1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. twitter leh map error jack company risks suspension or block india modi govt twitter par karwai amh

Twitter Map Controversy : भारत में ब्लॉक हो जाएगा ट्विटर ? जानें वजह, आखिर कंपनी ने ऐसा क्या कर दिया जिससे…

By Agency
Updated Date
twitter map controversy
twitter map controversy
FIle

लोगों के चहेते सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर (twitter) को भारत (india) में सस्पेंड या ब्‍लॉक (block) केंद्र सरकार कर सकती है. दरअसल लेह को लद्दाख केंद्रशासित प्रदेश के बजाय जम्‍मू और कश्‍मीर का हिस्‍सा दिखाने पर सरकार ने कंपनी को कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है. साथ ही कंपनी को नोटिस जारी किया गया है.

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अनुसार मंत्रालय ने अपने नोटिस में ट्विटर को पांच कार्यदिवसों के भीतर यह बताने का निर्देश दिया है कि गलत नक्शा दिखाकर भारत की क्षेत्रीय अखंडता का अनादर करने के लिए माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म और इसके प्रतिनिधियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई क्यों न शुरू करने का काम किया जाए.

क्या कहा सरकार ने : ट्विटर को नोटिस नौ नवंबर को इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा जारी किया गया. मंत्रालय ने ट्विटर के वैश्विक उपाध्यक्ष को भेजे गए नोटिस में कहा कि लेह को जम्मू-कश्मीर के हिस्से के रूप में दिखाना माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म द्वारा भारत की संप्रभु संसद की इच्छा को कमतर करने का जानबूझकर करने का प्रयास किया गया है, जिसने लद्दाख को लेह में इसके मुख्यालय के साथ एक केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया है.

ट्विटर का जवाब : इस मामले को लेकर ट्विटर की भी प्रतिक्रिया आई है. कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा कि हमने पत्र का विधिवत जवाब दिया है और हमारे पत्राचार के हिस्से के तौर पर हमने जियो-टैग मुद्दे को लेकर नवीनतम घटनाक्रमों के साथ एक व्यापक अद्यतन जानकारी साझा की है. ट्विटर जन संवाद के लिए सरकार तथा इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के साथ भागीदारी करने के लिए प्रतिबद्ध है.

इससे पहले भी ट्विटर कर चुका है गलती : आपको बता दें कि ट्विटर ने इससे पहले लेह को चीन के हिस्से के रूप में दिखाया था, जिसके बाद आईटी सचिव ने कंपनी के सीईओ जैक डोर्सी को एक सख्त पत्र लिखा था. इसके बाद ट्विटर ने चीन को जम्मू कश्मीर से बदल दिया था. हालांकि, लेह को केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के हिस्से के रूप में दिखाने के लिए ट्विटर ने अभी तक नक्शे को सही नहीं किया है. वह लेह को अभी भी जम्मू कश्मीर के हिस्से के रूप में दिखा रहा है, जो भारत सरकार की आधिकारिक स्थिति के खिलाफ है.

ट्विटर की आलोचना : यदि आपको याद हो तो पिछले महीने, ट्विटर की तब काफी आलोचना हुई थी और उसे सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं के गुस्से का सामना करना पड़ा था, जब उसकी जियोटैगिंग सुविधा में, लद्दाख में शहीद हुए सैनिकों के लेह स्थित स्मारक ‘हॉल ऑफ फ़ेम' से सीधे प्रसारण में ‘‘जम्मू कश्मीर को चीनी जनवादी गणराज्य' के हिस्से के तौर पर प्रदर्शित किया गया था. इस पर नेट उपयोगकर्ताओं ने नाराजगी जतायी थी और मांग की थी कि माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म के खिलाफ कड़ी कार्रवाई शुरू की जाए.

हो सकती है कार्रवाई : इस बीच, उद्योग पर नजर रखने वाले एक व्यक्ति ने कहा कि यदि नवीनतम नोटिस के बाद भी ट्विटर सुधार नहीं करता है तो संभावित विकल्पों में भारत में ट्विटर तक पहुंच पर प्रतिबंध लगाने के लिए आईटी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत कार्रवाई शुरू करना शामिल हो सकता है. उन्होंने कहा कि साथ ही, आपराधिक कानून (संशोधन) अधिनियम के तहत, सरकार एक प्राथमिकी दर्ज कर सकती है, जिसमें छह महीने तक के कारावास का प्रावधान है.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें