25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Gemini AI ने पीएम मोदी पर दी गलत जानकारी, IT मंत्री ने चेताया तो Google ने दी यह सफाई

Google ने पीएम मोदी पर Gemini AI चैटबॉट की आपत्तिजनक प्रतिक्रिया पर सफाई दी. कहा- जेमिनी हालिया घटनाओं और राजनीतिक सवालों के जवाब देने में हर बार भरोसेमंद नहीं.

Google Gemini AI PM Modi Response : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जेमिनी एआई चैट बॉट की आपत्तिजनक प्रतिक्रिया पर गूगल ने सफाई दी है. गूगल के प्रवक्ता ने कहा है कि जेमिनी हालिया घटनाओं और राजनीतिक विषयों से जुड़े सवालों के जवाब देने में हर बार भरोसेमंद नहीं हो सकता है. गूगल की ओर से कहा गया है कि जेमिनी को रचनात्मकता और उत्पादकता उपकरण के रूप में बनाया गया है. बता दें कि केंद्रीय राज्यमंत्री राजीव चंद्रशेखर ने गूगल को चेतावनी देते हुए कहा था कि जेमिनी की प्रतिक्रिया आईटी नियमों के साथ ही आपराधिक संहिता के कई प्रावधानों का सीधा उल्लंघन है.

Gemini AI के लिए गूगल को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा

सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी गूगल ने कहा है कि उसका एआई चैटबॉट वर्तमान घटनाओं और राजनीतिक विषयों से संबंधित कुछ संकेतों का जवाब देने में ‘हमेशा भरोसेमंद नहीं हो सकता है.’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक सवाल के जवाब में एआई टूल ‘जेमिनी’ की आपत्तिजनक प्रतिक्रिया और पूर्वाग्रह को लेकर गूगल को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है. गूगल ने कहा कि उसने इस मुद्दे का समाधान करने के लिए तेजी से काम किया है. Google Gmail End: 2024 में गूगल बंद कर देगी जीमेल? जानिए पूरा सच

Gemini AI ने किया कई प्रावधानों का सीधा उल्लंघन

केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने हाल ही में चेतावनी दी थी कि प्रधानमंत्री से जुड़े एक सवाल पर गूगल के एआई टूल जेमिनी की प्रतिक्रिया आईटी नियमों के साथ ही आपराधिक संहिता के कई प्रावधानों का सीधा उल्लंघन है. एक पत्रकार के सत्यापित खाते से लिखा गया था कि मोदी पर एक सवाल के जवाब में गूगल जेमिनी की प्रतिक्रिया पक्षपात से भरी है. इस पर संज्ञान लेते हुए आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स राज्य मंत्री चंद्रशेखर ने यह बात कही.

Gemini AI हमेशा भरोसेमंद नहीं हो सकता है

जेमिनी से जब इसी तरह का सवाल ट्रंप या जेलेंस्की के बारे में पूछा गया, तो उसने कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया. गूगल के प्रवक्ता ने एक ईमेल बयान में कहा, हमने इस मुद्दे को हल करने के लिए तेजी से काम किया है. गूगल ने आगे कहा कि जेमिनी को रचनात्मकता और उत्पादकता उपकरण के रूप में बनाया गया है और ये ‘हमेशा भरोसेमंद नहीं हो सकता है, खासकर जब वर्तमान घटनाओं, राजनीतिक विषयों या समसामयिक खबरों के बारे में कुछ संकेतों का जवाब देने की बात आती है.’ प्रवक्ता ने कहा, इस बारे में हम लगातार सुधार करने पर काम कर रहे हैं. Elon Musk को पसंद नहीं आया Google का AI टूल Gemini, कर दिया ऐसा कमेंट

Gemini AI : कार्रवाई का संकेत

इससे पहले, मंत्री ने मामले में आगे की कार्रवाई का संकेत देते हुए पोस्ट को गूगल और इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय को टैग किया था. चंद्रशेखर ने सोशल मीडिया मंच पर एक पत्रकार का स्क्रीनशॉट शेयर किया है, जिसमें जेमिनी से मोदी को लेकर एक सवाल पूछा गया था. जवाब में, जेमिनी ने उनके बारे में अशोभनीय टिप्पणियां कीं, लेकिन जब वही सवाल ट्रंप और जेलेंस्की के बारे में किया गया, तो वह सतर्क हो गया.

चंद्रशेखर ने चेतावनी दी कि अविश्वसनीय मंच और एल्गोरिदम के साथ भारत के डिजिटल नागरिकों पर प्रयोग नहीं किया जाना चाहिए. उन्होंने एक्स पर एक पोस्ट में कहा कि सुरक्षा और विश्वास सुनिश्चित करना प्लैटफॉर्मों का कानूनी दायित्व है. (भाषा इनपुट के साथ)

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें