में अमेरिका की नीति में कोई बदलाव नहीं किया गया है.' भारत में ट्विटर के कुछ अकाउंट बंद करने के सवाल पर प्राइस ने कहा, ‘हम अभिव्यक्ति की आजादी समेत लोकतांत्रिक मूल्यों का समर्थन करना जारी रखेंगे. मुझे लगता है कि ट्विटर की नीतियों के संबंध में आपको ट्विटर से ही सवाल करना चाहिए.'

Posted by: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें