37.3 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

UP News: महराजगंज में 110 फीट ऊंचे मोबाइल टावर पर चढ़ी युवती, प्रेमी से शादी करने की जिद पर अड़ी, जानें मामला

महराजगंज में एक युवती मोबाइल टावर पर चढ़ गई और आत्महत्या की धमकी देने लगी. युवती अपने प्रेमी से शादी करने की जिद पर अड़ी हुई थी. उसका आरोप है कि उसे प्यार में धोखा मिला है.

यूपी के महराजगंज में एक अजब-गजब ड्रामा सामने आया है. यहां मोबाइल टावर पर एक युवती चढ़ गई और आत्महत्या की धमकी देने लगी. युवती अपने प्रेमी से शादी करने की जिद पर अड़ी हुई थी. उसका आरोप है कि उसे प्यार में धोखा मिला है. उसे स्थानीय थाने की पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद टावर से नीचे उतारा. युवती को थाने ले जाकर पुलिस पूछताछ में जुटी हुई है. दरअसल, भिटौली थाना क्षेत्र के सेमरा राजा टोल प्लाजा के पास प्रेम प्रसंग के चलते गुरुवार को एक युवती राष्ट्रीय राजमार्ग 730 पर स्थित करीब 110 फीट ऊंचे मोबाइल टावर पर सुबह लगभग 7.30 बजे चढ़ गई. इस दौरान वह कूदकर जान देने की धमकी देती रही. युवती के टावर पर चढ़ने के बाद आसपास के ग्रामीणों व राहगीरों का यहां जमावड़ा लग गया. पुलिस से लेकर स्वजन की सांस अटकी रही. युवती को उतरने के लिए सभी मान- मनौव्वल करते रहे. बावजूद वह प्रेमी से शादी के जिद पर अड़ी रही. पुलिस और स्वजन के आश्वासन के बाद लड़की को समझा कर घंटे भर बाद टावर से नीचे उतार लिया गया है.

जानकारी के मुताबिक सेमरा राजा गांव निवासी 19 वर्षीय युवती गांव के ही युवक से प्रेम करती है और शादी करना चाहती है. युवक ट्रक ड्राइवर है, वह नेपाल गया हुआ है. इस मामले को लेकर वह बुधवार को भी इसी टावर पर चढ़ गई थी. पुलिस व युवक के स्वजन उसे नेपाल से बुलाकर शादी कराने की बात कहे थे, लेकिन जब लड़का नहीं आया तो गुरुवार को लड़की फिर टावर पर चढ़ गई और एक घंटे भर तक ड्रामा चलता रहा. वहीं भिटौली थाने के अतिरिक्त निरीक्षक सजनू यादव ने कहा कि युवती को उतार लिया गया है. उसका गांव के युवक के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा है. युवक नेपाल में है. उसके स्वजन से बात हुई है. उसे बुलाया जा रहा है. इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

Also Read: UP News: सीएम योगी आज अयोध्या में हॉट कुक्ड मील योजना का शुभारंभ करेंगे, बच्चों को फिर से मिलेगा गरम भोजन
डेंटल डॉक्टर का कमरे के अंदर फंदे से लटका मिला शव

महराजगंज के सिसवा स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात डॉक्टर ने गुरुवार की शाम करीब सात बजे कमरे में फंदे से झूल गए. मामले की जानकारी होने पर परिजन डॉक्टर को आनन-फानन फंदे से नीचे उतार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र निचलौल में भर्ती कराए. जहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. डॉक्टर की मौत की खबर से अस्पताल में मौजूद परिजनों के बीच कोहराम मच गया. कोतवाली ठूठीबारी थाना अंतर्गत ठूठीबारी निवासी कुशाग्र तिवारी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र निचलौल में पूछताछ में बताया कि वह गोरखपुर में रहकर नीट की तैयार करते हैं. पिता डॉ. अनिल तिवारी (42) सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिसवा में डेंटल पद पर तैनात थे. छुट्टी लेकर दीवानी न्यायालय में चल रहे केस की तारीख देखने गए थे. जहां पर वह भी गोरखपुर से आए थे. तारीख देखने के बाद दोनों एक साथ निचलौल तहसील पहुंचे. जहां पर पिता ने अनिल नाम के एक अधिवक्ता से मुलाकात कर कुछ जानकारी ली. उसके बाद पुनः दोनों एक साथ तहसील से घर के लिए निकल पड़े. अभी वह लोग गडौरा पहुंचे थे.

इसी बीच पहले से मौजूद मामा और नाना ने पिता को रोक लिया. फिर मामा और नाना ने पिता को धमकी देते हुए दुर्व्यवहार करने लगे. कुछ लोगों के बीच-बचाव के बाद मामला शांत हुआ. वहीं आहत पिता उन्हें लेकर घर ठूठीबारी चले आए. जहां पर वह पुराने मकान में चल रहे मेडिकल स्टोर की दुकान पर रुक गए. जबकि पिता गांव के बाहर बने नए मकान की चाबी लेकर वहां पर चले गए. जब दुकान बंद कर वह पिता के पास नए मकान पर पहुंचे तो वहां की स्थिति देखकर दंग रह गए. पिता डॉ. अनिल तिवारी फंदे से लटके हुए थे. उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चलौल में भर्ती कराया गया. जहां पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. ठूठीबारी कोतवाल कंचन राय ने कहा की मामले की जानकारी मिली है. सूचना पाकर अस्पताल पुलिस टीम पहुंची है. मृत डॉक्टर के बेटे का बयान दर्ज करने के साथ ही शव को कब्जे में लेकर आगे की कार्रवाई की जा रही है.

धमकी देने के मामले में मामा और नाना पर केस दर्ज

जानकारी के मुताबिक मृतक डॉ. अनिल तिवारी के बड़े बेटे कुशाग्र तिवारी ने कहा कि उनका एक छोटा भाई आदित्य तिवारी है. मां नीता तिवारी की वर्ष 2020 में बीमारी से मौत हो गई थी. मां की मौत के बाद दोनों भाइयों का सहारा पिता डॉक्टर अनिल तिवारी थे. जिनसे भी आज उनका साथ छूट गया. वहीं कुशाग्र की तहरीर पर धमकी देने के मामले में उसके मामा और नाना के खिलाफ कोतवाली ठूठीबारी पुलिस संबंधित धाराओं में केस दर्ज किया है. ठूठीबारी कोतवाल के थाना प्रभारी निरीक्षक कंचन राय ने कहा कि कुशाग्र तिवारी ने बीते 9 नवंबर 2023 को पुलिस से बताया था कि पैसे के लेन-देन के बाद को लेकर उसके मामा और नाना धमकी दे रहे हैं. ऐसे में वह काफी डरा और सहमा हुआ है. इस मामले में कुशाग्र के तहरीर के मुताबिक उसके मामा मृत्युंजय मिश्रा और नाना गिरीश नाथ मिश्रा निवासी गडौरा बाजार के खिलाफ केस दर्ज कर जांच की जा रही है.

Also Read: UP क्राइम NEWS : दहेज में फॉर्च्यूनर नहीं देने पर बरेली की युवती को उत्तराखंड में जान से मारने की कोशिश

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें