1. home Hindi News
  2. world
  3. india nepal friendship is will work in interest of entire humanity pm modi in lumbini mtj

PM Modi in Nepal: भारत-नेपाल की मित्रता संपूर्ण मानवता के हित का काम करेगी, लुम्बिनी में बोले पीएम मोदी

भगवान बुद्ध को ‘मानवता के सामूहिक बोध का अवतरण’ बताते हुए मोदी ने कहा कि वह ‘बोध’ भी हैं और ‘शोध’ भी हैं. उन्होंने बुद्ध को एक विचार और संस्कार भी बताया.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
PM Modi in Nepal
PM Modi in Nepal
PTI

PM Modi in Nepal: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने साझी विरासत, संस्कृति और आस्था को भारत-नेपाल रिश्तों की ‘सबसे बड़ी पूंजी’ करार दिया. पीएम ने सोमवार को कहा कि मौजूदा वैश्विक परिस्थितियों में दोनों की मजबूत होती मित्रता व घनिष्ठता, संपूर्ण मानवता के हित का काम करेगी.

बुद्ध बोध भी हैं और शोध भी

एकदिवसीय नेपाल यात्रा पर यहां पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी गौतम बुद्ध की जन्मस्थली लुम्बिनी में बुद्ध जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. भगवान बुद्ध को ‘मानवता के सामूहिक बोध का अवतरण’ बताते हुए मोदी ने कहा कि वह ‘बोध’ भी हैं और ‘शोध’ भी हैं. उन्होंने बुद्ध को एक विचार और संस्कार भी बताया.

साझी आस्था और प्रेम हमारी सबसे बड़ी पूंजी

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘साझी विरासत, साझी संस्कृति और साझी आस्था और साझा प्रेम हमारी सबसे बड़ी पूंजी है. यह पूंजी जितनी समृद्ध होगी, हम उतने ही प्रभावी ढंग से दुनिया तक भगवान बुद्ध का संदेश पहुंचा सकेंगे. दुनिया को दिशा दे सकते हैं.’

भारत-नेपाल की दोस्ती दुनिया के हित में

उन्होंने आगे कहा, ‘आज जिस तरह की वैश्विक परिस्थितियां बन रही हैं, उसमें भारत और नेपाल की निरंतर मजबूत होती मित्रता, हमारी घनिष्ठता, संपूर्ण मानवता के हित का काम करेगी. भगवान बुद्ध के प्रति आस्था हमें एक सूत्र में बांधती है. एक परिवार का सदस्य बनाती है.’

माया देवी मंदिर में की पूजा-अर्चना

इस कार्यक्रम में शामिल होने से पहले, लुम्बिनी पहुंचने पर प्रधानमंत्री मोदी ने बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर सबसे पहले यहां स्थित माया देवी मंदिर में पूजा-अर्चना की. गौतम बुद्ध की जन्मस्थली लुम्बिनी में स्थित इस ऐतिहासिक मंदिर के दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी के साथ उनके नेपाली समकक्ष शेर बहादुर देउबा भी थे.

इंडिया इंटरनेशनल सेंटर फॉर बौद्ध कल्चर एंड हेरिटेज की आधारशिला रखी

इसके बाद मोदी और देउबा ने लुम्बिनी बौद्ध विहार क्षेत्र में इंडिया इंटरनेशनल सेंटर फॉर बौद्ध कल्चर एंड हेरिटेज (भारत अंतरराष्ट्रीय बौद्ध संस्‍कृति और विरासत केंद्र) के निर्माण कार्य के लिए आधारशिला रखी.

निर्माण का कार्य पूरा हो जाने के बाद यह विश्व स्तरीय सुविधाओं वाला केंद्र बन जायेगा और यहां दुनिया भर से आने वाले श्रद्धालु और पर्यटक बौद्ध धर्म के आध्यात्मिक पहलुओं का आनंद ले सकेंगे. अंतरराष्‍ट्रीय बौद्ध संस्‍कृति और विरासत केंद्र का निर्माण भारत स्थित अंतरराष्‍ट्रीय बौद्ध परिसंघ द्वारा लुम्बिनी विकास ट्रस्‍ट के सहयोग से किया जा रहा है.

कुशीनगर के रास्ते नेपाल पहुंचे पीएम मोदी

नेपाल के तराई मैदानी इलाके में स्थित लुम्बिनी बौद्ध धर्म के सबसे पवित्र स्थलों में से एक है. बाद में प्रधानमंत्री मोदी ने देउबा से द्विपक्षीय वार्ता भी की. यह वर्ष 2014 के बाद से प्रधानमंत्री मोदी की नेपाल की पांचवीं यात्रा है. मोदी और उनका प्रतिनिधिमंडल उत्तर प्रदेश के कुशीनगर से भारतीय वायु सेना के एक विशेष हेलीकॉप्टर से यहां पहुंचा.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें