25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

UP News : ज्वैलरी की दुकान को लुटने वाले तीन बदमाश गिरफ्तार, एक फरार

मथुरा पुलिस ने 18 दिन पहले हुई लूट का खुलासा किया है. पुलिस ने इस मामले में तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है. एक बदमाश अभी फरार चल रहा है. लूटे गए आभूषण भी बरामद हो गए हैं. वारदात में प्रयोग किये गए हथियार भी मिले हैं.

मथुरा. पुलिस ने 18 दिन पहले हुई लूट का सफल अनावरण कर दिया. पुलिस ने इस मामले में तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया है. वहीं इस मामले में एक बदमाश अभी फरार चल रहा है. पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों से लूटे गए आभूषण भी बरामद किये हैं. साथ ही वारदात में प्रयोग किये गए हथियार भी बरामद किये हैं. आपको बता दें मथुरा के थाना सदर बाजार क्षेत्र की नरसी पुरम कालोनी में 21 नवंबर को दिन दहाड़े हथियार बंद बदमाशों ने संजीव ज्वैलर्स के यहां हथियारों के बल पर लूट की वारदात को अंजाम दिया था. बदमाशों ने लूट का विरोध करने पर ज्वैलर्स के बेटे पर जान से मारने की नियत से फायर भी किया था. हालांकि निशाना चूकने की वजह से ज्वैलर्स संजीव वर्मा के बेटे अभिषेक की जान बच गई थी. आपको बता दें मथुरा के थाना सदर बाजार क्षेत्र की नरसी पुरम कालोनी में 21 नवंबर को दिन दहाड़े हथियार बंद बदमाशों ने संजीव ज्वैलर्स के यहां हथियारों के बल पर लूट की वारदात को अंजाम दिया था. बदमाशों ने लूट का विरोध करने पर ज्वैलर्स के बेटे पर जान से मारने की नियत से फायर भी किया था. हालांकि निशाना चूकने की वजह से ज्वैलर्स संजीव वर्मा के बेटे अभिषेक की जान बच गई थी.

दो बाइक पर तीन बदमाशों ने की  थी वारदात

प्राप्त जानकारी के अनुसार दो बाइक पर तीन बदमाश सवार होकर आए और हथियार के साथ दुकान में घुसे. और दुकान का शटर गिराकर अभिषेक पर तमंचा तान दिया. इसके बाद बदमाशों ने तिजोरी में रखे सोने चांदी के आभूषण निकाल लिए. जब संजीव वर्मा के बेटे ने इस बात का विरोध किया तो बदमाशों ने अभिषेक के ऊपर फायर कर दिया. लेकिन गनीमत रही कि अभिषेक इस हमले में बाल बाल बच गए. शोर होने पर दुकान के बाहर भीड़ जमा होने लगी. जिसे देखकर बदमाश मौके से फरार हो गए.

सीसीटीवी बना पुलिस के लिए सबूत

घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी खंगालना शुरू कर दिये. जिसकी मदद से बदमाशों की पहचान कार्तिक पटेल निवासी आजमपुर रिफाइनरी, अरविंद निवासी पुष्पाजंलि द्वारका और सौरभ चौधरी निवासी नगला भराऊ राया के रूप में हुई. पुलिस की जांच में सामने आया कि लूट की वारदात के समय उनका एक साथी जिसका नाम दिनेश पुत्र भूरी सिंह निवासी रदोई बल्देव भी इस वारदात में मौजूद था. जिसके बाद पुलिस ने सर्विलांस सेल की मदद ली. वारदात का खुलासा करने के लिए एसएसपी शैलेश पांडे ने चार टीमों का गठन कर दिया. मथुरा पुलिस की चारों टीम बदमाशों को पकड़ने के लिए प्रयास में जुटी हुई थी. जिसमें सफलता प्राप्त करते हुए पुलिस टीम ने 18 दिन की मेहनत के बाद तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया. वहीं इनके एक साथी को गिरफ्तार करने के लिए टीम लगातार दबिश देने में जुटी हुई है.पुलिस ने बताया कि पकड़े गए बदमाशों के पास से 44 ग्राम सोने की नाक की लौंग, छोटे कुंडलनुमा टॉप्स, 3 किलो 133 ग्राम की चांदी की पायल और बिछुआ के अलावा वारदात में प्रयोग की गई बाइक, दो तमंचा और जिंदा कारतूस बरामद किए.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें