1. home Home
  2. world
  3. elon musk came forward to end world hunger donate 49 thousand crores know how rich musk is prt

दुनिया की भूख मिटाने आगे आये एलन मस्क, 49 हजार करोड़ करेंगे दान, जानिये कितने अमीर हैं मस्क

स्पेसएक्स और इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी टेस्ला के सीइओ और दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने अपनी कुल संपत्ति का दो फीसदी दान करने का एलान किया है. इस संपत्ति को विश्व भुखमरी के खिलाफ लड़ाई में इस्तेमाल किया जायेगा.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
एलन मस्क 49 हजार करोड़ करेंगे दान
एलन मस्क 49 हजार करोड़ करेंगे दान
File Photo

स्पेसएक्स और इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी टेस्ला के सीइओ और दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने अपनी कुल संपत्ति का दो फीसदी दान करने का एलान किया है. इस संपत्ति को विश्व भुखमरी के खिलाफ लड़ाई में इस्तेमाल किया जायेगा. इससे पहले, एलन मस्क ने कहा था कि अगर यूनाइडेट नेशन्स वर्ल्ड फूड प्रोग्राम उन्हें ट्विटर पर बताये कि कैसे 6.6 बिलियन डॉलर से दुनिया भर की भूख शांत हो सकती है.

मस्क ने कहा था कि अगर उनके जवाब से वह संतुष्ट होते हैं, तो वे टेस्ला के 6.6 बिलियन डॉलर के शेयर बेचने के लिए तैयार हैं. उन्होंने यह भी कहा था कि यह सब जनता के सामने होना चाहिए, ताकि पता चले कि पैसे कहां और कैसे खर्च होंगे. टेस्ला द्वारा 6.6 बिलियन अमेरिकी डॉलर दान करने के एलान के बाद वर्ल्ड फूड प्रोग्राम (डब्ल्यूएफपी) की तरफ से एक प्लान पेश किया गया.

डब्ल्यूएफपी के कार्यकारी निदेशक डेविड बेस्ली ने साझा किये गये अपने प्लान में पैसे खर्च करने को लेकर बताया कि भोजन और वितरण के लिए 3.5 बिलियन डॉलर में से उपयोग किया जायेगा. जिसमें जरूरी देशों में शिपिंग करने और परिवहन की लागत, वेयरहाउसिंग और मील डिलीवरी की शर्त शामिल है. इसमें सुरक्षा एस्कॉर्ट्स का व्यय भी शामिल है.

डब्ल्यूएफपी ने बताया कि दो बिलियन डॉलर का खर्च गरीब देशों में नकद और खाद्य वाउचर के लिए होगा. जबकि 700 मिलियन डॉलर और 400 मिलियन डॉलर का उपयोग क्रमशः ‘कार्यक्रम को बढ़ाने और कुशल और प्रभावी कार्यान्वयन का प्रबंधन करने’ और ‘स्थानीय और क्षेत्रीय संचालन व्यवस्था, प्रशासन और जवाबदेही’ के लिए किया जायेगा.

बेस्ली ने अमेरिकी समाचार नेटवर्क सीएनएन को बताया कि दुनिया में महामारी से लड़ने के लिए अरबपतियों को कदम बढ़ाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि छह बिलियन डॉलर से संस्था 42 मिलियन लोगों की मदद करने के लिए है. उन्होंने बताया कि अगर हम उन तक नहीं पहुंचे, तो वे इस भुखमरी की वजह से सचमुच मरने वाले हैं.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें