34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

कांग्रेस नेता के घर जन्मे विजय हांसदा राजमहल से झामुमो के सांसद बने, क्षेत्र के विकास पर खर्च किए इतने पैसे

विजय के पिता थॉमस हांसदा झारखंड के बड़े नेताओं में एक थे. युवा सांसद विजय हांसदा वर्ष 2019 से संसद की कई कमेटियों के सदस्य रहे. 16 सितंबर 2019 को ज्वाइंट कमेटी ऑन ऑफिसेज ऑफ प्रॉफिट, 13 सितंबर 2019 को कोयला खदान और स्टील पर स्टैंडिंग कमेटी के सदस्य, गृह मंत्रालय के कंसल्टेटिव कमेटी के सदस्य बने.

झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के टिकट पर आदिवासियों के लिए आरक्षित राजमहल संसदीय सीट से विजय हांसदा लगातार दो बार लोकसभा के लिए चुने गए हैं. इनके माता-पिता दोनों कांग्रेस के नेता रहे. पिता झारखंड के पहले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष थे. मां अभी भी कांग्रेस पार्टी में सक्रिय हैं. लेकिन, विजय हांसदा पिछले करीब 10 साल से झामुमो की राजनीति कर रहे हैं और मोदी लहर में भी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवारों को पराजित किया है. युवा नेता विजय हांसदा का जन्म साहिबगंज जिले के बरहड़वा कलातल्ला गांव में 27 अक्टूबर 1982 को हुआ. उनके पिता का नाम थॉमस हांसदा और माता का नाम शांति सरोजिनी मुर्मू है. झारखंड कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे थॉमस हांसदा अब इस दुनिया में नहीं हैं. विजय हांसदा की मां शांति सरोजिनी मुर्मू आज भी कांग्रेस से जुड़ीं हैं. विजय के पिता थॉमस हांसदा संताल परगना ही नहीं, बल्कि झारखंड के बड़े नेताओं में एक थे. युवा सांसद विजय हांसदा वर्ष 2019 से संसद की कई कमेटियों के सदस्य रहे. 16 सितंबर 2019 को ज्वाइंट कमेटी ऑन ऑफिसेज ऑफ प्रॉफिट के सदस्य बने. 13 सितंबर 2019 से वह कोयला खदान और स्टील पर स्टैंडिंग कमेटी के सदस्य, गृह मंत्रालय के कंसल्टेटिव कमेटी के सदस्य बने. मई 2019 में 17वीं लोकसभा के लिए लगातार दूसरी बार निर्वाचित हुए. 12 मार्च 2015 से 25 मई 2019 तक वह लाइब्रेरी कमेटी के सदस्य रहे, कोयला मंत्रालय की कंसल्टेटिव कमेटी में सदस्य, ग्रामीण विकास विभाग की स्टैंडिंग कमेटी के सदस्य रहे. पहली बार विजय हांसदा 16वीं लोकसभा के लिए मई 2014 में सांसद चुने गए थे.

इतनी योजनाओं की अनुशंसा की

  • लोकसभा की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, वित्तीय वर्ष 2019-20 में उनके संसदीय फंड से 2.50 करोड़ रुपए जारी किए गए. कुल 2.34 करोड़ रुपए खर्च हुए. 161 कार्यों की अनुशंसा सांसद विजय हांसदा ने की, जिसमें से 107 काम पूरे हो चुके हैं.

  • वर्ष 2022-23 में विजय हांसदा ने 231 कार्यों की अनुशंसा की. इनमें से 201 काम पूर्ण हो चुके हैं. 4.17 करोड़ रुपए की इन योजनाओं में से अब तक 2.50 करोड़ रुपए जारी हुए हैं.

Also Read: लोकसभा चुनाव: मोदी लहर में भी झामुमो ने जीती राजमहल सीट, विजय हांसदा ने लहराया परचम

इन बहसों में लिया हिस्सा

  • राजमहल के सांसद ने रूल 377 के तहत वर्ष 2021 की जनगणना में आदिवासियों के लिए अलग धर्म कोड विषय पर चर्चा में हिस्सा लिया.

  • आम बजट में रेल मंत्रालय से जुड़ी बहस में हिस्सा लिया

  • उन्होंने संसद में 23 प्रश्न पूछे हैं. इनमें 2 तारांकित और 21 अतारांकित प्रश्न हैं.

  • भारत के अलग-अलग हिस्सों के अलावा विदेश भ्रमण करने में उनकी रुचि है. नेपाल और भूटान की यात्रा उन्होंने की है.

विजय हांसदा को पसंद है फुटबॉल खेलना

राजमहल संसदीय सीट अनुसूचित जनजाति (एसटी) के लिए आरक्षित है. इस क्षेत्र में आदिवासियों मतदाताओं की संख्या ज्यादा है. वह अपने संसदीय क्षेत्र में होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं. विजय हांसदा कहते हैं कि गीत गाने और लोगों से मिलने-जुलने और उनसे बहुत कुछ सीखना उन्हें अच्छा लगता है. फुटबॉल उनका पसंदीदा खेल है. जब भी मौका मिलता है, वह खुद को फुटबॉल खेलने से रोक नहीं पाते.

Also Read: राजमहल संसदीय सीट: तैयारी में जुटा NDA और इंडिया गठबंधन, झामुमो से विजय हांसदा और भाजपा से ये हैं दावेदार

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें