35.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

झारखंड पंचायत चुनाव 2022: सोमवार से शुरू होगा नामांकन, धनबाद के 3 प्रखंड के प्रत्याशी यहां करें नॉमिनेशन

झारखंड पंचायत चुनाव के पहले चरण के तहत सोमवार (18 अप्रैल, 2022) से नॉमिनेशन शुरू हो रहा है. धनबाद के तीन प्रखंडों में कुल 765 पदों के लिए चुनाव होना है. इसके लिए कुल आठ स्थानों पर नामांकन की व्यवस्था की है, जहा प्रत्याशी अपना नामांकन कर सकते हैं.

Jharkhand Panchayat Chunav 2022: त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए सोमवार (18 अप्रैल, 2022) से नामांकन शुरू होगा. पहले चरण में धनबाद जिला के टुंडी, पूर्वी टुंडी एवं तोपचांची प्रखंड में मतदान होना है. तीनों प्रखंडों के प्रखंड मुख्यालय के अलावा समाहरणालय एवं अनुमंडल कार्यालय में नामांकन होगा. रविवार को अवकाश के बावजूद वैसे सभी दफ्तर जहां 18 अप्रैल से नामांकन होना है, में प्रशासनिक तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया.

प्रत्याशी यहां कराएं नॉमिनेशन

मालूम हो कि शनिवार को ही पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए अधिसूचना जारी हो चुकी है. 16 अप्रैल से ही नामांकन पत्रों की बिक्री भी शुरू हो चुकी है. पहले चरण के लिए कुल आठ स्थानों पर नामांकन होना है. वार्ड सदस्यों के लिए संबंधित प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारियों (बीडीओ) कार्यालय में पर्चा भरा जायेगा, जबकि मुखिया के लिए संबंधित अंचलों के अंचलाधिकारी (सीओ) कार्यालय में प्रत्याशी नॉमिनेशन कर सकते हैं. इसी तरह पंचायत समिति सदस्य के लिए अनुमंडल कार्यालय तथा जिला परिषद सदस्य के लिए समाहरणालय में पर्चा दाखिल करने का काम होगा. नामांकन की प्रक्रिया 23 अप्रैल तक चलेगी. वहीं, 29 अप्रैल को सभी प्रत्याशियों को सिंबल मिलेगा.

Also Read: लातेहार के 4 प्रखंडों में नहीं है सामान्य बूथ,जानें नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में मतदान केंद्रों की स्थिति

765 पदों के लिए भरा जायेगा पर्चा

धनबाद के तीन प्रखंडों में पहले चरण में कुल 765 पदों के लिए चुनाव होना है. इसमें सबसे ज्यादा 641 पद वार्ड सदस्य का है. जिला परिषद के छह, मुखिया के 54 तथा पंचायत समिति के 64 सदस्यों के लिए पर्चा भरा जायेगा. नामांकन के समय एक प्रत्याशी अपने साथ तीन समर्थकों के साथ ही निर्वाची पदाधिकारी के कार्यालय तक जा सकते हैं. इसमें एक-एक प्रस्तावक और समर्थक के अलावा एक अन्य जा सकते हैं. साथ ही वाहन से 100 मीटर तक ही जा सकेंगे. नामांकन के पूरी प्रक्रिया की वीडियो रिकॉर्डिंग कराने को कहा गया है. हर आरओ दफ्तर में वीडियोग्राफर की तैनाती की गयी है. विधि-व्यवस्था बनाये रखने के लिए हर आरओ कार्यालय के बाहर दंडाधिकारी के नेतृत्व में सशस्त्र बलों की तैनाती भी की गयी है.

Posted By: Samir Ranjan.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें