1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. calcutta
  5. indian railways and govt of west bengal may announce to run 200 local trains on 5 november these points discussed in meeting kolkata local train start date mtj

200 से ज्यादा लोकल ट्रेनें चलाने का आज हो सकता है एलान, इन मुद्दों पर रेलवे और सरकार के बीच बनी सहमति

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Indian Railways, IRCTC News, West Bengal, Local Trains: बंगाल में चलेंगी 200 लोकल ट्रेनें, आज हो सकता है एलान, इन मुद्दों पर रेलवे और सरकार के बीच बनी सहमति.
Indian Railways, IRCTC News, West Bengal, Local Trains: बंगाल में चलेंगी 200 लोकल ट्रेनें, आज हो सकता है एलान, इन मुद्दों पर रेलवे और सरकार के बीच बनी सहमति.

Indian Railways, IRCTC News, Kolkata Local Trains: कोलकाता (अमर शक्ति) : पश्चिम बंगाल में 200 से ज्यादा लोकल ट्रेनों को चलाने की गुरुवार (5 नवंबर, 2020) को बड़ी घोषणा हो सकती है. उपनगरीय ट्रेनों को चलाने के लिए राज्य सरकार व रेलवे मिलकर मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) पर काम कर रही है. एसओपी बनाने को लेकर बुधवार को पश्चिम बंगाल सरकार और रेलवे के अधिकारियों के बीच बैठक हुई.

राज्य सचिवालय सूत्रों के अनुसार, बैठक में राज्य सरकार ने रेलवे से ऑफिस टाइम में 200 से अधिक लोकल ट्रेनें चलाने का प्रस्ताव दिया है. बाकी समय कितने ट्रेनें चलेंगी, इस पर निर्णय रेलवे लेगा. जानकारी के अनुसार, सुबह और शाम को ज्यादा ट्रेनें चलायी जायेंगी. दोपहर को अपेक्षाकृत कम ट्रेनें चलायी जायेंगी. हालांकि, इसकी अंतिम घोषणा गुरुवार को होगी.

इससे पहले राज्य के मुख्य सचिव ने सोमवार को पूर्व रेलवे और दक्षिण पूर्व रेलवे के अधिकारियों के साथ बैठक की थी. उसके बाद लोकल ट्रेनें चलाने की अनुमति दे दी गयी थी. इसी को ध्यान में रखते हुए बुधवार को राज्य सरकार के गृह सचिव एचके द्विवेदी ने पूर्व और दक्षिण पूर्व रेलवे के अधिकारियों के साथ बैठक की.

वर्तमान में कोलकाता और उसके आसपास के जिलों से कितने लोग काम करने के लिए निरंतर कोलकाता आ रहे हैं, उनका आंकड़ा निकाला जा रहा है. उसके आधार पर ही ट्रेनें चलाने का निर्णय लिया जायेगा. ऑफिस टाइम के अलावा अन्य समय में कितनी ट्रेनें चलेंगी, इसे लेकर रेलवे समीक्षा कर रही है.

किस प्रकार से स्टेशन पर यात्रियों को प्रवेश करने दिया जायेगा. रेलवे के पास कितने आरपीएफ जवान हैं, किस प्रकार से सुरक्षा-व्यवस्था की जायेगी. राज्य पुलिस द्वारा किस प्रकार से मदद की जायेगी, इसे लेकर बैठक में चर्चा की गयी. साथ ही यात्रियों को जागरूक करने के लिए स्टेशनों पर प्रचार अभियान भी चलाया जायेगा.

50 प्रतिशत यात्रियों के साथ ही चलेंगी ट्रेनें

राज्य सरकार व रेलवे दोनों ने ही बैठक में स्पष्ट कर दिया है कि कोविड-19 के असर को देखते हुए स्वास्थ्य संबंधी सुरक्षा से किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जायेगा. ट्रेनों में फिजिकल डिस्टैंसिंग का पालन हर हाल में सुनिश्चित करना होगा. एक लोकल ट्रेन में 1,200 यात्रियों के लिए बैठक की सीट होती है, प्रत्येक ट्रेन में 50 प्रतिशत अर्थात् 600 यात्रियों को ही चढ़ने की अनुमति दी जायेगी. इस बारे में 5 नवंबर को फिर बैठक होगी, जिसके बाद यात्रियों की सुरक्षा, ट्रेनों की संख्या व यात्रियों की संख्या को लेकर प्लान की रूपरेखा तय होगी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें