मालदा में निर्माणाधीन ब्रिज का एक हिस्सा गिरा,15 के मरने की आशंका

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

फरक्का : फरक्का बराज के समीप मालदा जिले की सीमा पर गंगा नदी पर बन रहे ब्रिज का निर्माणाधीन हिस्सा रविवार की रात करीब आठ बजे भरभरा कर गिर गया. इस हादसे में 15 लोगों के मरने की आशंका जतायी जा रही है.खबर लिखे जाने तक आठ शवों को क्रेन के सहारे निकाला जा चुका था. वहीं सात लोग घायल हुए हैं. सभी घायलों को मालदा मेडिकल कॉलेज में भरती कराया गया है. घटना की सूचना मिलते ही मालदा जिले के वरीय प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे. मौके पर फरक्का थाना की पुलिस भी पहुंची हुई थी.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, केंद्र सरकार की परियोजना के तहत गंगा नदी पर साढ़े तीन किलोमीटर लंबे ब्रिज (द्वितीय सेतु) का निर्माण कार्य चल रहा है. गंगा नदी पर पिलर का निर्माण हो चुका है. उसके ऊपर स्लैब लगाया जा रहा था. स्लैब लगाने के दौरान ही हादसा हुआ है. प्रत्यक्षदर्शियों से मिली जानकारी के अनुसार, मरने वालों व घायलों की संख्या बढ़ सकती है. अभी कई लोग मलबे के नीचे दबे हुए हैं. मलबा को हटाने का काम तेजी से चल रहा है.
हालांकि घटना को लेकर अभी तक आधिकारिक जानकारी नहीं दी गयी है. मालदा के एसपी अालोक राजोरिया से कई बार संपर्क करने की कोशिश की गयी, लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी. गौरतलब है कि इस ब्रिज का निर्माण आरकेइसी कंपनी द्वारा किया जा रहा है.
560 करोड़ की लागत से गंगा नदी पर यह ब्रिज बन रहा है.उधर, हादसे को लेकर राज्य में राजनीति भी शुरू हो गयी है. तृणमूल कांग्रेस ने केंद्र सरकार और प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया है. तृणमूल कांग्रेस के मालदा जिला कार्यकारी अध्यक्ष बाबला सरकार ने कहा है कि जो लोग पुल निर्माण में शामिल हैं उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए.
उन्होंने मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना जताते हुए मुआवजे की मांग की.
मालदा के एएसपी ने की दो के मरने की पुष्टि, सात लोग जख्मी, अंधेरे में राहत कार्य जारी
560 करोड़ की लागत से बन रहा है पुल
साढ़े तीन किलोमीटर लंबा होगा ब्रिज
गंगा नदी पर पिलर का निर्माण हो चुका है
इस घटना में दो लोगों का शव निकाला जा चुका है. 7-10 लोग दबे होने की आशंका है. अंधेरे के बावजूद राहत कार्य चल रहा है. घायलों को मालदा मेडिकल कॉलेज में भरती कराया गया है.
दीपक सरकार, एडिशनल एसपी, मालदा
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें