1. home Home
  2. state
  3. up
  4. up news akhara parishad president mahant narendra giri passes away acy

Narendra Giri: अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत, फंदे से झूलता मिला शव, CBI जांच की मांग

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी है. उनका शव फांसी के फंदे से झूलता हुआ मिला है. मौत की वजह का अभी तक पता नहीं चल पाया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
महंत नरेंद्र गिरी, अध्यक्ष, अखाड़ा परिषद
महंत नरेंद्र गिरी, अध्यक्ष, अखाड़ा परिषद
फाइल फोटो

Narendra Giri: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि का निधन हो गया है. उनकी मौत की वजह का अब तक पता नहीं चला है. उनका शव अल्लापुर में बाघम्बरी गद्दी मठ के कमरे में फंदे से लटका मिला है. खबर मिलते ही पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए. पुलिस को मौके से सुसाइड नोट मिला है. पुलिस का कहना है कि कमरा अंदर से बंद था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महंत नरेंद्र गिरि के निधन पर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि आध्यात्मिक परंपराओं के प्रति समर्पित रहते हुए महंत नरेंद्र गिरि ने संत समाज की अनेक धाराओं को एक साथ जोड़ने में बड़ी भूमिका निभाई.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि जी का ब्रह्मलीन होना आध्यात्मिक जगत की अपूरणीय क्षति है. प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत पुण्यात्मा को अपने श्री चरणों में स्थान तथा शोकाकुल अनुयायियों को यह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें. ॐ शांति!

महंत नरेंद्र गिरि राममंदिर आंदोलन से जुड़े हुए थे. उन्होंने मंदिर आंदोलन में बड़ी भूमिका निभाई थी. महंत नरेंद्र गिरि को अक्टूबर 2019 में हुई 13 अखाड़ों की बैठक में दोबारा अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद का अध्यक्ष चुना गया था. हरिद्वार में हुए कुंभ में महंत नरेंद्र गिरि कोरोना संक्रमित भी हो गए थे.

अखिलेश यादव ने व्यक्त किया शोक

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने महंत नरेंद्र गिरि के निधन पर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने कहा कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष पूज्य नरेंद्र गिरी जी का निधन, अपूरणीय क्षति! ईश्वर पुण्य आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान व उनके अनुयायियों को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करें. भावभीनी श्रद्धांजलि.

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि पूज्य महंत नरेंद्र गिरि जी महाराज ने ख़ुदकुशी की होगी, स्तब्ध हूं. निःशब्द हूं. आहत हूं. मैं बचपन से उन्हें जानता था. वे साहस की प्रतिमूर्ति थे. वे मेरे संरक्षक थे. मैंने कल ही सुबह 19 सितंबर को आशीर्वाद प्राप्त किया था. उस समय वह बहुत सामान्य थे. बहुत ही दुखद. असहनीय समाचार.

उन्होंने कहा, पूज्य महाराज जी ने देश धर्म संस्कृति के लिए जो योगदान दिया है उसे भुलाया नहीं जा सकता है, अश्रुपूर्ण विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं. भगवान से प्रार्थना है कि सभी भक्तों शिष्यों को दुख सहने की शक्ति दें. भगवान पुण्यात्मा को चरणों में स्थान दें !! ॐ शान्ति शान्ति शान्ति

महंत नरेंद्र गिरि मौत मामले पर आईजी प्रयागराज केपी सिंह ने कहा, बिना जांच के कुछ नहीं कह पाऊंगा. हमें आश्रम से फोन आया कि महाराज ने पंखे से लटक कर फांसी लगा ली है. प्रथम दृष्टया यह आत्महत्या का मामला है. मैं आप सभी से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं.

केपी सिंह ने कहा, हमें एक सुसाइड नोट भी मिला है जिसमें उन्होंने उल्लेख किया है कि उन्होंने आत्महत्या की है. वे अपने एक शिष्य से नाखुश थे. हम मामले की जांच कर रहे हैं. फोरेंसिक जांच के बाद हम सुसाइड नोट जारी करेंगे.

महंत नरेंद्र गिरि की मौत की हो सीबीआई जांच 

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद और यूपी प्रभारी संजय सिंह ने भी महंत नरेंद्र गिरि के निधन पर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने ट्वीट कर मामले की सीबीआई जांच की मांग की.

Posted by : Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें