18.1 C
Ranchi
Tuesday, February 27, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

कानपुर: सीएसजेएमयू की परीक्षाएं तीन पालियों में 9 दिसंबर से होंगी शुरू, रविवार-छुट्टियों में भी होंगे एग्जाम

महाविद्यालय विकास परिषद के निदेशक प्रो. आरके द्विवेदी ने बताया कि 9 दिसंबर से विषम परीक्षाएं शुरू हो रही हैं. 15 जनवरी 2024 से अगले सेमेस्टर की पढ़ाई शुरू हो जाएगी. कहा गया है कि अनुदानित महाविद्यालयों में स्ववित्तपोषित कॉलेजों की परीक्षा नहीं कराई जाएं.

Kanpur News: छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालयों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत संचालित स्नातक व परास्नातक की विषम सेमेस्टर परीक्षाएं नौ दिसंबर से शुरू हो रही हैं. परीक्षाएं जल्द खत्म हों, इसलिए रविवार व छुट्टियों में भी पेपर होंगे. पहली पाली सुबह 8 से 10, दूसरी पाली सुबह 11 से एक और तीसरी पाली दोपहर दो से चार बजे के बीच होगी. विश्वविद्यालय प्रशासन ने 31 दिसंबर से छह जनवरी के बीच शीत अवकाश की घोषणा की है. विश्वविद्यालय से संबद्ध कानपुर नगर, कानपुर देहात, उन्नाव, फर्रुखाबाद, कन्नौज, औरैया व इटावा में संचालित 600 से अधिक महाविद्यालयों की बीए, बीएससी, बीकॉम, एमए, एमएससी, एमकॉम, बीसीए व बीबीए की विषम सेमेस्टर की परीक्षाएं शुरू हो रही हैं.

40 मिनट के अंतराल में होगी परीक्षा

कानपुर विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (कूटा) के अध्यक्ष प्रो. बीडी पांडेय, कानपुर विश्वविद्यालय प्राचार्य परिषद (कूपा) के संरक्षक प्रो. विवेक द्विवेदी व महामंत्री प्रो. वीके कटियार, कानपुर विश्वविद्यालय स्ववित्तपोषित शिक्षक संघ के डॉ. कमलेश यादव व डॉ. अखंड प्रताप सिंह और उप्र स्ववित्तपोषित कॉलेज एसोसिएशन के विनय त्रिवेदी व डॉ. बृजेश भदौरिया की ओर से आपत्ति आई. इसमें सर्दी के मौसम में सुबह सात बजे से परीक्षा और दो पेपर के बीच सिर्फ 40 मिनट के अंतर को लेकर आपत्ति जताई गई. विवि प्रशासन ने समस्या को समझते हुए आपात बैठक बुलाई है. सीडीसी निदेशक प्रो. आरके द्विवेदी ने बताया कि परीक्षा समिति को लेकर बैठक होगी.इसके बाद ही समस्या का समाधान होगा. वहीं, महाविद्यालय विकास परिषद के निदेशक प्रो. आरके द्विवेदी ने बताया कि 9 दिसंबर से विषम परीक्षाएं शुरू हो रही हैं. 15 जनवरी 2024 से अगले सेमेस्टर की पढ़ाई शुरू हो जाएगी.

Also Read: कानपुर: थाईलैंड मॉडल पर मंधना-शुक्लागंज तक बनेगी फोरलेन सड़क, टिकाऊ होने के साथ कम घिसेंगे वाहनों के टायर
अनुदानित महाविद्यालय में नहीं करवाएं परीक्षा

अनुदानित महाविद्यालयों में स्ववित्तपोषित कॉलेजों की परीक्षा न कराई जाएं. जरूरत पड़े तो लखनऊ विश्वविद्यालय की तर्ज पर स्वकेंद्र प्रणाली से परीक्षा हों. यह प्रस्ताव कानपुर विश्वविद्यालय प्राचार्य परिषद (कूपा) में सभी सदस्यों ने मंथन के बाद तैयार किया है. यह प्रस्ताव कूपा की ओर से सीएसजेएमयू के कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक को सौंपा गया.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें