27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Agra Road Accident : हादसे ने बुझा दिए कई घर के चिराग, एक साथ उठी दादी-पोते की अर्थी

आगरा में शनिवार को एक दर्दनाक हादसे में 6 लोगों की मौत हो गई. आगरा- मथुरा हाईवे पर दो ट्रक ने एक ऑटो को अपनी चपेट में ले लिया. मरने वाले छह लोगों में एक महिला और उनका 9 साल का पोता भी शामिल है.

आगरा. आगरा में शनिवार को एक दर्दनाक हादसे में 6 लोगों की मौत हो गई. आगरा मथुरा हाईवे पर दो ट्रक ने एक ऑटो को अपनी चपेट में ले लिया. ऐसे में करीब छह लोगों की जान चली गई. जिसमें एक दादी और उनका 9 साल का पोता भी चला गया. रविवार को एक साथ घर से दादी और पोते की अंतिम यात्रा निकली तो बच्चे की मां अन्य घरवालों में चीख पुकार मच गई.शनिवार को हुए हादसे में आगरा के सेक्टर पांच की रहने वाली रेखा शर्मा अपने 9 साल के पोते अथर्व को स्कूल से लेने के लिए निकली थी. और पोते को साथ में लेकर ऑटो द्वारा घर की तरफ आ रही थी. इस दौरान उनका पोता गोद में बैठा हुआ था और तभी यह सड़क हादसा हो गया. जिसमें दादी और पोता दोनों की ही मौत हो गई. मौत की सूचना मिलते ही घर में चीख पुकार मच गई. क्षत विक्षत शव देखकर परिजनों का बुरा हाल हो गया. पोस्टमार्टम के बाद शव लेकर अथर्व के पिता योगेंद्र शर्मा के आवास विकास स्थित घर पर पहुंचे तो चारों तरफ सन्नाटा पसर गया.

दूसरे स्कूल में दाखिला करा दिया था अथर्व का

प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक बच्चे अथर्व के पिता योगेंद्र शर्मा फाइनेंस कंपनी में काम करते हैं. पत्नी कुमकुम घर संभालती है. योगेंद्र ने बताया कि अथर्व उनकी मां का लाडला था. वह हमेशा उनके साथ रहता था और अपनी हर जिद उनसे मनवा लेता था. मेरी मां उसकी हर जिद को पूरा कर देती थी. चाहे बच्चों को पिकनिक जाना हो या कोई खिलौना चाहिए हो. हम अपना नया घर रामबाग क्षेत्र में बनवा रहे हैं. इसीलिए वहीं के स्कूल में हमने अथर्व का दाखिला कर दिया था. और जल्दी ही हम वहां पर शिफ्ट होने वाले थे. शनिवार सुबह मैं अथर्व को स्कूल छोड़कर आया था और किसी काम में फंस गया. ऐसे में मेरी मां अथर्व को स्कूल से लेकर आ रही थी. इसी दौरान हादसा हो गया.

Also Read: Agniveer Bharti: आगरा में चार दिसंबर से होगी अग्निवीरों की भर्ती, इंटेलीजेंस सतर्क, जानें कार्यक्रम

शनिवार को हुए इस भीषण हादसे में अथर्व और उसकी दादी के अलावा फिरोजाबाद के नारखी के रहने वाले 22 साल के प्रेम किशोर की भी मौत हो गई. प्रेम किशोर आगरा के न्यू आगरा क्षेत्र में रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा था. उसके पिता संतोष शर्मा ने कहा कि बेटे को वह अधिकारी बनाना चाहते थे. बेटे के जाने से सारे सपने बिखर गए. वहीं उन्होंने अपने बेटे प्रेम की पहचान उसकी जेब में रखे संकल्प स्मार्ट लाइब्रेरी की पर्ची से की.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें