1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. bengal chunav 2021 fear of coronavirus in bengal election as 20 observers found corona positive said election commission pwn

Bengal Chunav 2021: बंगाल चुनाव में कोरोना का खतरा, 20 पर्यवेक्षक पाये गये कोरोना पॉजिटिव

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बंगाल चुनाव में कोरोना का खतरा, 20 पर्यवेक्षक पाये गये कोरोना पॉजिटिव
बंगाल चुनाव में कोरोना का खतरा, 20 पर्यवेक्षक पाये गये कोरोना पॉजिटिव
Prabhat Khabar

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में कोरोना का खतरा मंडराने लगा है. देश के अन्य राज्यों की तरह पश्चिम बंगाल में भी कोरोना संक्रमण के नये मामलों में तेजी आयी है. चुनाव आयोग ने बताया कि पश्चिम बंगाल में चुनावी कार्य में लगे 20 से अधिक पर्यवेक्षक कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं. आयोग की तरफ से यह जानकारी ऐसे समय में आयी है जब राज्य में लगातार तीसरे दिन कोरोना संक्रमण के एक हजार से अधिक मामले दर्ज किये गये हैं.

चुनाव आयोग के सूत्रों से मिली खबर के अनुसार जो 20 पर्यवेक्षको कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं उनमें से कुछ लोगों की कोरोना जांच रिपोर्ट पहले ही पॉजिटिव आयी थी. पर बाकी ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने मतदान प्रक्रिया में भाग लिया. फिलहाल रिपोर्ट आने के बाद सभी को कोरेंटिन कर दिया गया है.

वहीं राज्य में कोरोना संक्रमण की बात करें तो एक बार से संक्रमण के नये मामलों में तेजी आयी है. शनिवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक 24 घंटे में 1736 संक्रमण के नये मामले सामने आये हैं. इसके साथ ही राज्य में कोरोना संक्रमण से पिछले 24 घंटे में पांच लोगों की मौत भी हुई है. मरनेवालों में हुगली, कोलकाता, और उत्तर 24 परगना के मरीज शामिल हैं. इसके साथ ही राज्य में मृतकों की संख्या 10,340 हो गयी है.

स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, 24 घंटे में कुल 26,114 नमूनों का परीक्षण किया गया. डॉक्टरों ने कहा है कि मामलों में मौजूदा वृद्धि चिंताजनक है और अगर समय रहते इससे निबटने के लिए जरूरी कार्रवाई नहीं की जाती है तो हालात और भी बिगड़ सकते हैं.

बता दे की कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए चुनाव आयोग ने पोलिगं बूथ पर विशेष निर्देश दिया है. आयोग ने कहा है कि सभी पोलिंग बूथों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाये. साथ ही बूथों पर थर्मल स्कैनिंग, सैनिटाइजेशन और मास्क के उपयोग जैसे बुनियादी कदमों को अनिवार्य किया है.

महामारी को देखते हुए अब एक पोलिंग बूथ पर मतदाताओं की संख्या कम करने के लिए कहा गया है. एक मतदान केंद्र में अधिकतम मतदाताओं की संख्या 1,500 से 1,000 तक नीचे ला दी है और मतदान केंद्रों की संख्या में वृद्धि की है. हालांकि, स्वास्थ्य अधिकारियों को संदेह है कि नियमित सभाओं और राजनीतिक प्रचार के कारण कोविद के मामले और बढ़ेंगे. उन्होंने जिला प्रशासन और चुनाव आयोग को सुरक्षा प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने का निर्देश दिया है.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें