38.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

UP Weather: कानपुर में बर्फीली तूफानी हवाओं के साथ बारिश ने तोड़ा रिकॉर्ड, यूपी का रहा सबसे ठंडा शहर

कानपुर के मौसम की बात करें तो सुबह करीब पांच बजे से बूंदाबांदी शुरू हो गई. कहीं-कहीं फुहारें पड़ने लगीं. ग्रामीण अंचल वाले क्षेत्रों बिठूर, बिल्हौर के अलावा नगर के दक्षिणी क्षेत्र पनकी, बर्रा आदि में तो लगातार फुहारें पड़ती रहीं. बीच-बीच यहां बारिश तेज हो गई. दोपहर से शहर में भी बारिश शुरू हो गई.

Kanpur News: यूपी में अचानक बदले मौसम ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. जाड़े की बारिश ने पिछले रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. बीते चौबीस घंटे में ऐसा लगा ​कि मानसून की स्थिति है. वहीं सोमवार के बाद मंगलवार को भी कई जगह बारिश की स्थिति बनी हुई है. राजधानी लखनऊ में बूंदाबांदी से एक बार फिर मौसम बदल गया है तो कानपुर में भी इसी तरह की स्थिति देखने को मिल रही है. आसमान में बादल छाए हुए हैं और बारिश की स्थिति है. मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक बंगाल की खाड़ी के चक्रवाती तूफान मिचौंग की वजह से मौसम में बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है. इसकी वजह से देश के अन्य राज्यों सहित उत्तर प्रदेश काफी प्रभावित हुआ है. कानपुर में सोमवार को बर्फीली तूफानी हवाओं के साथ हुई बारिश ने दिन का पारा 10.6 डिग्री गिरा दिया. दिन और रात के तापमान में अंतर मात्र 2.2 डिग्री रह गया. करीब 11 मिमी बारिश दर्ज की गई. इसी के साथ कानपुर यूपी में सबसे ठंडा शहर रहा है. सीएसए विवि के मौसम विभाग के अनुसार 04 दिसंबर को विश्वविद्यालय में 1972 से दर्ज रिकॉर्ड में ना तो कभी इस दिन इतना पारा गिरा और ना ही कभी इतनी बारिश हुई. इन 52 वर्षों में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में इतना कम अंतर पहले कभी नहीं रहा. सोमवार को अधिकतम तापमान 17.8 और न्यूनतम 15.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया.सीएसए के मौसम विज्ञानी डॉ. एसएन सुनील पांडेय ने बताया कि मंगलवार को भी बादल छाए रहेंगे. इस दौरान छिटपुट बूंदाबांदी भी संभव है.

सुबह से देर शाम तक बारिश

कानपुर के मौसम की बात करें तो सुबह करीब पांच बजे से बूंदाबांदी शुरू हो गई. कहीं-कहीं फुहारें पड़ने लगीं. ग्रामीण अंचल वाले क्षेत्रों जैसे बिठूर, बिल्हौर के अलावा नगर के दक्षिणी क्षेत्र पनकी, बर्रा आदि में तो लगातार फुहारें पड़ती रहीं. बीच-बीच यहां बारिश तेज हो गई. दोपहर से शहर में भी बारिश शुरू हो गई. पूरे शहर में 12 बजे के बाद से लेकर देर रात तक कई राउंड मध्यम बारिश हुई. गरज चमक के साथ हुई करीब 11 मिमी बारिश ने शहर की रफ्तार ही रोक दी. इस बारिश ने जन जीवन को बुरी तरह प्रभावित किया. न्यूनतम नमी 98 फीसदी तक चली गई.

Also Read: UP Weather Update: यूपी में बारिश के बाद गलन में इजाफा, मिचौंग के कारण मौसम में होगा उलटफेर, जानें ताजा अपडेट
तापमान में ऐसी गिरावट पहले कभी नहीं

इससे पहले रविवार को अधिकतम तापमान 28.4 था. लेकिन, सोमवार को पारा 10.6 डिग्री गिर गया.अधिकतम पारा 17.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. इसके विपरीत रात में बादलों के कारण तापमान में वृद्धि हुई. न्यूनतम पारा 14 से बढ़कर 15.6 डिग्री सेल्सियस हो गया. 01.6 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोत्तरी देखी गई. विशेष बात यह कि 24 घंटे पहले अधिकतम और न्यूनतम तापमान का अंतर 14 डिग्री था जो सोमवार को घटकर मात्र 2.2 डिग्री हो गया. शहर में मौसम के इतिहास में ऐसा पहले कभी नहीं हुआ. ना तो 04 दिसंबर की तारीख में इतना पारा गिरा और न ही तापमान का अंतर इतना कम हुआ.इस तिथि में न्यूनतम पारा भी इतना अधिक पहले कभी नहीं रहा. बारिश ने भी पांच दशक से अधिक समय का रिकॉर्ड तोड़ा.

बारिश से कोहरा छंटा पर 21 ट्रेनें फिर भी घंटों लेट

रविवार रात जहां कोहरा पड़ने से ट्रेनें लेट हुईं वहीं सोमवार तड़के से शुरू हुई बारिश से सुबह के समय ट्रैक पर छायी धुंध तो साफ हो गई लेकिन ट्रेनों की लेटलतीफी जारी रही. सोमवार को 21 ट्रेनें घंटों लेट रहीं.इसके चलते 457 यात्रियों ने टिकट लौटाए, जबकि 197 को दूसरी ट्रेनों में कनेक्टिंग रिजर्वेशन की वजह से सफर की इजाजत दी गई.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें