1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. mobile recharge to cost more again airtel gives sign jio vi may follow rjv

फिर महंगा होगा मोबाइल रीचार्ज! एयरटेल ने किया इशारा, जियो-वोडा करेंगे फॉलो?

नवंबर, 2021 में एयरटेल ने सबसे पहले मोबाइल और सेवाओं की दरों में 18 प्रतिशत से लेकर 25 प्रतिशत की वृद्धि की थी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
airtel jio vi plan hike
airtel jio vi plan hike
fb

Mobile Recharge To Cost More : दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल का मानना है कि वर्ष 2022 में भी मोबाइल कॉल और सेवाओं की दरों में बढ़ोतरी होगी. पीटीआई ने कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी के हवाला से रिपोर्ट किया है कि एयरटेल शुल्क वृद्धि में आगे रहने में हिचकिचाहट नहीं दिखाएगी. कंपनी का इरादा प्रति ग्राहक औसत राजस्व (एआरपीयू) को 200 रुपये पर पहुंचाने का है.

मोबाइल रीचार्ज फिर होगा महंगा

नवंबर, 2021 में एयरटेल ने सबसे पहले मोबाइल और सेवाओं की दरों में 18 प्रतिशत से लेकर 25 प्रतिशत की वृद्धि की थी. भारती एयरटेल के भारत और दक्षिण एशिया के लिए प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) गोपाल विट्टल ने कहा, मुझे लगता है कि 2022 में शुल्क दरें बढ़ेंगी. हालांकि ऐसा अगले तीन-चार महीनों में नहीं होगा. अभी सिम मजबूती और वृद्धि में तेजी लौटने का इंतजार है. मुझे उम्मीद है कि अगले दौर की शुल्क बढ़ोतरी होगी. हालांकि, यह प्रतिद्वंद्वियों द्वारा तय की जानी है. पूर्व की तरह हम इस बार भी शुल्क वृद्धि की अगुआई करने में हिचक नहीं दिखाएंगे. कंपनी के तिमाही नतीजों की घोषणा के समय उन्होंने विश्लेषकों के सवाल पर यह बात कही.

ARPU बढ़ाने पर जोर

भारती एयरटेल का दिसंबर तिमाही का एकीकृत शुद्ध लाभ 2.8 प्रतिशत घटकर 830 करोड़ रुपये रहा है. तिमाही के दौरान कंपनी की एकीकृत आय 12.6 प्रतिशत बढ़कर 29,867 करोड़ रुपये रही है. विट्टल ने कहा, हमें उम्मीद है कि हमारा एआरपीयू 2022 में ही 200 रुपये पर पहुंच जाएगा. अगले कुछ साल में हम इसके 300 रुपये पर पहुंचने की उम्मीद करते हैं.

एयरटेल के ग्राहक बढ़े

दिसंबर 2021 तिमाही में एयरटेल के भारत में 4जी ग्राहकों की संख्या सालाना आधार पर 18.1 प्रतिशत बढ़कर 19.5 करोड़ हो गई है. एक साल पहले की समान तिमाही में यह संख्या 16.56 करोड़ थी. भारत में एयरटेल के नेटवर्क पर प्रति ग्राहक डेटा का इस्तेमाल 11.7 प्रतिशत बढ़कर 16.37 गीगाबिट (जीबी) से 18.28 जीबी हो गया है. विट्टल ने कहा कि कंपनी उपकरण अद्यतन, नेटवर्क और क्लाउड कारोबार पर 30 करोड़ डॉलर (2,250 करोड़ रुपये) खर्च करेगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें