1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. uttar pradesh pratapgarh road accident 14 persons including six children killed in major accident at pratapgarh collision with bolero and truck cm yogi adityanath expresses grief take action upl

Pratapgarh Road Accident: मातम में बदली शादी की खुशियां, प्रतापगढ़ में बोलेरो ट्रक से टकराई, 14 बारातियों की मौत, मृतकों में 6 बच्चे

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बारातियों से भरी बोलेरो खड़े ट्रक से टकरा गई. हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई.
बारातियों से भरी बोलेरो खड़े ट्रक से टकरा गई. हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई.
Prabhat khabar

Pratapgarh Road Accident: उत्तर प्रदेश (Uttar pradesh) के प्रतापगढ़ में गुरुवार की देर रात एक दर्दनाक सड़क हादसे के बाद एक गांव में शादी की खुशियां मातम में बदल गई. बारातियों से भरी बोलेरो खड़े ट्रक से टकरा गई. हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई. मृतकों में पुरुष, महिलाएं और 6 बच्चे शामिल हैं. इस भीषण सड़क हादसे पर सीएम योगी आदित्यनाथ (CM yogi)) ने दुख जताया है.

मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार सीएम योगी ने वरिष्ठ अधिकारियों को मौके पर पहुंचने के निर्देश दिए हैं. सीएम योगी ने अफसरों से पीड़ितों को हर संभव सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए हैं.उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों को पीड़ितों की हर संभव मदद करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है

यह भीषण हादसा गुरुवार रात करीब 2 बजे हुआ. प्रतापगढ़ जिले के कुंडा थाना क्षेत्र के जिगरापुर चौसा से गुरुवार देर रात नवाबगंज के शेखवापुर में बारात गई थी. बताया जा रहा है कि रात में करीब दो बजे कई बाराती बोलेरो से लौट रहे थे. मानिकपुर थाना क्षेत्र के देशराज के इनारा के पास बोलेरो सड़क पर खड़े ट्रक से टकरा गई.

हादसा इतना भयंकर था कि मौके पर ही बोलेरो सवार 14 लोगों की मौत हो गई. एएनआई के मुताबिक, मरनेवालों में छह बच्चे भी शामिल हैं. सूचना मिलते ही एसपी अनुराग आर्य मौके पर पहुंचे. पुलिस ने शवों को कब्जे में लिया है. मौके पर पहुंची पुलिस ने बोलेरो गाड़ी को गैस कटर से काटकर सभी 14 लोगों के शव को बाहर निकाला. पुलिस को रेसक्यू करने में दो घंटे से ज्य़ादा का समय लग गया

दो -दो सगे भाई इस भीषण दुर्घटना के शिकार

प्रतापगढ़ सड़क हादसे में दो-दो सगे भाई इस भीषण दुर्घटना के शिकार हो गए. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस गांव के श्री नाथ के बेटे दिनेश और नान भइया भी बोलेरो से लौट रहे थे. लौटते समय दिनेश ने घर वालों को फोन करके आने की सूचना भी दी थी कि वह कुछ ही देर में घर पहुंच रहा है. मगर कौन जानता था कि यह उनकी आखिरी बातचीत है. ऐसा ही इसी गांव के रहने वाले दिनेश कुमार के बेटे पवन और अमन के साथ भी हुआ, दोनों इस हादसे में मौत के गाल में समा गए. हादसे के बाद से गांव में कोहराम मचा हुआ है.

posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें