17.1 C
Ranchi
Wednesday, February 28, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

UP Weather AQI Today: यूपी में हवा की सेहत बिगड़ी, दुनिया के 100 प्रदूषित शहरों में ग्रेटर नोएडा 9वें स्थान पर

यूपी में गुरुवार सुबह प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित अन्य हिस्सों में बारिश हुई. हालांकि फिर भी हवा की सेहत में सुधार देखने को नहीं मिला है. हवा में प्रदूषण का स्तर अभी भी बना हुआ है. गुरुवार सुबह यूपी का ग्रेटर नोएडा सबसे प्रदूषित शहर था. यह दुनिया के 100 प्रदूषित शहरों में 9वें स्थान पर है.

UP Weather AQI Today: यूपी के मौसम में ठंड का असर बढ़ने लगा है. लखनऊ सहित अन्य हिस्सों में गुरुवार सुबह बारिश होने से तापमान में इसका प्रभाव देखने को मिला. मौसम विभाग के अफसरों के मुताबिक अधिकतम तापमान के साथ ही न्यूनतम तापमान में भी आने वाले दिनों में कमी दर्ज होने के आसार हैं. अगले चौबीस से अड़तालीस घंटे में अधिकतम तापमान 24 डिग्री और न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस तक आने की उम्मीद है. प्रदेश में कई जगह ठंडी हवाएं भी चलेंगी, जिससे सर्दी में इजाफा होगा. कुछ जगहों पर आसमान में घने बादल छाए रहने की संभावना है. आने वाले दिनों में लगातार तापमान में कमी आने से ठंड बढ़ेगी. इस बीच यूपी की हवा में सुधार नहीं हो रहा है. यहां के वायु गुणवत्ता सुंचकांक (AQI) में काफी इजाफा हो रहा है.

देश में ग्रेटर नोएडा की हवा सबसे अधिक खराब

यूपी के मौसम में हवा की स्थिति लगातार खराब बनी हुई है. करीब एक महीने से हवा में कोई सुधार नहीं हो रहा है. गुरुवार सुबह यूपी का ग्रेटर नोएडा सबसे प्रदूषित शहर था. यह दुनिया के 100 प्रदूषित शहरों में 9वें स्थान पर है. यहां का AQI 504 है, जबकि गाजियाबाद का AQI 444, नोएडा का AQI 382, मेरठ का AQI 340, हापुड़ का AQI 314, मुजफ्फरनगर का AQI 246, बुलंदशहर का AQI 240 और यूपी की राजधानी लखनऊ का AQI 239 है. यह काफी चिंता की बात है.

Also Read: UP Weather Update: लखनऊ में बारिश से सुबह की शुरुआत, कई जिलों में बादलों के बरसने से बदलेगा मौसम का मिजाज
बरेली का AQI रात में 303 तक पहुंचा, सुबह गिरावट दर्ज

बरेली का AQI बुधवार रात 303 तक आ गया था. गुरुवार सुबह इसमें कुछ सुधार देखने को मिला और सुबह 7:30 बजे AQI घटकर 128 तक आ गया था. हालांकि, यह भी बहुत अच्छा नहीं है. शहर के सिविल लाइंस का AQI सबसे अधिक है. कुतुबखाना ओवर ब्रिज निर्माण के चलते यहां के AQI में सुधार नहीं हो रहा है. गुरुवार सुबह AQI 143 था. सुभाष नगर का 123, और राजेंद्र नगर का AQI 117 है. सभी जगह AQI में उतार चढ़ाव का सिलसिला जारी है. बरेली के खराब AQI के चलते लोगों का सांस लेना मुश्किल हो गया है. जिसके चलते बीमारियों में भी इजाफा हुआ है. इस बीच बरेली का अधिकतम तापमान 25, तो वहीं न्यूनतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस पर आ गया है. इसमें आने वाले दिनों में और कमी आने की उम्मीद है.

बारिश के बावजूद हवा की सेहत में नहीं हुआ सुधार

यूपी के कई शहरों में बारिश का मौसम बना हुआ है. गुरुवार सुबह प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित अन्य हिस्सों में बारिश हुई. हालांकि फिर भी हवा की सेहत में सुधार देखने को नहीं मिला है. हवा में प्रदूषण का स्तर अभी भी बना हुआ है. इंसान की सेहत के लिहाज से AQI की बात करें तो 0 से 50 AQI सबसे बेहतर है. 51-100 AQI भी ठीक माना जाता है. लेकिन, संवेदनशील लोगों को सांस लेने में हल्की दिक्कत शुरू हो जाती है. 101 AQi ठीक नहीं होता है. 101 से 200 AQI की स्थिति में फेफड़ा, दिल और अस्थमा मरीजों को सांस में दिक्कत होती है. यूपी के कई शहरों सहित बरेली का AQI 300 के पार है. यह काफी चिंतनीय है. वहीं हवा में ऑक्सीजन की 19.5 मात्रा होनी चाहिए. इससे कम ऑक्सीजन इंसान की सेहत के लिए नुकसानदेह है. प्रदूषण की स्थिति में ऑक्सीजन का स्तर गिरने से सेहत पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने लगता है.

मौसम के बदले अंदाज के बीच मच्छरों ने उड़ाई नींद, डेंगू के मामलों में इजाफा

मौसम के बदले अंदाज के बीच प्रदेश में मच्छरों का प्रकोप भी बढ़ गया है. नगर निगमों की तरफ से शहरों में मच्छरों को लेकर फॉगिंग नहीं कराई गई. आरोप है कि यह सिर्फ सरकारी अफसरों के ऑफिस और बंगलों तक सीमित रह गई है. प्रदेश के सभी प्रमुख शहर के मोहल्लों और कालोनियों में फॉगिंग नहीं होने के चलते मच्छर जनित रोगों बढ़े हैं. डेंगू के मामलों में इजाफा देखने को मिल रहा है. इसके चलते अस्पतालों में मरीजों की काफी भीड़ है. डेंगू के बढ़ते मामलों को लेकर विधानसभा में बुधवार को विपक्ष ने सरकार पर जमकर हमला भी बोला.

रिपोर्ट- मुहम्मद साजिद

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें