1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. relief can be given in three days from the heat imd report nrj

तीन दिन में बदल सकता है मौसम का मिजाज, कड़ी धूप ने जीना किया मुहाल, जानें सेहत का कैसे रखें खास ख्याल?

राजधानी में तापमान 43 डिग्री सेल्सियस पार पहुंच गया है. दरअसल, मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 25 से 35 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवा चलने की चेतावनी जारी की है. ईरान के आसपास के पश्चिमी विक्षोभ का असर 21 अप्रैल तक प्रदेश के पश्चिमी हिस्से में देखा जा सकता है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
कड़ी धूप के चलते लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.
कड़ी धूप के चलते लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.
Prabhat Khabar

Lucknow/Varanasi News: यूपी में अगले तीन दिन में मौसम का मिजाज बदल जाएगा. 22 अप्रैल से तेज हवा के साथ बारिश के आसार बताए जा रहे हैं. प्रदेशभर में लू के साथ ही भीषण गर्मी से लोग परेशान हैं. ऐसे में यह खबर राहत दे सकती है.

धूप के बीच पानी बना सहारा.
धूप के बीच पानी बना सहारा.
Prabhat Khabar

22 अप्रैल को हो सकती है बूंदाबांदी 

राजधानी में तापमान 43 डिग्री सेल्सियस पार पहुंच गया है. दरअसल, मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 25 से 35 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवा चलने की चेतावनी जारी की है. ईरान के आसपास के पश्चिमी विक्षोभ का असर 21 अप्रैल तक प्रदेश के पश्चिमी हिस्से में देखा जा सकता है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 21, 22 और 23 अप्रैल को हल्की बारिश की संभावना है जबकि पूर्वी उत्तर प्रदेश में 22 अप्रैल को बूंदाबांदी हो सकती है.

क्या कहते हैं स्किन स्पेशलिस्ट?

भीषड़ गर्मी में तेज धूप व उमस अक्सर हमारी त्वचा की बनी हुई सेहत और सौंदर्य को बिगाड़ देती है. प्रतिदिन की दिनचर्या की वजह से हम तेज धूप से बचने के लिए घरों में भी नहीं बैठ सकते हैं. इसलिए तेज धूप व तपिश के बीच भाग-दौड़ के दौरान बिगड़े नहीं इसके लिए हम सभी को अपनी त्वचा और डायट और बढ़ती गर्मी के बीच विशेष ध्यान देने की जरूरत है. इसको लेकर वाराणसी के स्किन स्पेशलिस्ट डॉ एसएन दीक्षित ने कुछ सुझाव दिए हैं.

उमस का स्तर बढ़ रहा

गर्मी के मौसम में त्वचा से जुड़ी दिक्कतें बढ़ जाती हैं. खासतौर पर एक्ने और पिंपल्स व त्वचा के झुलसने जैसी दिक्कतें आम हो जाती हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि मौसम में उमस का स्तर बढ़ता है, जिससे पसीना ज़्यादा निकलता है. साथ ही, झुलसाने वाली धूप, प्रदूषण, धूल, मिट्टी और खाने में गर्म तासीर वाली चीजों के सेवन से भी यह समस्या बढ़ती है. यही वजह है कि हमें इस गर्म मौसम में स्किन का ख़ास ख्याल रखने की ज़रूरत होती है. सन स्क्रीन से लेकर सही फेश वॉश और मॉइश्चराइज़र लगाना बेहद ज़रूरी हो जाता है. सीनियर डरमोलॉजिस्ट डॉ एसएन दीक्षित ने बढ़ती गर्मी में लोगों की स्किन पर कितना हानिकारक प्रभाव पड़ रहा है.

कड़ी धूप से ऐसे करें बचाव...

इस पर विस्तार से चर्चा करते हुए बताया कि धूप के तेज प्रकोप के कारण लोगों की स्किन पर लाल दाने, समेत झुलस जाने जैसे गम्भीर प्रभाव देखने को मिल रहे हैं. इससे स्किन में तेजी से जलन भी पैदा हो रही हैं. इसके उपाय स्वरूप लोगों को दोपहर में धूप से बचकर रहना चाहिए. बाहर कम ही निकलने का प्रयास करना चाहिए. अगर फिर भी कोई आवश्यक कार्य है तो चेहरे को कॉटन कपड़े से ढंककर निकलना चाहिए. सनस्क्रीम लोशन लगाना चाहिए. अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए. हरी साग-सब्जी का सेवन करना चाहिए. तेज धूप के कारण स्किन के मरीजों की संख्या दोगुनी हो गयी है. घरेलू उपाय भी कुछ आजमाए जा सकते हैं. जैसे कि जलन होने पर चेहरे को तुरंत ठंडे पानी से धोएं, जलन होने पर नारियल का तेल लगाएं.

रिपोर्ट : विपिन सिंह

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें